नया बाजार में खुद ही अतिक्रमण हटाने लगे लोग

प्रशासन द्वारा शहर के पुराना बाजार क्षेत्र में चलाए गए अतिक्रमण हटाओ अभियान का असर मंगलवार को नया बाजार में दिखाई पड़ा।

JagranPublish: Wed, 29 Dec 2021 12:17 AM (IST)Updated: Wed, 29 Dec 2021 12:17 AM (IST)
नया बाजार में खुद ही अतिक्रमण हटाने लगे लोग

चाकुलिया : प्रशासन द्वारा शहर के पुराना बाजार क्षेत्र में चलाए गए अतिक्रमण हटाओ अभियान का असर मंगलवार को नया बाजार में दिखाई पड़ा। नया बाजार मुख्य सड़क किनारे सरकारी भूमि पर कब्जा करने वालों को ताबड़तोड़ अतिक्रमण हटाते देखा गया। कोई दुकान का शटर काट रहा था तो कोई सड़क पर निकला छज्जा हटा रहा था। एक घर में तो छत की पक्की दीवार को भी तोड़ते देखा गया। दुकान से कई फीट बाहर सामान निकाल कर तथा सड़क किनारे खूंटा गाड़ कर सामान रखनेवाले दुकानदार भी मंगलवार को सतर्क नजर आए। ऐसे कई दुकानदारों को खूंटा खंभा हटाकर सामान दुकान के भीतर ही रखते देखा गया। अतिक्रमण हटाओ अभियान के दौरान अवैध कब्जा हटाने व दुकानदारों द्वारा सामान भीतर रखने के कारण मंगलवार को शहर में ट्रैफिक जाम की समस्या नगण्य रही। इससे लोगों ने राहत की सांस ली।

विदित हो कि अंचलाधिकारी जयवंती देवगम के नेतृत्व में सोमवार को शहर में विशेष अतिक्रमण हटाओ अभियान चलाया गया था। इसमें मुख्य रूप से पुरानी बाजार मेन रोड एवं बिरसा चौक के आसपास अतिक्रमण करने वालों पर कार्रवाई की गई थी। इस दौरान कई दुकानों को आंशिक रूप से जेसीबी की मदद से तोड़ दिया गया था। जबकि कुछ लोगों को दो दिनों की मोहलत दी गई थी। इसके बाद से ही अतिक्रमण करने वालों में हड़कंप मचा हुआ है। माना जा रहा है कि पुराना बाजार के बाद अब नया बाजार में अतिक्रमण हटाओ अभियान चला जाएगा।

इनसेट

अतिक्रमण नहीं हटाने वालों

पर कार्रवाई शीघ्र : सीओ

सीओ जयवंती देवगम ने बताया कि शहर में कुल 65 लोगों को अतिक्रमण हटाओ अभियान के तहत चिन्हित कर नोटिस जारी किया गया है। इनमें पुराना बाजार में 41 एवं नया बाजार में 24 लोग शामिल है। बार-बार नोटिस देने के बावजूद जिन लोगों ने अतिक्रमण नहीं हटाया है, उन पर कार्रवाई होनी तय है। सीओ ने कहा कि शीघ्र ही नया बाजार समेत अन्य इलाकों में भी अभियान चलाकर सरकारी भूमि को अवैध कब्जे से मुक्त कराया जाएगा।

Edited By Jagran

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept