संबलपुर जिला में एक और दंतैल हाथी की मौत

बीते वर्ष संबलपुर जिला के रेढाखोल वन मंडल के रेढाखोल बड़माल और नाकटीदेऊल वनांचल में तीन हाथियों की मौत के बाद चलित वर्ष एक और दंतैल हाथी की मौत रविवार के अपरान्ह हो गई।

JagranPublish: Sun, 23 Jan 2022 09:47 PM (IST)Updated: Sun, 23 Jan 2022 09:47 PM (IST)
संबलपुर जिला में एक और दंतैल हाथी की मौत

संवाद सूत्र, संबलपुर : बीते वर्ष संबलपुर जिला के रेढाखोल वन मंडल के रेढाखोल, बड़माल और नाकटीदेऊल वनांचल में तीन हाथियों की मौत के बाद चलित वर्ष एक और दंतैल हाथी की मौत रविवार के अपरान्ह हो गई। बताया गया है कि इस दंतैल हाथी को एक खलिहान के पास असहाय अवस्था में देख गांववालों ने वन विभाग को सूचित किया था, लेकिन समय पर इलाज नहीं हो पाने से दंतैल हाथी की मौत हो गई।

प्राप्त जानकारी के अनुसार, करीब 70 वर्षीय दंतैल हाथी पिछले चार दिनों से नाकटीदेऊल वनांचल में अकेले भटकते देखा जा रहा था। यही हाथी रविवार की सुबह मनकुंडा गांव निकटस्थ एक खलिहान में असहाय अवस्था में पड़ा देखा गया। उसे देख वन विभाग को सूचित किया गया। नाकटीदेऊल रेंज के वनकर्मी घटनास्थल पर पहुंचे, लेकिन समय पर दंतैल हाथी का इलाज नहीं हो पाने से उसकी मौत का आरोप गांववालों ने लगाया है। इधर, वन विभाग की ओर से बताया जा रहा है कि दंतैल हाथी की उम्र करीब 70 वर्ष की थी और वह वृद्धावस्था जनित रोग से पीड़ित था और संभवत: इसी वजह से वह चलने फिरने में असमर्थ था और उसकी मौत हो गई। पोस्टमार्टम के बाद रिपोर्ट आने पर उसकी मौत की वजह का पता चल सकेगा। अबतक प्राप्त जानकारी के अनुसार, दंतैल हाथी की मौत के बाद रेढाखोल एसीएफ और अन्य वनकर्मी घटनास्थल पर पहुंचकर जांच पड़ताल कर रहे हैं। बताया जा रहा है कि सोमवार के दिन पोस्टमार्टम के बाद जंगल में ही दंतैल हाथी के शव को दफनाया जाएगा।

Edited By Jagran

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept
ट्रेंडिंग न्यूज़

मौसम