कोविशील्ड, कोवैक्सीन को खुले बाजार में बेचने की अनुमति देने की सिफारिश, SEC ने दिखाई हरी झंडी

कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए लोगों को लगाई जाने वाली कोरोना वैक्सीन कोविशील्ड व कोवैक्सीन को बाजार में उतारने को लेकर सब्जेक्ट एक्सपर्ट कमिटी की बैठक में आज सहमति बन गई है। कमिटी ने व्यस्कों के लिए इन दोनों वैक्सीन को बाजार में भेजने का सुझाव दिया।

Monika MinalPublish: Wed, 19 Jan 2022 11:28 PM (IST)Updated: Thu, 20 Jan 2022 05:55 AM (IST)
कोविशील्ड, कोवैक्सीन को खुले बाजार में बेचने की अनुमति देने की सिफारिश,  SEC ने दिखाई हरी झंडी

नई दिल्ली, एएनआइ।  ड्रग्स कंट्रोलर जनरल आफ इंडिया (Drugs Controller General of India, DCGI) की सब्जेक्ट एक्सपर्ट कमेटी (SEC) ने बुधवार को सीरम इंस्टीट्यूट आफ इंडिया (SII) और भारत बायोटेक (Bharat Biotech) की कोरोना वैक्सीन कोवैक्सीन (Covaxin) व कोविशील्ड (Covishield) को केवल व्यस्कों के इस्तेमाल के लिए सशर्त बाजार में उतारने  को लेकर सहमति दे दी  है। इसे अंतिम मंजूरी के लिए DCGI के पास भेजा जाएगा। इससे पहले की बैठक के दौरान SEC ने दोनों कंपनियों से वैक्सीन के लिए अधिक डेटा और जानकारी मांगी थी।

कोविशील्ड का उत्पादन करने वाली सीरम इंस्टीट्यूट आफ इंडिया और कोवैक्सीन का उत्पादन करने वाली भारत बायोटेक ने डीसीजीआइ को अपने कोविड रोधी टीकों के लिए नियमित विपणन मंजूरी की मांग करते हुए आवेदन जमा किए थे।सीरम के निदेशक (सरकारी और नियामक मामले) प्रकाश कुमार सिंह ने इस मामले में 25 अक्टूबर को डीसीजीआइ को एक आवेदन दिया था। उसके बाद उन्होंने मांगे गए अतिरिक्त डाटा भी प्रस्तुत किया था। भारत बायोटेक ने भी कुछ हफ्ते पहले डीसीजीआइ की तरफ से मांगी गई अन्य जानकारी मुहैया कराई थी। आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि केंद्रीय औषधि मानक नियंत्रण संगठन (सीडीएससीओ) की कोरोना संबंधी विषय विशेषज्ञ समिति (एसईसी) ने बुधवार को दूसरी बार सीरम और भारत बायोटेक के आवेदनों की समीक्षा की और कुछ शर्तों के साथ कोविशील्ड एवं कोवैक्सीन को नियमित विपणन की मंजूरी देने की सिफारिश की।

SII ने कोविशील्ड को बाजार में मंजूरी दिलाने के लिए 2021 के दिसंबर में आवेदन किया था और इससे दस दिन पहले भारत बायोटेक ने भी आवेदन डाला था। बाजार में मंजूरी मिलने का मतलब है कि इन दोनों को बिना किसी रिजर्वेशन और शर्त के ही इस्तेमाल किया जा सकेगा। भारत बायोटेक ने अब व्यस्कों व बच्चों के लिए कोवैक्सीन को यूनिवर्सल वैक्सीन बताया है। कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए सीरम इंस्टीट्यूट आफ इंडिया व भारत बायोटेक की कोरोना वैक्सीन की दो खुराक पर्याप्त होती है और दोनों वैक्सीन की रख-रखाव के लिए 2-8 डिग्री सेल्सियस तापमान जरूरी होता है।

Edited By Monika Minal

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept