Indian Railways: देश के सभी क्षेत्रों को जोड़ेगी वंदे भारत एक्सप्रेस, अश्विनी वैष्णव ने भारतीय रेलवे के निजीकरण से किया इन्कार

Indian Railways भारत के सभी क्षेत्रों को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की परिकल्पना वंदे भारत एक्सप्रेस ट्रेनों के माध्यम से जोड़ा जाएगा। यह हम सभी के लिए एक सपना सच होने के जैसा है। उन्होंने आइसीएफ का दौरा किया और वंदे भारत एक्सप्रेस कोचों के निर्माण कार्य का निरीक्षण किया।

Dhyanendra Singh ChauhanPublish: Fri, 20 May 2022 09:27 PM (IST)Updated: Fri, 20 May 2022 09:27 PM (IST)
Indian Railways: देश के सभी क्षेत्रों को जोड़ेगी वंदे भारत एक्सप्रेस, अश्विनी वैष्णव ने भारतीय रेलवे के निजीकरण से किया इन्कार

चेन्नई, आइएएनएस। रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने शुक्रवार को यहां कहा कि भारतीय रेलवे देश के विभिन्न क्षेत्रों को वंदे भारत एक्सप्रेस ट्रेनों के माध्यम से जोड़ेगा। साथ ही उन्होंने भारतीय रेलवे का निजीकरण करने से भी साफ इन्कार किया। वैष्णव ने आधुनिक ट्रेन वंदे भारत के शानदार डिजाइन और इसे चालू करने के लिए इंटीग्रल कोच फैक्ट्री (ICF) टीम को बधाई भी दी। उन्होंने कहा कि यह भारतीय रेलवे के लिए एक गर्व की परियोजना है। यात्री ट्रेन सेवाओं के आधुनिकीकरण में यह एक मील का पत्थर है। आइसीएफ भारतीय रेलवे की पहली उत्पादन इकाई है जिसने इसे हासिल किया है।

तीन साल में 400 नई ऊर्जा कुशल वंदे भारत ट्रेनें की जाएंगी शुरू

भारत के सभी क्षेत्रों को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की परिकल्पना वंदे भारत एक्सप्रेस ट्रेनों के माध्यम से जोड़ा जाएगा। यह हम सभी के लिए एक सपना सच होने के जैसा है। उन्होंने आइसीएफ का दौरा किया और वंदे भारत एक्सप्रेस कोचों के निर्माण कार्य का निरीक्षण किया। पहले दो प्रोटोटाइप रैक को इस साल अगस्त तक चालू करने की योजना है। उन्होंने कहा कि भारतीय रेलवे अगस्त 2023 तक 75 वंदे भारत रैक शुरू करने के लिए प्रतिबद्ध है। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने 2022-23 के केंद्रीय बजट में कहा था कि तीन साल में 400 नई ऊर्जा कुशल वंदे भारत ट्रेनें शुरू की जाएंगी।

वैष्णव ने कहा कि भारतीय रेलवे की बेहतरी के लिए हमारा ध्यान पूरी तरह से नई तकनीकों पर है। उन्होंने कहा कि सभी रेलवे स्टेशनों को फिर से विकसित किया जा रहा है।

गौरतलब है कि मौजूदा समय वंदे भारत एक्सप्रेस ट्रेन नई दिल्ली से वाराणसी और नई दिल्ली से कटरा के बीच दौड़ रही है। अब इसे नई दिल्ली-चंडीगढ़ या नई दिल्ली-अमृतसर के रूट पर भी दौड़ाया जा सकता है।

यह भी पढ़ें : संयुक्त राष्ट्र में अनुचित टिप्पणी पर भारत ने पाक को फटकारा, कहा- बिलावल ने कश्मीर मुद्दा छेड़कर यूएन के मंच का किया दुरुपयोग

Edited By Dhyanendra Singh Chauhan

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept