This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.
OK

IPL 2020: रंग में लौटे Dhoni के सुपर किंग्स, पंजाब को 10 विकेट से रौंदा, देखें Photos

6 Photos Published Mon, 05 Oct 2020 11:04 AM (IST)
1/ 6शेन वॉटसन की फॉर्म में वापसी
शेन वॉटसन की फॉर्म में वापसी

2018 में जब चेन्नई सुपर किंग्स (CSK) दो साल के प्रतिबंध के बाद वापसी कर रही थी, तो उस वक्त सीएसके की एक वेब सीरीज आई थी रॉर ऑफ द लायंस। अगर आपने उस सीरीज को देखा है तो आप इस टीम के हर खिलाड़ी का जुझारूपन समझेंगे। उस वक्त पहली बार शेन वॉटसन (नाबाद 83) सीएसके में थे। लगातार पांच मैचों में असफल होने के बावजूद सीएसके ने उन्हें मौका दिया और अगले मैच में उन्होंने तूफानी शतक जड़कर रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर (RCB) के 206 रनों के पहाड़ जैसे लक्ष्य तक सीएसके को पहुंचा दिया था। यहां इस बात का जिक्र करना इसीलिए जरूरी है क्योंकि इस शतक को लगाने के बाद वॉटसन ने कहा था कि यह टीम नहीं एक परिवार है। मुझे बहुत खुशी थी कि मेरे बुरे वक्त में परिवार ने मेरा साथ नहीं छोड़ा।

2/ 6वॉटसन का एलान और सीएसके की जबरदस्त वापसी
वॉटसन का एलान और सीएसके की जबरदस्त वापसी

अब जब दुबई में खेले जा रहे आइपीएल-13 में लगातार तीन मैच हारकर सीएसके की टीम ने रविवार को किंग्स इलेवन पंजाब को 10 विकेट से रौंदा तो कोई आश्चर्य करने वाली बात नहीं होनी चाहिए। वैसे वॉटसन ने तो शनिवार को ही सोशल मीडिया पर एलान कर दिया था कि सीएसके इस मैच में जबरदस्त वापसी करेगी। ऐसा हुआ भी क्योंकि उन्होंने सात साल बाद आइपीएल में ना सिर्फ 10 विकेट से जीत दर्ज की, बल्कि लक्ष्य का सफलतम पीछा करते हुए पहले विकेट के लिए आइपीएल इतिहास की दूसरी सबसे बड़ी साझेदारी तक कर डाली।

3/ 6यही है सीएसके की खासियत
यही है सीएसके की खासियत

सीएसके जब पांच में से लगातार तीन मैच हारी तो टीम को आलोचना झेलनी पड़ी। टीम को बदलने तक की बात कही गई। टीम को चेन्नई टेस्ट किंग्स का नाम तक दिया गया, लेकिन इस टीम में जीवटता कूटकर भरी हुई है। यह उन्होंने टीम में एक भी बदलाव नहीं करके साबित भी किया। कप्तान केएल राहुल (69) टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए साफ रणनीति के साथ मयंक अग्रवाल (26) संग बल्लेबाजी करने पहुंचे। आठ ओवर में दोनों टीम का स्कोर 61 रनों तक पहुंचा चुके थे।

4/ 6आखिरी पांच ओवर में सीएसके ने पंजाब को सिर्फ 48 रनों तक रोक लिया
आखिरी पांच ओवर में सीएसके ने पंजाब को सिर्फ 48 रनों तक रोक लिया

कप्तान महेंद्र सिंह धौनी ने अहम बदलाव करते हुए पीयूष चावला को लगाया और उन्होंने पहली ही गेंद पर विकेट चटकाकर मयंक का किस्सा खत्म कर दिया। यहां खुद धौनी भी जानते थे कि उन्हें अभी राहुल के विकेट की भी दरकार है, लेकिन इस बीच रवींद्र जडेजा ने मनदीप सिंह (27) को पवेलियन भेजा। निकोलस पूरन (33) के तेज रन बनाने की उम्मीदों पर शार्दुल ठाकुर ने पानी फेरा, लेकिन 152 के ही स्कोर पर ठाकुर ने राहुल का बड़ा विकेट सीएसके की झोली में डाला और बाकी का काम धौनी ने कर दिया। आखिरी पांच ओवर में सीएसके ने पंजाब को सिर्फ 48 रनों तक रोक लिया।

5/ 6डुप्लेसिस-वॉटसन का तूफान
डुप्लेसिस-वॉटसन का तूफान

वॉटसन क्यों सीएसके को शिद्दत से चाहते हैं यह उन्होंने पिछले वर्ष मुंबई इंडियंस के खिलाफ फाइनल में बताया था, जब घुटने से खून निकलने के बावजूद वह अंत तक टीम को जीत दिलाने में लगे रहे थे। ऐसे में जब इस सत्र में उनकी टीम मुश्किलों में घिरी थी। वॉटसन पर खुद सवाल उठ रहे थे, तो दुबई में तूफान आना तो तय था। हां, इसका शिकार केएल राहुल की टीम बन गई। फाफ डुप्लेसिस (नाबाद 87) तो फॉर्म में थे ही, सीएसके को जरूरत थी वॉटसन के जागने की और आखिरकार रविवार को ऐसा हुआ। 179 रनों के लक्ष्य के जवाब में दोनों ही बल्लेबाज पंजाब के गेंदबाजों पर टूट पड़े।

6/ 6डुप्लेसिस ने शुरुआत में वॉटसन को जमने का मौका दिया
डुप्लेसिस ने शुरुआत में वॉटसन को जमने का मौका दिया

डुप्लेसिस ने शुरुआत में वॉटसन को जमने का मौका दिया और खुद हाथ खोले, लेकिन एक बार जब वॉटसन लय में लौटे तो उनका घुटनों पर बैठकर स्लॉग स्वीप करने वाला शॉट भी निकलकर आ गया। इसके बाद तो किसी गेंदबाज को डुप्लेसिस ने खदेड़ा तो किसी गेंदबाज को वॉटसन ने। यह साझेदारी इतनी खूबसूरत थी कि दोनों ने 10 ओवर में ही 100 रन जोड़ लिए थे और अगले 17.4 ओवर तक दोनों टीम को जीत दिलाकर खुशी के साथ पवेलियन लौट गए थे। वॉटसन और डुप्लेसिस दोनों ने ही 53 गेंद का सामना किया। दोनों ने ही 11 चौके लगाए, लेकिन वॉटसन (तीन छक्के) छक्कों में डुप्लेसिस (एक छक्का) से आगे रहे।

राज्य चुनें Jagran Local News
  • उत्तर प्रदेश
  • पंजाब
  • दिल्ली
  • बिहार
  • उत्तराखंड
  • हरियाणा
  • मध्य प्रदेश
  • झारखण्ड
  • राजस्थान
  • जम्मू-कश्मीर
  • हिमाचल प्रदेश
  • छत्तीसगढ़
  • पश्चिम बंगाल
  • ओडिशा
  • महाराष्ट्र
  • गुजरात
आपका राज्य