देश के 400 जिलों में कोरोना साप्ताहिक संक्रमण दर 10 फीसद से ज्यादा, कर्नाटक और केरल समेत कई राज्‍यों में आ रहे ज्‍यादा मामले

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने गुरुवार को बताया कि देश में कोरोना के कुल 2202472 सक्रिय मामले हैं। मुंबई और दिल्‍ली में कोरोना संक्रमण के मामलों में भले ही कमी आई है लेकिन कुछ राज्‍य ऐसे हैं जहां महामारी की नई लहर चिंता पैदा कर रही है।

Krishna Bihari SinghPublish: Thu, 27 Jan 2022 04:21 PM (IST)Updated: Fri, 28 Jan 2022 02:10 AM (IST)
देश के 400 जिलों में कोरोना साप्ताहिक संक्रमण दर 10 फीसद से ज्यादा, कर्नाटक और केरल समेत कई राज्‍यों में आ रहे ज्‍यादा मामले

नई दिल्‍ली, एजेंसियां। मुंबई और दिल्‍ली में कोरोना संक्रमण के मामलों में भले ही कमी आई है लेकिन कुछ राज्‍य ऐसे हैं जहां महामारी की नई लहर चिंता पैदा कर रही है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने गुरुवार को कहा कि कुछ जगहों पर कोविड संक्रमण के मामले कम होने या उनमें कोई परिवर्तन नहीं होने के संकेत मिले है। देश के 400 जिलों में कोविड-19 की साप्ताहिक संक्रमण दर 10 प्रतिशत से ज्यादा है जो चिंता की वजह है। देश में कोरोना के कुल 22,02,472 सक्रिय मामले हैं।  

स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने कहा कि कर्नाटक, केरल, तमिलनाडु, गुजरात, आंध्र प्रदेश और राजस्थान में कोरोना के ज्‍यादा मामले आ रहे हैं। ऐसे में संक्रमण में हो रही बढ़ोतरी को रोकने के लिए सतर्कता बरतने की जरूरत है। हालांकि उत्तर प्रदेश, दिल्ली, ओडिशा, हरियाणा, पश्चिम बंगाल और महाराष्ट्र में कोरोना के मामलों और संक्रमण दर में गिरावट आई है।

लव अग्रवाल ने कहा कि मौजूदा वक्‍त में 11 राज्यों में 50 हजार से अधिक सक्रिय मामले हैं। वहीं महाराष्ट्र, कर्नाटक और केरल में तीन लाख से अधिक सक्रिय मामले हैं। आंध्र प्रदेश, गुजरात और तमिलनाडु में अभी भी एक से दो लाख सक्रिय मामले हैं। देश में 551 जि‍लों में केस पाजिटिविटी पांच फीसद से ज्‍यादा है। पिछले एक हफ्ते में देश में प्रतिदिन औसतन लगभग तीन लाख मामले दर्ज किए गए हैं।  

लव अग्रवाल ने कहा कि कोरोना के उपचाराधीन मरीजों के मामले में शीर्ष 10 राज्यों का देश में कुल उपचाराधीन मामलों में 77 फीसद से अधिक का योगदान है। देश के 11 राज्यों में 50 हजार से अधिक उपचाराधीन मरीज हैं जबकि कर्नाटक, महाराष्ट्र और केरल में तीन लाख से अधिक मरीज हैं। हालांकि राहत की बात यह है कि महामारी से मौत के मामले पहले की लहरों की तुलना में इस लहर में अपेक्षाकृत कम हैं।

लव अग्रवाल ने बताया कि देश में पिछले एक हफ्ते में केस पाजिटिविटी लगभग 17.75 फीसद रही है। देश में कोविड-19 रोधी टीकाकरण अभियान में सुचारू रूप से चल रहा है। अब तक 95 फीसद को पहली खुराक जबकि 74 फीसद योग्‍य व्‍यक्तियों को कोविड रोधी वैक्‍सीन की दूसरी खुराक दी जा चुकी है। यही नहीं 97.03 लाख पात्र आबादी को 'एहतियाती खुराक' भी दी जा चुकी है।

इसके साथ ही स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय ने लोगों को सलाह दी कि हर दिन, हर समय कोविड अनुरूप व्यवहारों का पालन करें। दूसरों को भी इसके लिए प्रेरित करें और सुरक्षित रहें। मंत्रालय ने बताया कि पिछले एक हफ्ते के दौरान पूरे विश्व में 33 लाख के करीब मामले दर्ज किए गए हैं। यही नहीं दुनियाभर भर में सक्रिय मामलों की संख्या लगभग 6.8 करोड़ दर्ज की गई है।

Edited By Krishna Bihari Singh

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept