This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.
OK

भारत पर नहीं बदलेगी आइएसआइ अपना रुख

पाकिस्तान की शक्तिशाली खुफिया एजेंसी आइएसआइ में हालिया नेतृत्व परिवर्तन के बावजूद भारत और अफगानिस्तान को लेकर उसकी नीतियों में बदलाव नहीं आएगा। अमेरिका में दक्षिण एशियाई मामलों के एक विशेषज्ञ ने यह अनुमान जताया है।

Kamal VermaFri, 14 Nov 2014 04:32 PM (IST)
भारत पर नहीं बदलेगी आइएसआइ अपना रुख

वाशिंगटन। पाकिस्तान की शक्तिशाली खुफिया एजेंसी आइएसआइ में हालिया नेतृत्व परिवर्तन के बावजूद भारत और अफगानिस्तान को लेकर उसकी नीतियों में बदलाव नहीं आएगा। अमेरिका में दक्षिण एशियाई मामलों के एक विशेषज्ञ ने यह अनुमान जताया है।

कार्नेजी एंडॉमेंट फॉर इंटरनेशनल पीस के दक्षिण एशिया कार्यक्रम के निदेशक फ्रेडरिक ग्रारे ने कहा, 'भारत और अफगानिस्तान के मामले में कुछ कारण हैं जिनसे माना जा सकता है कि आइएसआइ की रणनीतिक प्राथमिकताओं में बदलाव हुआ है। भारत के संदर्भ में यह रणनीतिक लक्ष्यों की निरंतरता और वर्तमान परिस्थितियों के अनुसार कुछ समझौतों में झलकता है।'

उन्होंने कहा, 'पाकिस्तानी सेना अफगान सीमा पर पाकिस्तान तालिबान से लड़ रही है। ऐसे में आइएसआइ ऐसी किसी गतिविधि से बच रही है जो नियंत्रण रेखा या अंतरराष्ट्रीय सीमा पर तनाव पैदा करे। साथ ही वह कश्मीर जैसे अहम मुद्दों को हल नहीं होने देना चाहती।' ग्रारे ने कहा कि अफगानिस्तान के संदर्भ में प्राथमिकताओं में कोई बदलाव नहीं है। अब भी उसका महत्वपूर्ण लक्ष्य वहां तुलनात्मक रूप से दोस्ताना सरकार को प्रोत्साहित करना और भारत के प्रभाव को यथासंभव कम करना ही है।

पढ़ें: लश्कर और आईएम से जुड़ा है आईएसआई का खास सलीम पतला

आईएसआई के करीबी हैं आईएम आतंकी

Edited By: Kamal Verma