This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.
OK

कोरोना वैक्सीन व दवाइयों पर GST हो खत्म, तमिलनाडुु CM ने प्रधानमंत्री से की अपील

कोरोना महामारी से बचाव के लिए देश में वैक्सीनेशन का अभियान जारी है। इसके मद्देनजर राज्यों की ओर से तमिलनाडु के मुख्यमंत्री ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर कोविड-19 वैक्सीन व अन्य कोविड की दवाईयों पर GST कम करने की अपील की।

Monika MinalThu, 13 May 2021 03:55 PM (IST)
कोरोना वैक्सीन व दवाइयों पर GST हो खत्म, तमिलनाडुु  CM ने प्रधानमंत्री से की अपील

 नई दिल्ली, एएनआइ। तमिलनाडु के नवनिर्वाचित मुख्यमंत्री एम के स्टालिन ने गुरुवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर कोविड-19 वैक्सीन व अन्य कोविड की दवाईयों पर GST कम करने की अपील की। उन्होंने लिखा कि राज्य सरकारों द्वारा इनकी खरीददारी पर कुछ समय के लिए जीएसटी घटा कर शून्य कर दी जाए। साथ ही उन्होंने  लंबित जीएसटी मुआवजों, चावल पर लगने वाले सब्सिडी का तुरंत भुगतान का भी आग्रह किया। 

पत्र में मुख्यमंत्री ने लिखा, 'कोविड-19 के कारण सभी राज्य के हालात खराब हें और वे संक्रमित मरीजों के लिए वैक्सीन व ड्रग खरीदने को मजबूर हैं। इस मुद्दे पर विचार करते हुए प्रधानमंत्री को GST काउंसिल के साथ मीटिंग करनी चाहिए और कुछ समय के लिए दवाईयों व वैक्सीन पर लगने वाले जीएसटी को खत्म देना चाहिए।

कुछ दिनों पहले ही केंद्र सरकार ने वैक्सीन पॉलिसी की घोषणा करते हुए कहा था कि 50 फीसद वैक्सीन राज्य सरकारों द्वारा खरीदा जाना चाहिए। इसके बाद राज्य सरकारों ने फैसला लिया कि दूसरे देशों से दवाइयां खरीदी जाए जिससे राज्य सरकार पर आर्थिक बोझ औश्र बढ़ जाएगा। इसे देखते हुए मुख्यमंत्री ने लंबित जीएसटी मुआवजे के भुगतान की मांग की है।

बता दें कि तमिलनाडु के मुख्यमंत्री एम के स्टालिन ने कोविड-19 के प्रसार में हुई बढ़ोत्तरी से निपटने के उपायों पर विचार-विमर्श करने के लिए विधायक दलों के नेताओं को आमंत्रित किया। मुख्यमंत्री ने उन्हें पत्रों के जरिए मामले पर सरकार को सुझाव देने के लिए आमंत्रित किया। इस बारे में बुधवार को बताया गया कि स्टालिन की अध्यक्षता में होने वाली इस बैठक में तमिलनाडु विधानसभा में पार्टियों के सदन नेताओं के वायरस के बढ़ते प्रसार को रोकने में मदद देने एवं इससे निपटने पर चर्चा होनी है। 

Edited By: Monika Minal