संसद का बजट सत्र : कोरोना के चलते लोकसभा और राज्यसभा का अलग अलग समय, जानें क्‍या होगा दोनों सदनों में कार्यवाही का वक्‍त

इस बार संसद के बजट सत्र में कोविड-19 प्रोटोकाल को फिर से लागू किया जाएगा। राज्यसभा की कार्यवाही सुबह नौ बजे से जबकि लोकसभा की कार्यवाही शाम चार बजे से शुरू होगी। नया कोविड-19 प्रोटोकाल दो फरवरी से लागू होगा।

Krishna Bihari SinghPublish: Mon, 24 Jan 2022 08:33 PM (IST)Updated: Tue, 25 Jan 2022 07:31 AM (IST)
संसद का बजट सत्र : कोरोना के चलते लोकसभा और राज्यसभा का अलग अलग समय, जानें क्‍या होगा दोनों सदनों में कार्यवाही का वक्‍त

नई दिल्ली, पीटीआइ। संसद का बजट सत्र 31 जनवरी से शुरू हो रहा है। कोरोना संक्रमण के मद्देनजर संसद के दोनों सदनों लोकसभा और राज्यसभा की बैठकों का समय अलग-अलग होगा। प्रतिदिन पांच-पांच घंटे कार्यवाही चलेगी। लोकसभा की तरफ से जारी बुलेटिन में बताया गया है कि एक फरवरी को बजट पेश करने के लिए संसद के निचले सदन की बैठक सुबह 11 बजे से शुरू होगी। उसके बाद बजट सत्र के पहले चरण में दो से 11 फरवरी तक लोकसभा की बैठक शाम चार बजे से रात नौ बजे तक चलेगी।

ऐसी होगी सदस्‍यों के बैठने की व्‍यवस्‍था 

संसद के निचले सदन की कार्यवाही के दौरान सदस्यों के बैठने की व्यवस्था लोकसभा और राज्यसभा के हाल के साथ ही दोनों के गलियारों में होगी, ताकि सदस्यों के बीच पर्याप्त दूरी बनी रहे। राज्यसभा की बैठक का अभी निश्चित समय का पता नहीं चला है। माना जा रहा है कि राज्यसभा की बैठक का समय सुबह नौ बजे से दोपहर दो बजे तक का हो सकता है।

आठ अप्रैल तक चलेगा पहला चरण 

बजट सत्र के पहले दिन यानी 31 जनवरी को राष्ट्रपति राम नाथ कोविन्द संसद के दोनों सदनों को संबोधित करेंगे। बजट सत्र का दूसरा चरण 14 मार्च से शुरू होगा जो आठ अप्रैल तक चलेगा। उसके समय को लेकर अभी कोई जानकारी नहीं मिली है। इस बार संसद के बजट सत्र (Parliament Budget session) में कोविड-19 प्रोटोकाल को फिर से लागू किया जाएगा।  

2020 के मानसून सत्र में भी अलग-अलग समय था

वर्ष 2020 में संसद के मानसून सत्र की पूरी बैठक कोरोना प्रोटोकाल के तहत हुई थी। उस समय सुबह के वक्त राज्यसभा और दोपहर बाद लोकसभा की बैठक होती थी। पिछले साल बजट सत्र के पहले चरण में भी यही प्रक्रिया अपनाई गई थी। बजट सत्र के दूसरे चरण और मानसून सत्र में दोनों सदनों की बैठकें सामान्य हो गई थीं, लेकिन सदस्यों के बीच दूरी बनाए रखने के लिए गलियारों में भी बैठने की व्यवस्था की गई थी।

एम वेंकैया नायडू कोरोना से संक्रमित

उल्‍लेखनीय है कि बजट सत्र पहले ही राज्यसभा के चेयरमैन एवं देश के उप राष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू कोरोना से संक्रमित हो गए हैं। यही नहीं संसद के 875 कर्मचारी भी कोरोना की चपेट में आ चुके हैं। उप राष्ट्रपति सचिवालय ने रविवार को ट्वीट कर बताया कि हैदराबाद में उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू को कोरोना संक्रमित पाया गया है। राज्‍यसभा के सभापति ने एक हफ्ते के लिए खुद को क्वारंटाइन कर लिया है।

राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री ने उपराष्ट्रपति नायडू से पूछी कुशलक्षेम

प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी और राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद सहित अन्य प्रमुख हस्तियों ने कोविड-19 से संक्रमित उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू से सोमवार को फोन पर बातचीत की और उनका कुशलक्षेम जाना। उपराष्ट्रपति सचिवालय के अधिकारियों की ओर से साझा की गई जानकारी के मुताबिक लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, गृह मंत्री अमित शाह, विभिन्न राज्यों के मुख्यमंत्रियों और राजनीतिक दलों के नेताओं ने उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू से बात की। नायडू पहले भी कोरोना से संक्रमित हो चुके हैं।

Edited By Krishna Bihari Singh

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept