Maharashtra Politics: शिवसेना नेता संजय राउत का बड़ा खुलासा, कहा- गुवाहाटी से मुझे भी आया था आफर; लेकिन....

Maharashtra Politics शिवसेना नेता संजय राउत ने बड़ा खुलासा करते हुए कहा कि शिंदे गुट की तरफ से गुवाहाटी के लिए उन्हें भी आफर आया था। लेकिन बालासाहेब ठाकरे का सच्चा सिपाही होने के नाते उन्होंने नकार दिया।

Mahen KhannaPublish: Sat, 02 Jul 2022 10:50 AM (IST)Updated: Sat, 02 Jul 2022 12:06 PM (IST)
Maharashtra Politics: शिवसेना नेता संजय राउत का बड़ा खुलासा, कहा- गुवाहाटी से मुझे भी आया था आफर; लेकिन....

मुंबई, एएनआइ। एकनाथ शिंदे के महाराष्ट्र का नया सीएम बनने के बाद से शिवसेना उनपर हर रोज नए तंज कस रही है। इस बीच महाराष्ट्र की राजनीति में आए इस संकट के बादल थोड़े छटे ही थे कि शिवसेना नेता संजय राउत ने आज एक बड़ा खुलासा किया है। राउत ने कहा है कि गुवाहाटी से शिंदे गुट की तरफ से उन्हें भी एक बड़ा आफर आया था लेकिन उन्होंने स्वीकार नहीं किया। राउत ने कहा कि मैं बालासाहेब ठाकरे को फालो करता हूं इसलिए मैं वहां नहीं गया।

शिंदे गुट पर कसा तंज

राउत ने खुलासा करने के बाद शिंदे गुट पर तंज भी कसा है। उन्होंने कहा कि जब सच्चाई आपके साथ है तो डर क्यों? बता दें कि शिवसेना शिंदे के बीजेपी के साथ जाने को उनकी मजबूरी बताती आई है। शिवसेना का कहना है कि शिंदे को ईडी और सीबीआइ का डर दिखाकर बीजेपी ने पार्टी में तोड़फोड़ की है।

ईडी के सामने पेश होना मेरा कर्तव्यः राउत

संजय राउत ने ईडी की पेशी पर भी बयान दिया है। उन्होंने कहा कि एक जिम्मेदार नागरिक और सांसद के तौर पर अगर कोई जांच एजेंसी (ईडी) मुझे समन करती है तो पेश होना मेरा कर्तव्य है। शिवसेना नेता ने कहा कि समस्या टाइमिंग की है, महाराष्ट्र के राजनीतिक संकट के बीच ये समन दिखाता है कि सब राजनीतिक है जिसका उन्हें संदेह था। राउत ने कहा कि ईडी अधिकारियों ने मेरे साथ अच्छा व्यवहार किया और अगर जरूरत पड़ी तो मैं फिर जा सकता हूं।

शिवसेना ने शिंदे को पार्टी से निकाला

बता दें कि बीते दिन ही शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने पार्टी के बागी नेता और महाराष्ट्र के सीएम एकनाथ शिंदे को शिवसेना नेता के पद से हटा दिया है। उद्धव की शिंदे के खिलाफ यह कार्यवाई बगावत के 10 दिन बाद की गई है। उद्धव ठाकरे ने इसके लिए शिंदे को एक पत्र भी लिखा है, जिसमें उन्होंने पार्टी विरोधी गतिविधियों में शामिल होने का आरोप लगाया। 

Edited By Mahen Khanna

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept