This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.
OK

दुबई में सम्मानित हुए भारतीय रेसलर बजरंग पूनिया और पावरलिफ्टर गौरव शर्मा

बजरंग पूनिया और पावरलिफ्टिंग के विश्व चैंपियन गौरव शर्मा को दुबई में इंडो-अरब लीडर्स समिट एंड अवॉर्ड-2019 में सम्मानित किया गया।

Sanjay SavernSat, 16 Nov 2019 08:15 PM (IST)
दुबई में सम्मानित हुए भारतीय रेसलर बजरंग पूनिया और पावरलिफ्टर गौरव शर्मा

नई दिल्ली, प्रेट्र। एशियन गेम्स के स्वर्ण पदक विजेता पहलवान भारत के बजरंग पूनिया और पावरलिफ्टिंग के विश्व चैंपियन गौरव शर्मा को दुबई में इंडो-अरब लीडर्स समिट एंड अवॉर्ड-2019 में सम्मानित किया गया। बजरंग को शुक्रवार रात आयोजित किए गए इस अवॉर्ड समारोह में 'इंडियन पर्सनलिटी ऑफ द ईयर' के पुरस्कार से सम्मानित किया गया। वहीं, गौरव 'विजनरी लीडर्स ऑफ द ईयर-स्पो‌र्ट्स'अवॉर्ड से सम्मानित हुए।

बजरंग ने कहा, 'मैं आयोजकों का मुझे सम्मान देने के लिए शुक्रिया अदा करता हूं। इस तरह के सम्मान खिलाड़ी को प्रेरित करते हैं। टोक्यो ओलंपिक के लिए मैंने क्वालीफाई कर लिया है और मैं अपने देश को गौरवान्वित करने के लिए पूरी कोशिश करूंगा।'

वहीं, गौरव भी इस अवॉर्ड से खुश दिखे। उन्होंने कहा, 'मैं अपनी भावनाएं नहीं बता सकता। यह बेहद शानदार है। इस सम्मान को पाने के बाद मैं भावुक हो गया था। पावरलिफ्टिंग वो खेल है जिसके बारे में काफी लोग नहीं जानते, लेकिन मुझे अपनी उपलब्धियों पर गर्व है। मैं अपने गुरु भूपेंद्र सिंह धवन का शुक्रिया अदा करना चाहता हूं जिन्होंने मेरे सपने पूरे करने में मदद की।'

आपको बता दें कि भारतीय रेसलर बजरंग पूनिया ने इस वर्ष यानी 2019 में नूूर-सुल्तान में आयोजित वर्ल्ड चैंपियनशिप में ब्रॉन्ज मेडल जीता था। वो 2013 और 2018 में भी वर्ल्ड चैंपियनशिप में ब्रॉन्ज व सिल्वर मेडल जीत चुके हैं। बजरंग पूनिया ने 2014 एशियन गेम्स में सिल्वर मेडल जबकि 2018 में गोल्ड मेडल जीतकर देश को गौरवान्वित किया था। वो कॉमनवेल्थ गेम्स 2014 में सिल्वर मेडल जबकि 2018 में गोल्ड मेडल जीत चुके हैं। उन्होंने एशियन चैंपियनशिप में दो गोल्ड मेडल जबकि एक बार सिल्वर मेडल और दो बार ब्रॉन्ज मेडल जीत चुके हैं। यानी इस चैंपियनशिप में कुल पांच मेडल उनके नाम पर हैं। इसके अलावा उन्होंने कॉमनवेल्थ चैंपियनशिप में दो गोल्ड मेडल और वर्ल्ड अंडर 23 चैंपियनशिप में एक सिल्वर मेडल जीता है।