साइना नेहवाल का सफर खत्म कर सकता है ताजा विवाद, BAI पर साधा निशाना

साइना ने ट्विटर पर बीएआइ पर उनके ई-मेल का जवाब नहीं देने का आरोप लगाया और साथ ही उनके ट्रायल्स कराने के पीछे के तर्क पर सवाल भी उठाये थे। महासंघ ने हालांकि इस पर चुप्पी बनाए रखी है।

Viplove KumarPublish: Fri, 15 Apr 2022 08:22 PM (IST)Updated: Fri, 15 Apr 2022 08:22 PM (IST)
साइना नेहवाल का सफर खत्म कर सकता है ताजा विवाद, BAI पर साधा निशाना

नई दिल्ली, पीटीआइ। साइना नेहवाल का राष्ट्रमंडल खेलों और एशियाई खेलों के लिए चयन ट्रायल में नहीं खेलने का फैसला अंतरराष्ट्रीय बैडमिंटन में पिछले डेढ़ दशक से ज्यादा समय से चल रही उनकी शानदार यात्रा के खत्म होने की शुरुआत हो सकता है।

पूर्व नंबर एक साइना अंतरराष्ट्रीय स्तर पर महिला बैडमिंटन की सिरमौर रही हैं, उन्होंने राष्ट्रमंडल खेलों (2018 ग्लास्गो, 2010 नई दिल्ली और 2006 मेलबर्न) में तीन बार भारत का प्रतिनिधित्व किया है। इसमें जरा भी शक नहीं है कि साइना पेशेवर सर्किट में अपने शानदार प्रदर्शन से फिर वही जादू बिखेर सकती हैं, लेकिन भारतीय बैडमिंटन संघ (बीएआइ) के ट्रायल्स में हिस्सा नहीं लेने का फैसला बहु स्पर्धाओं के खेल जैसे राष्ट्रमंडल खेल, एशियाड, ओलिंपिक और उबर कप में उनके प्रतिनिधित्व के मौके को खत्म कर सकता है।

निराश साइना ने ट्विटर पर बीएआइ पर उनके ई-मेल का जवाब नहीं देने का आरोप लगाया और साथ ही उनके ट्रायल्स कराने के पीछे के तर्क पर सवाल भी उठाये थे। महासंघ ने हालांकि इस पर चुप्पी बनाए रखी है, जिससे संकेत मिल रहा है कि महिला सिंगल्स में बदलाव का दौर शुरू हो गया है और अब ध्यान केवल युवा पीढ़ी पर ही होगा जिन्हें अंतरराष्ट्रीय स्तर पर अपनी प्रतिभा दिखाने का मौका दिया जाएगा।

ओलंपिक मेडलिस्ट और पूर्व नंबर एक बैडमिंटन खिलाड़ी साइना नेहवाल ने भारतीय बैडमिंटन संघ (BAI) द्वारा कामनवेल्थ और एशियन गेम्स के सेलेक्शन की तारीखों पर सवाल उठाया है। बीएआई ने 15 अप्रैल से 20 अप्रैल के बीच ट्रायल्स का एलान किया है जोकि दिल्ली के इंदिरा गांधी स्टेडियम में चल रहा है।

उन्होंने अपने व्यस्त कार्यक्रम का हवाला देते हुए बीएआई से सवाल ट्विटर के माध्यम से अपनी नाराजगी व्यक्त की है। उन्होंने एक के बाद एक तीन ट्विट किए हैं और अपनी बात रखी है। उन्होंने लिखा है कि कुछ आर्टिकल के माध्यम से कहा जा रहा है कि वे अपना कामनवेल्थ खिताब को डिफेंड नहीं कर पाएंगी। मैं इस ट्रायल्स में शामिल नहीं हो पाऊंगी क्योंकि मैं अभी-अभी यूरोप से 3 हफ्ते के बाद लौटी हूं। इतने कम समय के नोटिस पर ट्रायल्स में उपस्थित होना संभव नहीं है। मैंने बीएआई को संदेश दिया है लेकिन उनकी तरफ से कोई प्रतिक्रिया नहीं मिली है। लगता है वो चाहते हैं कि मैं कामनवेल्थ से बाहर रहूं"

उन्होंने अपनी नाराजगी व्यक्त करते हुए लिखा है कि काश, हमें एक शेड्यूल का प्रबंधन करने और 10 दिनों के नोटिस के साथ घटनाओं की घोषणा नहीं करने की बेहतर समझ होती। मैं वर्तमान में 23 वें नंबर पर हूं और मैंने ऑल इंग्लैंड में दुनिया के नंबर 1 अकाने को लगभग हरा दिया। इंडियन ओपन में एक हार के चलते मुझे बीएआई नीचा दिखाना चाहती है।

आपको बता दें कि पीवी सिंधु, लक्ष्य सेन और किदांबी श्रीकांत को बिना ट्रायल्स के क्वालिफिकेशन दे दी गई है। जिन खिलाड़ियों की रैंकिंग 15 से नीचे होती है उन्हें डायरेक्ट क्वालिफिकेशन मिल जाता है। वर्तमान में साइना की रैंकिंग 23 है। उनके नाम कामनवेल्थ गेम्स में 3 मेडल हैं। एक उन्होंने 2010 में और दो मेडल 2018 में जीता था।

 

Edited By Viplove Kumar

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept