District Hospital Put On Fire : संभल के जिला अस्पताल में आग लगाने वाला राजा अंसारी गिरफ्तार, पास में मिली विदेशी मुद्रा

Conspiracy To Burn District Hospital Of Sambhal संभल के एसपी चक्रेश मिश्रा ने बताया कि विस्तृत जांच में एक व्यक्ति आग लगाता हुआ पाया गया। हमने इसकी विस्तृत तहकीकात के बाद जिस व्यक्ति को गिरफ्तार किया गया उसका नाम राजा अंसारी है।

Dharmendra PandeyPublish: Sun, 03 Jul 2022 04:05 PM (IST)Updated: Sun, 03 Jul 2022 04:16 PM (IST)
District Hospital Put On Fire : संभल के जिला अस्पताल में आग लगाने वाला राजा अंसारी गिरफ्तार, पास में मिली विदेशी मुद्रा

संभल, जेएनएन। मुरादाबाद मंडल के जिले संभल के जिला अस्पताल की चौथी मंजिल पर आग लगने के मामले का सच सामने आ गया है। यहां पर किसी दुर्घटना के कारण आग नहीं लगी थी, बल्कि राजा अंसारी नामक युवक ने आग लगाई थी।

संभल के जिला अस्तपाल की चौथी मंजिल पर बने जनरल वार्ड में 26 जून को लगी जांच में बड़ी साजिश सामने आ गई है। संभल के एसपी चक्रेश मिश्रा ने बताया कि विस्तृत जांच में एक व्यक्ति आग लगाता हुआ पाया गया। हमने इसकी विस्तृत तहकीकात के बाद जिस व्यक्ति को गिरफ्तार किया गया, उसका नाम राजा अंसारी है। राजा अंसारी को कल गिरफ्तार किया गया है। इसके पास से एक मोबाईल, पासपोर्ट, आधार कार्ड, विदेशी मुद्रा के सिक्के और अन्य सामग्री मिली हैं।

आग लगने का कारण पता लगाने के लिए अस्पताल के अधिकारी सीसीटीवी फुटेज की भी जांच कर रहे थे। साजिश के तहत आग लगने की बात सामने आई है। जिसके बाद अस्पताल के सीसीटीवी की जांच की गई। जिसमें एक युवक को देखा गया है। जो कुछ गतिविधि करते देखा जा रहा है। युवक की तलाश की गई और राजा अंसारी को पकड़ा गया है।

संभल के जिला अस्पताल में 26 जून को संदिग्ध परिस्थिति में चौथी मंजिल पर बने जनरल वार्ड में आग लग गई थी। आग लगने से अस्पताल में वहां पर अफरा-तफरी मची। मरीजों को लेकर तीमादार भागने लगे। उस समय तो आग लगने का कारण स्पष्ट नहीं हो पाया। वहां पर ना तो कहीं पर शार्ट सर्किट हुआ था और ना ही किसी मरीज के बेड के पास आग लगी थी। अस्पताल से धुएं का गुब्बारा उठते देख अस्पताल के लोगों को आग लगने की जानकारी दी गई। आग लगने की सूचना पर सबसे पहले मरीजों को बाहर निकाला गया। उसके बाद बिजली सप्लाई को बंद किया गया। पुलिस और फायर बिग्रेड को मामले की जानकारी दी गई। आग लगने के बाद जिला अस्पताल के आसपास ट्रैफिक को रोक दिया गया।

अस्पताल से मरीजों को बाहर निकाला गया। इसके साथ ही लाइट भी बंद कर दी गई। अस्पताल के अंदर लगे सिलेंडर से आग बुझाने का प्रयास किया गया। चौथी मंजिल पर ज्यादा मरीज भर्ती नहीं थे। आग लगने के कारण वहां पर मशीन, पलंग, वेंटिलेटर और गद्दे जलकर राख हो गए। वहां पर आग लगने के बाद ओपीडी को बंद कर दिया गया। सीएमएस की तरफ से एक अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज करवाया गया है। अस्पताल में आग का कारण जानने के लिए अस्पताल में लगे सीसीटीवी फुटेज खंगाले गए।  

Edited By Dharmendra Pandey

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept