गरीबों के लिए मसीहा थे जन नेता प्रसन्न पंडा

लंबे अरसे तक विधानसभा में ब्रजराजनगर का प्रतिनिधित्व करने वाले सीपीआइ के वरिष्ठ नेता व जन नेता के रूप में विख्यात प्रसन्न पंडा की 24वीं पुण्यतिथि रविवार को उनकी जन्मस्थली लखनपुर ब्लॉक के अढ़ापाड़ा में स्मृति दिवस के रूप में मनाई गई। देश की स्वाधीनता के बाद ओरिएंट पेपर मिल के कारण ईब नदी का जल प्रदूषित होने व हीराकुद बांध के निर्माण से इलाके के हजारों लोगों की विस्थापन की समस्या को लेकर उनके द्वारा शुरू किए गए आंदोलन ने पूरे देश में उन्हें स्थापित कर दिया था।

JagranPublish: Tue, 28 Dec 2021 09:00 AM (IST)Updated: Tue, 28 Dec 2021 09:00 AM (IST)
गरीबों के लिए मसीहा थे जन नेता प्रसन्न पंडा

संसू, ब्रजराजनगर : लंबे अरसे तक विधानसभा में ब्रजराजनगर का प्रतिनिधित्व करने वाले सीपीआइ के वरिष्ठ नेता व जन नेता के रूप में विख्यात प्रसन्न पंडा की 24वीं पुण्यतिथि रविवार को उनकी जन्मस्थली लखनपुर ब्लॉक के अढ़ापाड़ा में स्मृति दिवस के रूप में मनाई गई। देश की स्वाधीनता के बाद ओरिएंट पेपर मिल के कारण ईब नदी का जल प्रदूषित होने व हीराकुद बांध के निर्माण से इलाके के हजारों लोगों की विस्थापन की समस्या को लेकर उनके द्वारा शुरू किए गए आंदोलन ने पूरे देश में उन्हें स्थापित कर दिया था। इस आंदोलन के कारण वे प्रदूषण और विस्थापन को लेकर लोगों के हक व अधिकार के लिए लड़ने वाले देश के प्रमुख नेताओं में शामिल हो गए थे। अपनी मिट्टी के लिए निस्वार्थ रूप से संग्राम करने वाले गरीबों के लिए वे मसीहा थे। इस अवसर पर आयोजित सभा में वक्ताओं ने ये बातें कही। कहा, गरीबों, खेतिहर मजदूरों व विस्थापितों के हक के लिए सर्वस्व न्यौछावर करने वाले इस नेता को लोग आज भी याद कर रहे हैं। सीपीआइ के वरिष्ठ नेता रमेश त्रिपाठी की अध्यक्षता में आयोजित सभा में सीपीआइ के प्रदेश सचिव आशीष कानूनगो ने मुख्य अतिथि व सह सचिव खिरोद सिंहदेव, झारसुगुड़ा जिला सचिव अनित चक्रवर्ती, जिला सह सचिव सारंगधर मिश्र, बरगढ़ लोकसभा सांसद के प्रतिनिधि रघुनंदन पंडा, कुसरालोई के पूर्व सरपंच रघुमणि प्रधान, विस्थापन संग्राम समिति तथा किसान नेता बिरंचि साहू इत्यादि ने अतिथि का दायित्व निभाया। इससे पूर्व प्रसन्न पंडा की प्रतिमा पर माल्यार्पण करने के बाद उनके समाधि स्थल पर अतिथियों ने उन्हें श्रद्धासुमन अर्पित किए। 25 दिसंबर को सीपीआइ का स्थापना दिवस व प्रसन्न बाबू की पुण्यतिथि होने के कारण इलाके के 200 महिला व पुरुषों ने रमेश त्रिपाठी के नेतृत्व में सीपीआइ की सदस्यता ग्रहण की। प्रदेश सचिव ने सभी का दल में स्वागत किया। सभा के प्रारंभ में प्रसन्न बाबू के साथ गरीबों के हक की लड़ाई में होने वाले व जीवन समाप्त करने वाले सीपीआइ के 82 नेताओं की स्मृति में मौन प्रार्थना की गई। कामरेड पुरंदर पाटजोशी, सुरेंद्र बगर, गौरचंद्र कालो, जयानंद पसायत, सुरेश बारिक, संतोष भोई व अमरेंद्र प्रताप सिंह इत्यादि ने आयोजन में आवश्यक सहयोग प्रदान किया।

Edited By Jagran

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept