ऋषिकेश: नेशनल हाईवे के गड्ढों से होकर गुजरेगी कांवड़ यात्रा, इस मुख्‍य मार्ग की सुध नहीं ले रहा व‍िभाग

ऋषिकेश से हरिद्वार के बीच श्यामपुर खदरी रेलवे फाटक से लेकर नेपाली फार्म फ्लाईओवर के शुरुआत तक सड़क के दोनों और नेशनल हाईवे डोईवाला डिवीजन की ओर से फोरलेन योजना के तहत टाइल्स बिछाने का काम ठेके पर दिया गया था।

Sumit KumarPublish: Mon, 04 Jul 2022 11:20 AM (IST)Updated: Mon, 04 Jul 2022 11:20 AM (IST)
ऋषिकेश: नेशनल हाईवे के गड्ढों से होकर गुजरेगी कांवड़ यात्रा, इस मुख्‍य मार्ग की सुध नहीं ले रहा व‍िभाग

जागरण संवाददाता, ऋषिकेश: इस वर्ष गुरु पूर्णिमा यानी 13 जुलाई से श्रावण मास शुरू हो रहा है। इसी के साथ पौराणिक नीलकंठ महादेव मंदिर से जुड़ी कांवड़ यात्रा भी शुरू हो जाएगी। हरिद्वार से हजारों की संख्या में आने वाले पैदल कांवड़ यात्री नेशनल हाईवे के किनारे गड्ढा युक्त सर्विस लाइन (कच्चा फुटपाथ) से होकर गुजरेंगे। विभाग ने अब तक इस मुख्य मार्ग की सुध नहीं ली है।

ऋषिकेश से हरिद्वार के बीच श्यामपुर खदरी रेलवे फाटक से लेकर नेपाली फार्म फ्लाईओवर के शुरुआत तक सड़क के दोनों और नेशनल हाईवे डोईवाला डिवीजन की ओर से फोरलेन योजना के तहत टाइल्स बिछाने का काम ठेके पर दिया गया था। एक वर्ष होने को है मगर यह काम अभी तक धरातल पर नहीं उतरा है। कई स्थान पर टाइल्स बिछाने के लिए सड़क के किनारे खोद दिए गए हैं। हालत यह है कि सड़क और फुटपाथ के बीच ऊंचाई का अंतर आ गया है।

सप्ताहांत पर इस रूट पर सर्वाधिक वाहनों का दबाव रहता है। जिस कारण यातायात पुलिस ने स्थानीय लोग और दुपहिया वाहनों को आवागमन सुनिश्चित करने के लिए सर्विस लाइन बनाई थी। वर्तमान में हालत यह है कि बीते दिनों आई वर्षा के कारण जहां जगह-जगह गड्ढों में पानी भर गया है। प्रतिदिन कई लोग के दुपहिया वाहन दुर्घटनाग्रस्त होकर इसमें सवार लोग चोटिल हो रहे हैं।

कांवड़ यात्रा को लेकर प्रशासन तैयारियों को धरातल पर उतारने के कई दावे कर रहा है। इस बात को समझने की कोशिश किसी ने नहीं की है कि हरिद्वार की दिशा से ऋषिकेश के लिए बड़ी संख्या में कांवड़ यात्री पैदल भी आएंगे। जो समूह में आते हैं और उनके साथ कांवड़ भी होती है।

सड़क के बीच वाहनों के दबाव के कारण इन्हें सड़क के किनारे चलना होता है। वर्तमान में सड़क के यह किनारे चलने लायक नहीं रह गए हैं। स्थानीय लोग को भी इन गड्ढों से परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। नेशनल हाईवे वाला डिवीजन के अधिकारियों के कानों में जूं तक नहीं रेंग रही है। कांवड़ यात्रा को लेकर प्रशासनिक अधिकारियों की बैठक में विभाग के वरिष्ठ अधिकारी आने से बचते रहे हैं।

इनका कहना है

श्यामपुर में फोरलेन योजना के तहत सड़क के दोनों और टाइल्स बिछाई जानी है। जिसका टेंडर जी किया जा चुका है। ठेकेदार को कई बार समय पर कार्य पूर्ण करने के लिए कहा गया। इस मामले में उच्चाधिकारियों को अवगत कराया जा रहा है।

- एसएस रावत, सहायक अभियंता, नेशनल हाईवे डोईवाला डिवीजन

कांवड़ यात्रा को देखते हुए श्यामपुर क्षेत्र पर हाईवे के किनारे गड्ढों की समस्या गंभीर है। इसे लेकर अधिशासी अभियंता नेशनल हाईवे डिवीजन को निर्देशित किया जा रहा है। अगर समय पर टाइल्स नहीं लग सकती है तो वैकल्पिक व्यवस्था के तहत यहां पर भरान कराने का काम किया जाएगा।

- शैलेंद्र सिंह नेगी, उप जिलाधिकारी, ऋषिकेश

यह भी पढ़ें- सरकारी राशन की 40 दुकानें रहीं बंद, भटके उपभोक्ता, 10 हजार से ज्यादा राशन कार्ड धारक परेशान

Edited By Sumit Kumar

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept