रुड़की: पांच लाख की धोखाधड़ी में आप नेता और पत्नी पर मुकदमा, दंपती ने नौकरी लगवाने के नाम पर लिए थे रुपये

सेलाकुई देहरादून निवासी नवनीत के रिश्तेदार झबरेड़ा में रहते हैं। विधानसभा चुनाव के दौरान नवनीत के रिश्तेदार ने आम आदमी पार्टी की तरफ से विधानसभा चुनाव लड़ रहे राजू सिंह विराटिया का चुनाव प्रचार किया था। इसके चलते ही राजू सिंह विराटिया से नवनीत की जान पहचान हो गई।

Sumit KumarPublish: Sun, 03 Jul 2022 05:53 PM (IST)Updated: Sun, 03 Jul 2022 05:53 PM (IST)
रुड़की: पांच लाख की धोखाधड़ी में आप नेता और पत्नी पर मुकदमा, दंपती ने नौकरी लगवाने के नाम पर लिए थे रुपये

संवाद सूत्र, झबरेड़ा: नवोदय विद्यालय में नौकरी लगवाने के नाम पर पांच लाख रुपये की धोखाधड़ी करने के मामले में पुलिस ने आप नेता और उनकी पत्नी पर मुकदमा दर्ज किया है। आप नेता की पत्नी प्रधानाचार्य के पद पर कार्यरत है।

सेलाकुई देहरादून निवासी नवनीत के रिश्तेदार झबरेड़ा में रहते हैं। विधानसभा चुनाव के दौरान नवनीत के रिश्तेदार ने आम आदमी पार्टी की तरफ से विधानसभा चुनाव लड़ रहे राजू सिंह विराटिया का चुनाव प्रचार किया था। इसके चलते ही राजू सिंह विराटिया से नवनीत की जान पहचान हो गई।

राजू की पत्नी रोमा ज्वालापुर स्थित एक विद्यालय में प्रधानाचार्य हैं। आम आदमी पार्टी के नेता राजू और उसकी पत्नी रोमा ने नवनीत की बेटी की नौकरी नवोदय विद्यालय ज्वालापुर में लगवाने की बात कही। लेकिन, इसके एवज में इन्होंने पांच लाख रुपये की रकम मांगी। दंपती की बातों में आकर नवनीत ने उन्हें पांच लाख रुपये की रकम दे दी। इसके बाद वह जल्द ही नौकरी लगने का आश्वासन देते रहे।

लेकिन, कई माह बीत जाने के बाद भी नौकरी नहीं लगी। इसके बाद पीडि़त ने अपनी रकम वापस मांगी, लेकिन, दंपती बार-बार कोई न कोई बहाना बनाकर टरकाते रहे। जब पीडि़त ने दबाव बनाया तो इन्होंने रकम वापस करने से इन्कार कर दिया। पीडि़त ने इस बावत झबरेड़ा थाना पुलिस को तहरीर दी। पुलिस ने इस मामले में राजू और उसकी पत्नी रोमा निवासी अंबेडकर नगर ज्वालापुर, हरिद्वार पर मुकदमा दर्ज कर लिया है।

रोडवेज बस में टप्पेबाजों ने यात्री का बैग उड़ाया

रुड़की: रोडवेज बस से देहरादून जा रहे यात्री का बैग टप्पेबाजों ने साफ कर दिया। बैग में नकदी, कपड़े और अन्य जरूरी कागजात थे। पीडि़त ने सिविल लाइंस कोतवाली पुलिस से शिकायत की है। देहरादून निवासी विवेक कुमार किसी काम से दिल्ली गए थे। शनिवार को वह रोडवेज बस से वापस आ रहे थे। जैसे ही बस रोडवेज बस स्टैंड पर रुकी तो वह पानी की बोतल लेने के लिए बस से उतरने लगे। इसी बीच उन्हें पता चला कि उनका बैग गायब हो चुका था। उन्होंने यात्रियों से भी बैग के बारे में पूछा, लेकिन बैग नहीं मिला। पीडि़त के बैग में कपड़े, नकदी और अन्य सामान था। प्रभारी निरीक्षक देवेंद्र चौहान ने बताया कि जांच के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।

यह भी पढ़ें- उत्‍तराखंड की राजधानी देहरादून में कई साल रहा था आतंकी इदरीश, अब करीबियों की कुंडली खंगाल रहा खुफिया तंत्र

Edited By Sumit Kumar

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept