This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.
OK

45 हजार करोड़ के घोटाले में प‌र्ल्स समूह के चेयरमैन निर्मल सिंह भंगू गिरफ्तार

केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआइ) ने प‌र्ल्स समूह के चेयरमैन एवं मुख्य प्रबंध निदेशक (सीएमडी) निर्मल सिंह भांगू को गिरफ्तार कर लिया। भांगू के साथ शुक्रवार को कंपनी के तीन अन्य शीर्ष अधिकारी भी गिरफ्तार हुए हैं।

Gunateet OjhaSat, 09 Jan 2016 05:43 AM (IST)
45 हजार करोड़ के घोटाले में प‌र्ल्स समूह के चेयरमैन निर्मल सिंह भंगू गिरफ्तार

नई दिल्ली। केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआइ) ने प‌र्ल्स समूह के चेयरमैन एवं मुख्य प्रबंध निदेशक (सीएमडी) निर्मल सिंह भांगू को गिरफ्तार कर लिया। भांगू के साथ शुक्रवार को कंपनी के तीन अन्य शीर्ष अधिकारी भी गिरफ्तार हुए हैं। सभी को 45,000 करोड़ रुपये के घोटाले में गिरफ्तार किया गया है। इस घोटाले में 5.5 करोड़ निवेशकों को चूना लगाया गया था।

सीबीआइ के प्रेस सूचना अधिकारी आरके गौड़ ने कहा कि पीजीएफ लिमिटेड के सीएमडी और प‌र्ल्स अस्ट्रेलेसिया प्रा. लिमिटेड के पूर्व चेयरमैन के साथ गिरफ्तार होने वालों में पीएसीएल के एमडी एवं प्रमोटर-निदेशक सुखदेव सिंह, कार्यकारी निदेशक (वित्त) गुरमीत सिंह और पीजीएफ/पीएसीएल पोंजि योजना मामले के ईडी सुब्रत भट्टाचार्य शामिल हैं।

ये भी पढ़ें- DDCA जांच आयोग के प्रमुख सुब्रमण्यम पर SC के वकील ने लगाए गंभीर आरोप

सीबीआइ के वरिष्ठ अधिकारियों ने कहा कि जांच एजेंसी के मुख्यालय में लंबी पूछताछ के बाद चारों को गिरफ्तार किया गया है। सूत्रों ने बताया कि पूछताछ के दौरान सभी ने खुद को निर्दोष बताया और जांच में सहयोग देना बंद कर दिया। इसके बाद उन्हें गिरफ्तार किया गया है।

इस मामले में देश भर के 5.5 करोड़ निवेशकों से 45,000 करोड़ रुपये जुटाए गए थे। गौड़ ने बताया कि यह मामला आइपीसी की धारा 120 बी (आपराधिक साजिश) के साथ ही 420 (जालसाजी) के तहत दर्ज किया गया है। भारी वापसी का लालच देकर निवेशकों को आकर्षित किया गया था।

ये भी पढ़ें- हुड्डा पर कसा शिकंजा, सीबीआइ ने हाथ में ली प्लॉट आवंटन की जांच

Edited By Gunateet Ojha

Jagran Play

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

  • game banner
  • game banner
  • game banner
  • game banner