युवक को रेलवे ट्रैक पर स्टंटबाजी करना पड़ा महंगा, वीडियो देख हो जाएंगे हैरान

इस वीडियो में साफ देखा जा सकता है कि एक किसी क्रासिंग पर रेल फाटक लगा है। इसके बावजूद कुछ लोग जबरन फाटक के नीचे से आवागमन कर रहे हैं। हालांकि ऐसा करना गैर क़ानूनी है। साथ ही सेहत के लिए हानिकारक है।

Pravin KumarPublish: Fri, 18 Feb 2022 09:44 PM (IST)Updated: Fri, 18 Feb 2022 09:44 PM (IST)
युवक को रेलवे ट्रैक पर स्टंटबाजी करना पड़ा महंगा, वीडियो देख हो जाएंगे हैरान

दिल्ली, लाइफस्टाइल डेस्क। सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है, जिसे देख आप हैरान हो जाएंगे। वीडियो से यह सीख मिलती है कि कभी रेलवे फाटक लगने पर क्रॉस नहीं करना चाहिए। इससे हादसा होने का खतरा बढ़ जाता है। कुछ ऐसा ही नजारा देखने को मिलता है। जब एक युवक को स्टंट करना मंहगा पड़ सकता था। युवक की किस्मत बुलंद थी और यमराज की मेहरबानी थी, जो युवक सही सलामत बच गया।

इस वीडियो में साफ देखा जा सकता है कि एक किसी क्रासिंग पर रेल फाटक लगा है। इसके बावजूद कुछ लोग जबरन फाटक के नीचे से आवागमन कर रहे हैं। हालांकि, ऐसा करना गैर क़ानूनी है। साथ ही सेहत के लिए हानिकारक है। इससे जान-माल की क्षति की संभावना बढ़ जाती है। तभी एक युवक रेलवे ट्रैक पर बाइक को बड़ी तेजी से चलाकर पार करने की कोशिश में था। वह, कुछ दूर आगे बढ़ता है।

तभी राजधानी बड़ी तेजी से हॉर्न बजाकर आ रही थी। उसी समय यमराज की कृपा युवक पर बरस जाती है। युवक राजधानी को समीप आते देख बाइक को रेलवे ट्रैक पर छोड़ भागने की कोशिश करता है। इसी क्रम में राजधानी बाइक को लेकर उड़ जाती है। जबकि, युवक की ज़िंदगी कुछ सेकंड के फासले से बच जाती है। वीडियो में देखा जा सकता है कि बाइक के परखच्चे उड़ गए हैं। युवक किसी तरह जान बचाकर भागता है। वीडियो में युवक के बॉडी लैंग्वेज से पता चलता है कि युवक को अंदरूनी चोट लगी है।

इस वीडियो को भारतीय सेवा अधिकारी Dipanshu Kabra ने सोशल मीडिया ट्विटर पर अपने अकांउट से शेयर किया है। इसके कैप्शन में उन्होंने लिखा है-

सज्जन फाटक देख रुकें, मानें सुरक्षा उपाय,

बलिहारी बुद्धि मूर्ख की, यमलोक दियो दिखाय

इस वीडियो को खबर लिखे जाने तक 88 हजार से अधिक बार देखा गया है। वहीं, सैंकडों लोगों ने कमेंट कर युवक की आलोचना की है। साथ ही युवकों को स्टंटबाजी से परहेज करने की सलाह दी है।

Image Credit: Dipanshu Kabr

Edited By Pravin Kumar

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept