Koo Studio चुनावी हलचल - उत्तर प्रदेश और पंजाब के चुनावी नतीजों से भारत की राजनीति पर क्या होगा असर

एग्जिट पोल के मुताबिक उत्तर प्रदेश में जहां कई साल बाद कोई एक पार्टी अपना कार्यकाल रिपीट करती हुई नजर आ रही है तो वहीं पंजाब में लोगों ने बदलाव के लिए वोट दिया है और एक नई पार्टी को मौका दिया है।

Arun Kumar SinghPublish: Wed, 09 Mar 2022 09:56 PM (IST)Updated: Thu, 10 Mar 2022 06:11 AM (IST)
Koo Studio चुनावी हलचल - उत्तर प्रदेश और पंजाब के चुनावी नतीजों से भारत की राजनीति पर क्या होगा असर

पांच राज्यों के चुनाव में उत्तर प्रदेश और पंजाब काफी महत्वपूर्ण राज्य है। इन दो राज्यों में चुनाव के नतीजे राजनीतिक रूप से प्रभावशाली रहने वाले हैं। यह प्रभाव राज्यसभा की सीट और राष्ट्रपति के चुनाव में साफ तौर पर देखे जा सकते हैं।

10 मार्च फैसले का दिन है। हम सबकी नजर पांच राज्यों के विधानसभा चुनाव के नतीजे पर है। पांच राज्यों के चुनाव में उत्तर प्रदेश और पंजाब का चुनाव काफी अहम है। एग्जिट पोल के मुताबिक उत्तर प्रदेश में जहां कई साल बाद कोई एक पार्टी अपना कार्यकाल रिपीट करती हुई नजर आ रही है, तो वहीं पंजाब में लोगों ने बदलाव के लिए वोट दिया है और एक नई पार्टी को मौका दिया है। उत्तर प्रदेश और पंजाब के चुनावी नतीजों से भारत की राजनीति पर क्या असर होगा, आज के Koo Studio चुनावी हलचल में देखिए इस विषय पर खास विश्लेषण। कार्यक्रम में Jagran New Media के एग्जीक्यूटिव एडिटर और चुनावी विशेषज्ञ Pratyush Ranjan ने दोनों राज्यों का खास तौर पर विश्लेषण किया है।

एग्जिट पोल के मुताबिक योगी आदित्यनाथ फिर से सरकार बनाती दिख रही है। अगर परिणाम भी योगी आदित्यनाथ के पक्ष में जाता है, तो उनके ऊपर जिम्मेदारियां और ज्यादा बढ़ जाएगी। क्योंकि यह बहुमत यह दिखाता है कि आपको समाज के सभी वर्गों के लिए काम करना होगा। आपको धर्म और जाति से परे हटकर जन कल्याण के लिए काम करना होगा, जिसकी बात योगी आदित्यनाथ अपने भाषण में करते रहे हैं। अगर योगी आदित्यनाथ उत्तर प्रदेश में जीत जाते हैं तो वह इसे एक अवसर मानकर चले और जो कार्य पिछले कार्यकाल में रह गए हैं, उन्हें जल्द से जल्द पूरा करें। क्योंकि जनता किसी पार्टी को दोबारा बहुमत देती है तो इसलिए कि वो अपना पिछला काम पूरा कर पाएं।

आज के समय में कोई भी पार्टी अगर सरकार बनाने में कामयाब रहती है, तो उन्हें मुख्य रूप से कुछ चीजों पर ध्यान देना चाहिए। जैसे बेरोजगारों को रोजगार दें, छोटे दुकानदार को आर्थिक मदद दें, महंगाई को कंट्रोल करें और कानून व्यवस्था को ठीक करें। योगी सरकार ने कानून व्यवस्था को ठीक करने के लिए काफी काम किया है और इसी को आधार मानकर उत्तर प्रदेश चुनाव में लोगों से वोट भी मांगे है। अगर वह दोबारा सरकार में आते हैं तो उन्हें बेरोजगारी, शिक्षा, स्वास्थ्य और जनता को मिलने वाली सुविधाओं पर ध्यान देना होगा।

पांच राज्यों के चुनाव में राजनेता से लेकर आम जनता तक क्या कुछ कह रहे हैं। इसे जानने के लिए आइए कुछ Koo पोस्ट पर नजर डालते हैं।

अपने Koo पोस्ट में एक यूजर जीत कहते हैं कि एग्जिट पोल के मुताबिक अगर पंजाब में आम आदमी पार्टी की सरकार बनती हैं तो यह बदलाव के लिए वोट होगा। इससे यह पता चलता है कि अब तक जितनी भी पंजाब में सरकारें बनी हैं, उन्होंने जनता की समस्याओं को दूर करने में गंभीरता नहीं दिखाई है।

Koo App

एग्जिट पोल में पंजाब में आम आदमी पार्टी का आना ये दर्शाता है कि पंजाब के लोग देश की दोनों बड़ी पार्टियों का आजमा कर अब निराश हो चुके हैं. ये राजनीति के वैकल्पिक युग की शुरुआत है. @dainikjagran

- Jeet (@jeet_2D5) 9 Mar 2022

ऐसे ही एक यूजर परंगव नई पार्टियों के लिए 2024 में संभावनाएं देख रहे हैं। आप भी देखिए उनका Koo पोस्ट।

Koo App

#stateelections2022 नई पार्टियाँ हो सकता है इस विधानसभा चुनावों में कोई बड़ा कमाल ना दिखाएं लेकिन 2024 में ये ज़रूर कुछ नए राजनीतिक समीकरण बनाने में सहयोगी होंगी।

- Parangav (@Parangav) 9 Mar 2022

आम यूजर के अलावा नेताओं ने भी Koo पर विचार जाहिर किए हैं। भाजपा नेता डॉ राजेश्वर सिंह ने पिछली सरकार में कानून व्यवस्था पर सवाल उठाते हुए समाजवादी पार्टी को घेरा है।

Koo App

मैंने हर भाषण में कहा था- सपा पर्याय है गुंडाराज-माफिया राज की अपराधियों की हुकूमत की घोर परिवारवाद की भ्रष्टाचार में डूबी नेतागीरी की और तालिबानी विचारधारा की। आज मतदान पूरा होने के बाद सपा मुक्त उत्तर प्रदेश की ओर बढ़ता प्रदेश। यही है जनता की आकाँक्षा! #फिर_एक_बार_योगी_सरकार

- Dr Rajeshwar Singh (@rajeshwarsingh.in) 7 Mar 2022

इसके अतिरिक्त और भी कई लोगों ने माइक्रो ब्लॉगिंग ऐप Koo पर उत्तर प्रदेश चुनाव पर अपनी बात की है। साथ ही, Koo Studio के इस खास शो में और भी कई महत्वपूर्ण राजनीतिक बिंदुओं पर चर्चा की गई है। जिसे आप यहां पर देख सकते हैं-

आप विभिन्न राज्यों के चुनावी हलचल का सटीक विश्लेषण देखने के लिए @dainikjagran को Koo ऐप पर फॉलो करें।

Edited By Arun Kumar Singh

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept