दरभंगा में एक पंचायत में ही शिक्षक नियोजन के लिए काउंसल‍िंग, दो में रद

Darbhanga education News अभ्यर्थियों की ओर से की गई शिकायत के आलोक में रद की गई किरतपुर व बहादुरपुर की एक-एक पंचायत में काउंसल‍िंग। दो पंचायतों की काउंसल‍िंग के लिए प्रकाशित मेधा सूची पर अभ्यर्थियों ने कड़ी आपत्ति जताई थी।

Dharmendra Kumar SinghPublish: Mon, 04 Jul 2022 09:06 PM (IST)Updated: Mon, 04 Jul 2022 09:06 PM (IST)
दरभंगा में एक पंचायत में ही शिक्षक नियोजन के लिए काउंसल‍िंग, दो में रद

दरभंगा, जासं। सातवें चरण के शिक्षक नियोजन के लिए निवर्तमान जिला शिक्षा पदाधिकारी ने मात्र तीन पंचायतों में सोमवार को काउंसल‍िंग की तिथि निर्धारित की थी। उनके इस निर्णय पर कई अभ्यर्थियों ने प्रश्न भी उठाए थे, लेकिन उनके आदेश पर मात्र एक पंचायत में सोमवार को काउंसल‍िंग संपन्न हो सकी। दो पंचायतों की काउंसल‍िंग रद कर दी गई । इन पंचायतों के लिए प्रकाशित मेधा सूची पर अभ्यर्थियों ने कड़ी आपत्ति जताई थी। मामला जिलाधिकारी तक गया था।

जिलाधिकारी ने भी निर्देश दिया था कि जिन अभ्यर्थियों का नाम मेधा सूची में नहीं है उनका नाम जोडऩे के बाद ही काउंसल‍िंग कराई जाए। लेकिन छूटे हुए अभ्यर्थियों का नाम जोडा नहीं जा सका। इसके कारण किरतपुर प्रखंड के रसियारी किरतपुर पंचायत में काउंसल‍िंग नहीं कराई जा सकी। उसी प्रखंड के रसियारी पौनी में काउंसल‍िंग का कार्य संपन्न किया गया । इधर बहादुरपुर प्रखंड की उघडा माहपारा पंचायत में भी काउंसल‍िंग को स्थगित कर दिया गया। बताते चलें कि किरतपुर प्रखंड के रसियारी पौनी के मुखिया सह अध्यक्ष पंचायत नियोजन इकाई ने मेधा सूची को लेकर शिकायत की थी, जिसके आलोक में जिला शिक्षा पदाधिकारी ने छठे चरण के शिक्षक नियोजन काउंसल‍िंग में उस पंचायत की काउंसल‍िंग स्थगित कर दी। रसियारी किरतपुर पंचायत में 1668 आवेदकों ने आवेदन जमा किया था जबकि मेधा सूची में 562 अभ्यर्थियों का नाम ही पोर्टल पर प्रकाशित किया गया था ।रसियारी पौनी में भी ऐसा ही मामला था। इसके कारण उन दोनों पंचायतों में छठे चरण में काउंसल‍िंग नहीं कराई जा सकी थी। इसके अलावा काउंसल‍िंग संपन्न होने और मेधा सूची प्रकाशित होने के बाद जिला शिक्षा पदाधिकारी ने छह पंचायतों में भी काउंसल‍िंग रद कर दी थी।

बहादुरपुर के उघरा महपारा में और मेकना वेदा में काउंसल‍िंग रद्द कर दी गई थी। बहेड़ी प्रखंड की तुर्की सुसारी पंचायत में भी काउंसल‍िंग रद कर दी गई । केवटी के राजौरा और लालगंज पंचायत में भी काउंसल‍िंग रद कर दी गई थी। बहेड़ी के बघौनी पंचायत में भी जिला शिक्षा पदाधिकारी ने काउंसल‍िंग रद करने की अनुशंसा की थी ।लेकिन प्राथमिक शिक्षा निदेशक ने उसे अस्वीकार कर दिया था । इसकी जांच क्षेत्रीय शिक्षा उपनिदेशक कर रहे हैं ।अभ्यर्थियों ने शिकायत की थी कि जब बहादुरपुर की थी मेकना वेदा और उघरा महपारा दोनों पंचायतों की काउंसल‍िंग रद कर दी गई थी तो फिर सरकार के निर्देश पर सातवें चरण में काउंसल‍िंग होती तो दोनों पंचायतों में होती। लेकिन एक पंचायत में काउंसल‍िंग कराना किसी प्रकार उचित नहीं है। स्थापना के जिला कार्यक्रम पदाधिकारी रवि कुमार ने कहा कि दो पंचायतों की काउंसल‍िंग रद कर दी गई है जबकि किरतपुर के रसियारी पौनी पंचायत में काउंसल‍िंग कराई जा रही है।

Edited By Dharmendra Kumar Singh

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept