Mohammad Zubair Arrested: राजस्थान में हो रहे बच्चों के साथ दुष्कर्म पर खामोश और जिहादी की गिरफ्तारी पर आंसू बहा रहे राहुल गांधी: भाजपा महासचिव

भाजपा महासचिव सीटी रवि ने कांग्रेस नेता राहुल गांधी पर निशाना साधते हुए कहा कि इस अक्षम राजवंश ने महाराष्ट्र सरकार की ओर से फेसबुक पोस्ट पर गिरफ्तार की गई मराठी अभिनेत्री का विरोध नहीं किया था। मुहम्मद जुबैर को दिल्ली पुलिस ने सोमवार रात को गिरफ्तार कर लिया है।

Piyush KumarPublish: Tue, 28 Jun 2022 02:29 AM (IST)Updated: Tue, 28 Jun 2022 02:29 AM (IST)
Mohammad Zubair Arrested: राजस्थान में हो रहे बच्चों के साथ दुष्कर्म पर खामोश और जिहादी की गिरफ्तारी पर आंसू बहा रहे राहुल गांधी: भाजपा महासचिव

 नई दिल्ली, प्रेट्र: धार्मिक भावनाओं को भड़काने के आरोप में गिरफ्तार आल्ट न्यूज के सह-संस्थापक मुहम्मद जुबैर को भाजपा नेताओं ने जिहादी बताया है। भाजपा नेताओं ने सरकार की आलोचना करने वाले विपक्षी नेताओं की निंदा करते हुए कहा कि जुबैर हिंसा को बढ़ावा दे रहा था। भाजपा महासचिव सीटी रवि ने कांग्रेस नेता राहुल गांधी पर निशाना साधते हुए कहा कि इस अक्षम राजवंश ने महाराष्ट्र सरकार की ओर से फेसबुक पोस्ट पर गिरफ्तार की गई मराठी अभिनेत्री का विरोध नहीं किया था। राजस्थान में महिलाओं और बच्चों से दुष्कर्म पर भी उनका मुंह बंद रहा, लेकिन हिंसा को बढ़ावा देने वाले जिहादी की गिरफ्तारी पर वे आंसू बहा रहे हैं।

भाजपा सचिव ने राहुल गांधी पर साधा निशाना

भाजपा सचिव वाई सत्य कुमार ने पूर्व कांग्रेस प्रमुख पर निशाना साधते हुए कहा, 'एक जिहादी को गिरफ्तार करो तो नफरत फैलाने वाले लोगों के पक्ष में पहली आवाज कांग्रेस की होगी। लेकिन जब इनके शासित राज्यों में जिहादियों की ओर से हिंदुओं का कत्ल किया जाता है तो ये खामोश रहते हैं। ये कुछ सीखने वाले नहीं है।' राहुल गांधी समेत कई विपक्षी नेताओं ने मुहम्मद जुबैर की गिरफ्तारी पर मोदी सरकार की निंदा की है।

जानिए क्या कहा था राहुल गांधी ने

मुहम्मद जुबैर का समर्थन करते हुए राहुल गांधी ने कहा था कि भाजपा की नफरत, कट्टरता और झूठ को उजागर करने वाले हर शख्स उनके लिए खतरा है। सत्य की एक आवाज को गिरफ्तार करने से एक हजार और पैदा होंगे। अत्याचार पर सत्य की हमेशा विजय होती है।

बता दें कि मुहम्मद जुबैर को दिल्ली पुलिस ने सोमवार रात को गिरफ्तार कर लिया। आरोप है कि जुबैर इंटरनेट मीडिया पर पोस्ट कर समाज में घृणा फैलाने, धार्मिक भावनाओं को आहत करने और देश की छवि खराब करने में जुटा था। जुबैर को रात को ही पटियाला हाउस कोर्ट के ड्यूटी मजिस्ट्रेट के समक्ष पेश कर एक दिन के पुलिस रिमांड पर लिया गया है। इस बीच जुबैर के वकील की तरफ से जमानत अर्जी दाखिल की गई, जिसे खारिज कर दिया गया। हालांकि, वकील को दिन में 30 मिनट मिलने की अनुमति दी गई है।

साइबर सेल ने 19 एफआइआर दर्ज की थीं

पुलिस की तरफ से अदालत को बताया गया कि आरोपित ने जांच में सहयोग नहीं किया है। मुहम्मद जुबैर को सोमवार को पाक्सो के एक मामले में पूछताछ के लिए बुलाया गया था, जिसमें हाई कोर्ट से गिरफ्तारी पर रोक लगी है। उक्त मामले में पूछताछ के बहाने साइबर सेल ने इंटरनेट मीडिया पर घृणा फैलाने के आरोप में गिरफ्तार कर लिया। डीसीपी साइबर सेल केपीएस मल्होत्रा के मुताबिक, बीते एक महीने में कई आपत्तिजनक ट्वीट भी लोगों ने किए हैं। इसको लेकर काफी विवाद हुआ था। इंटरनेट मीडिया को खंगालने के बाद साइबर सेल ने 19 एफआइआर दर्ज की थीं। एफआइआर में नेता और पत्रकार सहित कई लोगों को नामजद किया गया था।

जुबैर के खिलाफ मिले हैं पर्याप्त साक्ष्य

एक एफआइआर में साइबर सेल ने 32 लोगों को आरोपित बनाया था। सोमवार को साइबर सेल ने पाक्सो के एक पुराने मामले में पूछताछ के लिए आल्ट न्यूज के सह-संस्थापक जुबैर को बुलाया था। डीसीपी का कहना है कि जुबैर के खिलाफ पर्याप्त साक्ष्य मिले हैं। बीते दिनों भाजपा की निलंबित प्रवक्ता नुपुर शर्मा और निष्कासित नेता नवीन कुमार जिंदल की पैगंबर मुहम्मद के खिलाफ विवादास्पद टिप्पणी को लेकर देशभर में विरोध प्रदर्शन हुआ था। कुछ जगहों पर ¨हसा भड़क गई थी। माना जाता है कि इन प्रदर्शनों को मुहम्मद जुबैर ने हवा दी थी।

Edited By Piyush Kumar

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept