PM Modi in UAE: यूएई में पीएम मोदी का भव्‍य स्‍वागत, अब दिल्‍ली रवाना, विदा करने एयरपोर्ट तक आए राष्ट्रपति शेख मोहम्मद

प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी (PM Narendra Modi) मंगलवार को खाड़ी देश के पूर्व राष्ट्रपति एवं अबू धाबी के पूर्व शासक शेख खलीफा बिन जायद अल नाहयान (Sheikh Khalifa bin Zayed Al Nahyan) के निधन पर अपनी व्यक्तिगत संवेदना व्यक्त करने के लिए मंगलवार को संक्षिप्त यात्रा पर संयुक्त अरब अमीरात पहुंचे।

Krishna Bihari SinghPublish: Tue, 28 Jun 2022 05:47 PM (IST)Updated: Tue, 28 Jun 2022 08:12 PM (IST)
PM Modi in UAE: यूएई में पीएम मोदी का भव्‍य स्‍वागत, अब दिल्‍ली रवाना, विदा करने एयरपोर्ट तक आए राष्ट्रपति शेख मोहम्मद

अबू धाबी, पीटीआइ। प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) मंगलवार को खाड़ी देश के पूर्व राष्ट्रपति एवं अबू धाबी के पूर्व शासक शेख खलीफा बिन जायद अल नाहयान (Sheikh Khalifa bin Zayed Al Nahyan) के निधन पर अपनी व्यक्तिगत संवेदना व्यक्त करने के लिए मंगलवार को संक्षिप्त यात्रा पर संयुक्त अरब अमीरात पहुंचे जहां उनका भव्‍य स्‍वागत किया गया। यूएई के मौजूदा राष्ट्रपति शेख मोहम्मद बिन जायद अल नाहयान (Sheikh Mohamed bin Zayed Al Nahyan) खुद प्रधानमंत्री मोदी की अगवानी करने के लिए अबू धाबी में हवाईअड्डे पर मौजूद थे।

राष्ट्रपति शेख मोहम्मद बिन जायद अल नाहयान (Sheikh Mohamed bin Zayed Al Nahyan) से मिलने के बाद पीएम मोदी दिल्‍ली के लिए रवाना हुए। गौर करने वाली बात यह कि यूएई के राष्‍ट्रपति शेख मोहम्मद बिन जायद अल नाहयान ने जिस तरह पीएम मोदी की अगवानी की ठीक उसी तरह उन्‍हें विदा करने के लिए अबू धाबी एयरपोर्ट तक छोड़ने भी आए। इस मुलाकात के दौरान दोनों नेताओं में बड़ी गर्मजोशी नजर आई।

समाचार एजेंसी पीटीआइ के मुताबिक प्रधानमंत्री मोदी जर्मनी में उत्पादक जी-7 शिखर सम्मेलन में भाग लेने के बाद अबू धाबी पहुंचे थे। पीएम मोदी ने जर्मनी में जी-7 शिखर सम्मेलन के दौरान दुनिया के कई नेताओं के साथ बातचीत की। उन्‍होंने विश्‍व कल्याण और समृद्धि से जुड़े मुद्दों पर चर्चा की। यूएई में पीएम मोदी ने शेख खलीफा के निधन पर अपनी व्यक्तिगत संवेदना व्यक्त की। शेख खलीफा का लंबी बीमारी के बाद 73 साल की उम्र में 13 मई को निधन हो गया था। प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने शेख खलीफा के निधन पर दुख व्यक्त करते हुए उन्हें एक महान और दूरदर्शी राजनेता बताया था।

पीएम मोदी ने कहा था कि शेख खलीफा के नेतृत्व में भारत और यूएई के संबंध समृद्ध हुए। भारत सरकार ने शेख खलीफा के निधन के बाद एक दिन के राजकीय शोक की घोषणा भी की थी। शेख खलीफा संयुक्त अरब अमीरात के संस्थापक राष्ट्रपति शेख जायद बिन सुल्तान अल नाहयान के सबसे बड़े बेटे थे। शेख जायद बिन सुल्तान अल नाहयान ने 3 नवंबर 2004 से अपनी मृत्यु तक संयुक्त अरब अमीरात के राष्ट्रपति और अबू धाबी के शासक के रूप में काम किया।

उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू ने पिछले महीने संयुक्त अरब अमीरात का दौरा किया था। नायडू ने भी शेख खलीफा के निधन पर संयुक्त अरब अमीरात के नेतृत्व के प्रति संवेदना व्यक्त की थी। इससे पहले पीएम मोदी अगस्त 2019 में संयुक्त अरब अमीरात की यात्रा पर गए थे। इस यात्रा में उन्हें यूएई के राष्ट्रपति की ओर से यूएई का सर्वोच्च पुरस्कार, 'आर्डर आफ जायद' दिया गया था।  प्रधानमंत्री मोदी ने यूएई में शेख मोहम्मद बिन जायद अल नाहयान के साथ बैठक की।

यूएई के नए राष्ट्रपति के चुनाव के बाद यह पीएम मोदी की शेख मोहम्‍मद के साथ पहली बातचीत थी। विदेश मंत्रालय के अनुसार, चीन और अमेरिका के बाद वर्ष 2019-20 के दौरान यूएई भारत का तीसरा सबसे बड़ा व्यापारिक भागीदार था। वर्ष 2020-21 के दौरान लगभग 16 अरब अमेरिकी डालर की राशि के साथ संयुक्त अरब अमीरात (अमेरिका और चीन के बाद) भारत का तीसरा सबसे बड़ा निर्यात गंतव्य है। यूएई 2020 के दौरान लगभग 27.93 अरब अमेरिकी डालर (गैर-तेल व्यापार) की राशि के साथ भारत का तीसरा सबसे बड़ा व्यापारिक भागीदार है।

Edited By Krishna Bihari Singh

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept