नदियों के जलस्तर पर बनाएं रखें नजर, तटबंधों की करें निगरानी : डीएम

मधुबनी । जिलाधिकारी अरविंद कुमार वर्मा ने जिले में संभावित बाढ़ की पूर्व तैयारी को लेकर समाहरणालय स्थित वीडियो कांफ्रेंसिग कक्ष से जिला अनुमंडल एवं प्रखंड स्तरीय पदाधिकारियों के साथ वर्चुअल माध्यम से समीक्षा बैठक किया।

JagranPublish: Sun, 03 Jul 2022 11:17 PM (IST)Updated: Sun, 03 Jul 2022 11:17 PM (IST)
नदियों के जलस्तर पर बनाएं रखें नजर, तटबंधों की करें निगरानी : डीएम

मधुबनी । जिलाधिकारी अरविंद कुमार वर्मा ने जिले में संभावित बाढ़ की पूर्व तैयारी को लेकर समाहरणालय स्थित वीडियो कांफ्रेंसिग कक्ष से जिला, अनुमंडल एवं प्रखंड स्तरीय पदाधिकारियों के साथ वर्चुअल माध्यम से समीक्षा बैठक किया। इस दौरान डीएम ने निर्देश दिया की नदियों के जलस्तर पर लगातार नजर बनाए रखें। तटबंधों की दिन-रात निगरानी करते रहें। तटबंधों में कही भी रिसाव, कटाव, सीपेज, पाइपिग दिखे तो जिला आपदा नियंत्रण कक्ष के दूरभाष नंबर 06276-222576 या जलसंसाधन विभाग के टाल फ्री नंबर 1800-3456-145 पर सूचना दें। उन्होंने कहा कि इस नंबर का व्यापक प्रचार-प्रसार करें ताकि बाढ़ से सुरक्षा में अधिक से अधिक जनसहभागिता प्राप्त की जा सके।

जिलाधिकारी ने सभी पदाधिकारियों को सतर्कता बरतने का निर्देश देते हुए कहा कि मानसून की वर्षा कभी भी जिले को प्रभावित कर सकती है। सभी संबधित पदाधिकारी पूरी तरह से तैयार रहे। उन्होंने कहा कि बाढ़ के समय में प्रभावित लोग अन्य सुरक्षित जगहों की ओर गमन करते हैं। ऐसे में जिले के सभी चिह्नित शरण स्थलों में स्वच्छ पेयजल की आपूर्ति सहित सभी मूलभूत सुविधाएं सुनिश्चित करें। उन्होंने सिविल सर्जन से चिकित्सा संबंधी सभी तैयारियों की जानकारी ली और कहा कि सर्पदंश सहित सभी आवश्यक दवाइयों की कमी न होने पाए।

-----------------------------

लंबित डीसी बिल का निष्पादन नहीं करने वाले पदाधिकारियों पर की जाएगी कार्रवाई : डीसी बिल की समीक्षा के क्रम में जिलाधिकारी ने कहा कि लंबित डीसी बिल का निष्पादन नहीं करने वाले पदाधिकारियों पर जवाबदेही तय कर करवाई की जाएगी। उन्होंने कम्युनिटी किचन के संचालकों के लंबित भुगतान की समीक्षा भी की। सभी संवेदकों के बकाया राशि का भुगतान सुनिश्चित किए जाने का निर्देश दिया। उन्होंने कहा कि राशि की उपलब्धता नही होने पर उसकी मांग करें। उन्होंने निर्देश दिया कि सेटेलाइट फोन, लाइफ जैकेट एवं मोटरबोट की नियमित रूप से चेक करते रहें, ताकि किसी भी आपदा की स्थिति में त्वरित राहत कार्य में किसी भी प्रकार का अवरोध उत्पन्न नहीं हो सके।

बैठक में शामिल अधिकारी

बैठक में अपर समाहर्ता अवधेश राम, डीपीआरओ सह आपदा प्रभारी परिमल कुमार, सिविल सर्जन डा. सुनील कुमार झा सहित जिले के सभी वरीय पदाधिकारी कार्यालय कक्ष से और सभी अनुमंडल पदाधिकारी, प्रखंड विकास पदाधिकारी व अंचल अधिकारी वर्चुअल माध्यम से शामिल हुए।

Edited By Jagran

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept