बागी विधायकों पर फिर बरसे संजय राउत, 'जहालत एक किस्म की मौत है...जाहिल लोग चलती-फिरती लाशें'

महाराष्ट्र में जारी सियासी संकट के बीच नेताओं में जुबानी हमले तेज हो रहे हैं। शिवसेना नेता संजय राउत ने एक बार फिर बागी विधायकों पर हमला बोला है। संजय राउत ने कहा कि जहालत एक किस्म की मौत है और जाहिल लोग चलती-फिरती लाशें हैं।

Manish NegiPublish: Tue, 28 Jun 2022 09:05 AM (IST)Updated: Tue, 28 Jun 2022 09:05 AM (IST)
बागी विधायकों पर फिर बरसे संजय राउत, 'जहालत एक किस्म की मौत है...जाहिल लोग चलती-फिरती लाशें'

नई दिल्ली, आनलाइन डेस्क। राज्यसभा सांसद और शिवसेना के नेता संजय राउत (Sanjay Raut) पार्टी के विधायकों पर लगातार हमला कर रहे हैं। संजय राउत ने फिर शिवसेना के बागी विधायकों पर निशाना साधा है। संजय राउत ने मंगलवार सुबह एक ट्वीट कर बागी विधायकों को आड़े हाथ लिया है।

'जहालत' एक किस्म की मौत है- संजय राउत

संजय राउत ने बागी विधायकों पर तंज कसते हुए कहा कि 'जहालत' एक किस्म की मौत है और जाहिल लोग चलती-फिरती लाशें हैं। बता दें कि इससे पहले भी संजय राउत ने बागी विधायकों को जिंदा लाश कहा था। उनके इस बयान पर काफी हंगामा भी हुआ था। संजय राउत ने कहा था कि गुवाहाटी के होटल में मौजूद 40 विधायक मर चुके हैं। वहां से उनकी लाशें आएंगी।

संजय राउत के इस बयान पर हंगामा होने के बाद उन्होंने सफाई भी दी थी। संजय राउत ने कहा था कि मैंने आत्मा के मरने की बात कही थी। उन्होंने कहा कि जो लोग 40-40 साल तक पार्टी में रहते हैं और फिर भाग जाते हैं, जिनका जमीर मर गया है, तो उसके बाद क्या बचता है? जिंदा लाश। संजय राउत ने आगे कहा कि 'जिंदा लाश' मेरे नहीं, राममनोहर लोहिया के शब्द हैं। मैंने किसी की भावना को ठेस पहुंचाने का काम नहीं किया। मैंने सत्य कहा है।

संजय राउत को ईडी का नोटिस

गौरतलब है कि प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने संजय राउत को नोटिस भेजा है। उन्हें आज ईडी दफ्तर में पेशी के लिए बुलाया गया था। हालांकि, आज वह पेश नहीं हो पाएंगे। ईडी पत्रा चाल से जुड़े मनी लांड्रिंग के एक मामले की जांच कर रही है। इस प्रोजेक्ट में हजारों करोड़ रुपये की हेराफेरी का आरोप है।

ईडी का नोटिस मिलने के बाद संजय राउत ने ट्वीट कर कहा था, 'मुझे अभी पता चला है कि ईडी ने मुझे तलब किया है। अच्छा है! महाराष्ट्र में बड़े राजनीतिक घटनाक्रम हैं। हम, बालासाहेब के शिवसैनिक एक बड़ी लड़ाई लड़ रहे हैं। यह मुझे रोकने की साजिश है। भले ही आप मुझे मार दें, लेकिन मैं बागी विधायकों के साथ नहीं जाऊंगा। मुझे गिरफ्तार करो।'

Edited By Manish Negi

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept