Mann Ki Baat: प्रधानमंत्री ने की स्टार्टअप, स्वच्छता और योग दिवस पर मन की बात, जानें- क्या कहा

Mann Ki Baat पीएम मोदी ने मन की बात कार्यक्रम में कई मुद्दों पर बात की। उन्होंने तीर्थ स्थान स्टार्टअप और योग दिवस पर अपनी बात रखी। पीएम ने लोगों से अपील की कि सेल्फ हेल्प ग्रुप को बढ़ावा दें। इससे आत्मनिर्भर भारत को मजबूती मिलेगी।

Sanjeev TiwariPublish: Sun, 29 May 2022 08:13 AM (IST)Updated: Sun, 29 May 2022 12:14 PM (IST)
Mann Ki Baat: प्रधानमंत्री ने की स्टार्टअप, स्वच्छता और योग दिवस पर मन की बात, जानें- क्या कहा

नई दिल्ली, एजेंसी। पीएम मोदी ने रविवार को मन की बात कार्यक्रम के तहत देश को संबोधित किया। यह मन की बात कार्यक्रम का 89वां एपिसोड था। कार्यक्रम में प्रधानमंत्री ने समाज से जुड़े कई मुद्दों पर अपनी राय रखी। उन्होंने देश में तेजी से विकसित हो रही स्टार्टअप इंडस्ट्री, चारधाम यात्रा के दौरान गंदगी और योग दिवस पर मन की बात की। पीएम मोदी ने कहा कि महिला सेल्फ हेल्प ग्रुप बेहतरीन काम कर रही हैं। वह तंजावुर डॉल समेत खिलौने और आर्टिफिशियल ज्वेलरी बना रही हैं। इससे महिलाओं का सशक्तीकरण हो रहा है। पीएम ने लोगों से अपील की कि सेल्फ हेल्प ग्रुप को बढ़ावा दें। इससे आत्मनिर्भर भारत को मजबूती मिलेगी।

देश में बढ़ रही स्टार्टअप की संख्या

प्रधानमंत्री ने कहा, देश में स्टार्टअप की संख्या लगातार बढ़ रही है। खास बात यह है कि वैश्विक महामारी के समय में भी देश में स्टार्टअप की संख्या बढ़ी है। देश में यूनिकॉर्न की संख्या 100 के पार जा चुकी है। मुझे इस बात का गर्व है कि भारत में बहुत से ऐसे मेंटर्स हैं, जिन्होंने स्टार्टअप को आगे बढ़ाने के लिए खुद को समर्पित कर दिया है।

इनोवेटिव आइडिया से बना सकते हैं वेल्थ 

पीएम मोदी ने कहा, स्टार्ट अप की दुनिया नए भारत की ताकत को दिखा रही है। आज भारत का स्टार्टअप सिर्फ बड़े शहरों तक ही सीमित नहीं है। छोटे-छोटे शहरों और कस्बों से भी लोग सामने आ रहे हें। इससे पता चलता है कि भारत में जिनके पास इनोवेटिव आइडिया है, वे वेल्थ बना सकते हैं।

विविधता एक राष्ट्र के रूप में हमें करती है अधिक सशक्त

मन की बात कार्यक्रम में पीएम ने कहा, हमारे देश में कई सारी भाषाओं, लिपियाें और बोलियों का समृद्ध खजाना है। अलग-अलग क्षेत्रों में अलग-अलग पहनावा, खानपान और संस्कृति, यही हमारी पहचान है। ये विविधता एक राष्ट्र के रूप में हमें अधिक सशक्त करती है और एकजुट रखती है।

जापान के दौरे का किया जिक्र

पीएम ने जापान दौरे को लेकर कहा कि जापान के लोगों में भारत के प्रति गजब का लगाव है। उन्होंने आर्ट डायरेक्टर हिरोशिक का उदाहरण दिया। कहा कि उन्होंने महाभारत प्रोजेक्ट शुरू किया था। यह 9 साल से लगातार चल रहा है।

रामभूपाल ने बेटियों की शिक्षा के लिए दान किए 25 लाख

प्रधानमंत्री ने कहा कि आंध्रप्रदेश के रामभूपाल रेड्डी का जिक्र किया। कहा कि उन्होंने रिटायरमेंट के बाद अपनी सारी कमाई बेटियों की शिक्षा के लिए दान कर दी। 100 बेटियों की शिक्षा के लिए सुकन्या समृद्धि योजना के तहत खाते खुलवाए और अपने 25 लाख रुपये जमा करवा दिए।

