Maharashtra Political Crisis: गोवा पहुंचे शिंदे गुट के विधायक, एकनाथ बोले-फ्लोर टेस्ट में होंगे शामिल

Maharashtra Political Crisis एकनाथ शिंदे गुट के सभी 50 विधायक बुधवार को देर शाम गुवाहाटी से गोवा पहुंच गए। इन विधायकों के गुरुवार सुबह मुंबई पहुंचकर विधानसभा के विशेष अधिवेशन में भाग ले सकते हैं। इधर मुंबई में सुरक्षा कड़ी कर दी गई है।

Sachin Kumar MishraPublish: Wed, 29 Jun 2022 06:57 PM (IST)Updated: Wed, 29 Jun 2022 06:57 PM (IST)
Maharashtra Political Crisis: गोवा पहुंचे शिंदे गुट के विधायक, एकनाथ बोले-फ्लोर टेस्ट में होंगे शामिल

मुंबई, राज्य ब्यूरो। महाराष्ट्र में एकनाथ शिंदे गुट के सभी 50 विधायक बुधवार को देर शाम गुवाहाटी से गोवा पहुंच गए। इन विधायकों के गुरुवार सुबह मुंबई पहुंचकर विधानसभा के विशेष अधिवेशन में भाग ले सकते हैं। शिवसेना के इन बागी विधायकों की सुरक्षा के लिए केंद्रीय अर्द्धसैनिक बल सीआरपीएफ के लगभग 2000 जवान तीन विशेष विमानों से मुंबई पहुंच चुके हैं।

मां कामाख्या के किए दर्शन

पिछले नौ दिनों से गुवाहाटी में रुके शिंदे गुट के विधायकों ने बुधवार दोपहर सुविख्यात शक्तिपीठ मां कामाख्या के दर्शन किए। उसके बाद शाम को चार्टर्ड विमान से गोवा के लिए रवाना हुए। राज्यपाल ने गुरुवार को विधानसभा का विशेष अधिवेशन बुलाकर सरकार को फ्लोर टेस्ट करवाने का आदेश दिया है। यदि सर्वोच्च न्यायालय की ओर से इस पर रोक न लगी तो विधायकों को गुरुवार सुबह 11 बजे विधानभवन पहुंचना होगा। चूंकि गुवाहाटी से मुंबई की दूरी अधिक थी, इसलिए विधायकों की सुविधा की दृष्टि से उन्हें गोवा के एक होटल में स्थानांतरित किया गया है। वहां से ये सभी विधायक सुबह जल्दी निकलकर मुंबई पहुंच सकते हैं।

बागी कहने पर जताई आपत्ति

गुवाहाटी से निकलते समय बागी विधायकों के नेता एकनाथ शिंदे ने पूरे आत्मविश्वास के साथ कहा कि वे अपने साथी विधायकों के साथ गुरुवार को फ्लोर टेस्ट में शामिल होंगे। उन्होंने खुद को बागी कहे जाने पर आपत्ति जताते हुए कहा कि वे बागी नहीं, बल्कि शिवसेना के वास्तविक विधायक हैं। वहीं, बाला साहब ठाकरे के विचारों को आगे ले जाने का काम कर रहे हैं। महाराष्ट्र के इन विधायकों ने नौ दिन गुवाहाटी के एक होटल में रहने के बाद वहां से निकलते समय असम के बाढ़ पीड़ितों के लिए वहां के मुख्यमंत्री कोष में 51 लाख रुपये की राशि दान की है।

मुंबई पुलिस सतर्क

शिवसेना की ओर से बागी विधायकों को लगातार धमकियां दी जाती रही हैं। इसे देखते हुए कोई अप्रिय घटना टालने के लिए मुंबई पुलिस पहले से सतर्क है, लेकिन केंद्र सरकार ने बड़ी संख्या में सीआरपीएफ के जवान मुंबई भेज दिए हैं। माना जा रहा है कि गुरुवार को एकनाथ शिंदे गुट के विधायकों के मुंबई पहुंचने पर उनके विमानतल से विधानभवन तक पहूुंचने के मार्ग में सीआरपीएफ के जवानों को खड़ा करने की योजना है, ताकि विधायकों को सुरक्षित विधानभवन तक ले जाया जा सके।

Edited By Sachin Kumar Mishra

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept