पंचायत चुनाव को लेकर प्रशासन ने कसी कमर

त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव प्रबंधन के लिए झारसुगुड़ा जिला प्रशासन की ओर से जिलापाल कार्यालय परिसर में स्थित जिला मिनरल फंड सभा कक्ष में बैठक का आयोजन किया गया। जिसमें चुनाव आयोग द्वारा जारी सभी निर्देश का पालन कर आगामी पंचायत चुनाव संपन्न करने को कहा गया।

JagranPublish: Wed, 26 Jan 2022 07:00 PM (IST)Updated: Wed, 26 Jan 2022 07:00 PM (IST)
पंचायत चुनाव को लेकर प्रशासन ने कसी कमर

संवाद सूत्र, झारसुगुड़ा : त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव प्रबंधन के लिए झारसुगुड़ा जिला प्रशासन की ओर से जिलापाल कार्यालय परिसर में स्थित जिला मिनरल फंड सभा कक्ष में बैठक का आयोजन किया गया। जिसमें चुनाव आयोग द्वारा जारी सभी निर्देश का पालन कर आगामी पंचायत चुनाव संपन्न करने को कहा गया।

चुनाव आचार संहिता का पूरी कड़ाई से पालन करने के साथ कोरोना नियमों की पालन करने की बात पर जोर दिया गया। कोई भी प्रत्याशी इसका उल्लंघन करता है तो उसके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जायेगी। चुनाव प्रचार के समय बड़ी रैली व सभा पर प्रतिबंध लगाया गया है। उम्मीदवार केवल पांच लोगों के साथ शारीरिक दूरी का पालन करते हुए चुनाव प्रचार करेंगे। आगामी त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के लिए कुल 2,238 ने नामांकन भरा था। नामांकन की जांच के बाद 2169 उम्मीदवार चुनाव मैदान में हैं।

चुनाव के लिए झारसुगुड़ा जिले में कुल 736 बूथ बनाए गये हैं। उनमें 25 अति संवेदनशील,152 संवेदनशील 759 सामान्य बूथ होने की जानकारी जिलापाल ने दी। अति संवेदनशील बूथ के सुचारु रूप से चुनाव संपन्न कराने की सारी व्यवस्था होने की बात जिलापाल सरोज कुमार श्यामल ने कही। त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के प्रथम चरण का चुनाव 16 फरवरी को जिले के तीन ब्लाक झारसुगुड़ा, लैयकरा व किरमिरा के पांच जोन के 36 पंचायत के 432 वार्ड के 1,31,465 मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे। वहीं दूसरे चरण का मतदान 18 फरवरी को जिले के दो ब्लाक लखनपुर व कोलाबीरा ब्लाक के चार जिला परिषद सीट के 42 पंचायत के 504 पंचायत के1,45,452 मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे। बैठक में राज्य चुनाव आयोग की ओर से नियुक्त झारसुगुड़ा जिला पर्यवेक्षक इंद्रमणी त्रिपाठी, एसपी विकास चन्द्र दास सहित जिला के प्रमुख अधिकारी उपस्थित थे।

------------------

भाजपा प्रत्याशी धमकी मामले में जिलापाल से मिले प्रतिनिधि

झारसुगुड़ा जिला के लैयकरा जोन-1- से भारतीय जनता पार्टी की जिला परिषद उम्मीदवार सब्यसीनी प्रधान को नाम वापसी के लिए पैसों का लालच दे कर विफल होने के बाद उसे डराने धमकाने के मामले को लेकर भाजपा प्रतिनिधिमंडल ने चुनाव अधिकारी, जिलापाल व एसपी से मिल कर घटना की जांच कर दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की साथ ही ज्ञापन भी सौंपा।

भाजपा प्रतिनिधिमंडल ने बताया कि चार दिन पूर्व अपने को बीजद कार्यकर्ता का परिचय देकर कुछ युवकों ने भाजपा की जिला परिषद उम्मीदवार सब्यसीनी प्रधान को पाकेलपाया स्थित निवास में जाकर धमकाया। भाजपा प्रतिनिधिमंडल ने जिले में त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव को अपराध मुक्त व निष्पक्ष संपन्न कराने, कानून व्यवस्था को बनाते रखने आवश्यक कदम उठाने की मांग की। मांगपत्र सौंपने के लिए भाजपा के जिला अध्यक्ष मंगल साहु सहित राज्य भाजपा सचिव टंकधर त्रिपाठी, जिला महासचिव बिमलेन्दु भोल, संजय सिंह व जिला कोषाध्यक्ष महेंद्र केडिया शामिल थे।

Edited By Jagran

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept