आरएसपी के स्वास्थ्य शिविर में दर्जनों की हुई जांच

राउरकेला इस्पात संयंत्र (आरएसपी) अपने कर्मचारियों और आसपास के क्षेत्रों के निवासियों के स्वास्थ्य के लिए प्रतिबद्ध है।

JagranPublish: Sun, 28 Nov 2021 09:14 AM (IST)Updated: Sun, 28 Nov 2021 09:14 AM (IST)
आरएसपी के स्वास्थ्य शिविर में दर्जनों की हुई जांच

जागरण संवाददाता, राउरकेला : राउरकेला इस्पात संयंत्र (आरएसपी) अपने कर्मचारियों और आसपास के क्षेत्रों के निवासियों के स्वास्थ्य के लिए प्रतिबद्ध है। इस्पात जनरल अस्पताल के सहयोग से आरएसपी का सीएसआर विभाग नियमित रूप से टाउनशिप के अंदर और बाहर विभिन्न स्थानों पर स्वास्थ्य जांच शिविर आयोजित कर रहा है। मोबाइल चिकित्सा यूनिट के माध्यम से क्षेत्रवासियों के लिए पदमपुर ग्राम पंचायत, कुआरमुंडा ब्लाक में स्वास्थ्य शिविर का आयोजन किया गया। कुल 205 व्यक्तियों की जांच और उपचार अपर सीएमओ, सर्जरी, डा. एमके पाणिग्राही सहित डा. बिबेक महांती, डा. अनिदिता देबता, डा. योगेश, डा. व्यासदेव मिश्र और डा. जितेंद्र कुमार द्वारा किया गया। रश्मि प्रिया केरकेट्टा के द्वारा रक्त शर्करा और अन्य जैव रसायन रक्त परीक्षण किया गया। इस मौके पर 25 रैंडम आरबीएफ जांच भी की गई। मुख्य चिकित्सा अधिकारी (चिकित्सा) डा. बी के होता एवं अतिरिक्त मुख्य चिकित्सा अधिकारी (चिकित्सा) डा. आरआर महांती ने शिविर का दौरा किया तथा मरीजों के साथ बातचीत की। मरीजों को निश्शुल्क दवा वितरित की गई। शिविरों का संचालन महाप्रबंधक (सीएसआर) मुनमुन मित्र और उप महाप्रबंधक (सीएसआर) दुष्मंत प्रधान द्वारा किया गया। एमओयू सब-कमेटी को बीएमएस ने ठुकराया : सेल कर्मचारियों के लिए 10वें वेतन समझौता के लिए दिल्ली में 22 अक्टूबर को एमओयू सब कमेटी को बीएमएस की ओर से ठुकरा दिया गया है। इंटक, एचएमएस, एआइटीयूसी यूनियन की ओर से समझौते पर हस्ताक्षर किया गया था। इसके आधार पर एरियर सब कमेटी एवं पे-स्केल सब-कमेटी का गठन किया गया है। सब-कमेटी में बीएमएस की ओर से दो प्रतिनिधियों का नाम देने के लिए कार्पोरेट कार्यालय में प्रस्ताव दिया गया था पर प्रबंधन ने सहमति नहीं दी। बीएमएस की ओर से कहा गया है कि समझौते में सभी यूनियनों की सहमति नहीं है जिस कारण इसमें कई विसंगतियां हैं। इस लिए बीएमएस की ओर से इस समझौते का विरोध किया गया है। समझौते के आधार पर गठित सब कमेटी को बीएमएस के केंद्रीय नेता डीके पांडे ने ठुकरा दिया है। किसी भी परिस्थिति में श्रमिकों से धोखाधड़ी एवं प्रबंधन के साथ सांठगांठ बर्दाश्त नहीं करने की बात महासचिव राजेन्द्र नाथ महंतो ने कही है।

Edited By Jagran

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept
ट्रेंडिंग न्यूज़

मौसम