आगरा के कचौरे गांव के कुंवर सिंह का किया जिक्र

मन की बात में पीएम मोदी ने आगरा के कचौरे गांव का उदाहरण देते हुए कहा कि यहां मीठे पानी की किल्लत थी। गांव के किसान कुंवर सिंह को गांव से 6 किलोमीटर दूर मीठा पानी मिल गया। उन्होंने इस पानी को गांव तक ले जाने की ठानी, लेकिन इमसें 32 लाख रुपये का खर्च आ रहा था। कुंवर सिंह के छोटे भाई श्याम सिंह जब सेना से रिटायर होकर आए तो इसकी जानकारी मिली। लिहाजा उन्होंने रिटायरेंट पर मिली सारी धनराशि इस काम में लगा दी और गांव तक पाइप लाइन बिछाकर गांव वालों के लिए मीठा पानी पहुंचाया।

तीर्थ क्षेत्रों की गरिमा बनाए रखने की जरूरत

प्रधानमंत्री ने कहा हमें तीर्थ स्थलों की गरिमा बनाए रखने की जरूरत है। इस समय में उत्तराखंड के चार धाम की पवित्र यात्रा चल रही है। यहां हर दिन हजारों की संख्या में श्रद्धालु पहुंच रहे हैं। लेकिन मैंने देखा है कि श्रद्धालु केदारनाथ में कुछ यात्रियों द्वारा फैलाई जा रही गंदगी की वजह से दुखी हैं। सोशल मीडिया पर कई लोगों ने अपनी बात रखी है। हम पवित्र यात्रा में जाएं और वहां गंदगी का ढेर हो, यह ठीक नहीं। सुचिता, साफ-सफाई, एक पवित्र वातावरण को हमें कभी भूलना नहीं चाहिए। उसे जरूर बनाए रखें।

योग दिवस के लिए चुनें खास जगह

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा हम 21 जून को अंतरराष्ट्रीय योग दिवस मनाने वाले हैं। इस बार योग दिवस की थीम है, "मानवता के लिए योग"। मैं आप सभी से योग दिवस उत्साह के साथ मनाने का आग्रह करता हूं। आप अभी से तैयारी शुरू कर दीजिए। हर किसी को योग दिवस से जोड़ने के लिए प्रेरित कीजिए। प्रधानमंत्री ने बताया अलग-अलग देशों में भातरीय मिशन वहां के स्थानीय समय के मुताबिक सूर्योदय के समय योग कार्यक्रम आयोजित करेंगे। एक देश के बाद दूसरे देश में यह कार्यक्रम शुरू होगा। पूरब से पश्चिम तक निरंतर यात्रा चलती रहेगी। पीएम ने कहा, इस बार योग दिवस मनाने के लिए आप अपने शहर, कस्बे या गांव की किसी ऐसी जगह को चुनें, जो सबसे खास हो।

विभिन्न विषयों को लेकर लोगों से बात करते हैं पीएम मोदी

आज मन की बात का 89वां संस्करण है। पीएम मोदी इस कार्यक्रम में विभिन्न विषयों को लेकर लोगों से बात करते हैं। हाल ही में प्रधानमंत्री मोदी ने पिछले महीने की मन की बात कड़ी पर आधारित एक पुस्तिका साझा की है जिसमें कार्यक्रम में चर्चा किए गए विषयों पर रोचक लेख शामिल हैं। प्रधानमंत्री ने ट्वीट किया कि मुझे अगले सप्ताह के मन की बात कार्यक्रम के लिए अनगिनत इनपुट प्राप्त होते रहे हैं। मुझे बड़ी संख्या में युवाओं को अपने विचार साझा करते हुए देखकर प्रसन्नता हुई। यहां पिछले महीने की कड़ी पर आधारित एक पुस्तिका है जिसमें चर्चा किए गए विषयों पर रोचक लेख शामिल हैं।

पीएम मोदी ने लोगों से मांगा था सुझाव

पीएम मोदी ने 29 मई, 2022 की 'मन की बात' के लिए विचार साझा करने के लिये सभी देशवासियों को आमंत्रित किया था। 13 मई के एक ट्वीट में प्रधानमंत्री ने कहा कि मैं आप सबको इस महीने की मन की बात के लिये अपने विचार साझा करने के लिये आमंत्रित करता हूं, जिसका प्रसारण 29 मई को होगा। मैं नमो एप्प और माय-गव पर आपकी टिप्पणियों की प्रतीक्षा करूंगा। आप 1800-11-7800 पर भी अपना संदेश रिकॉर्ड करवा सकते हैं।

Edited By Sanjeev Tiwari

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept