वन रक्षक ने रेंजर सहित 11 के खिलाफ दर्ज किया केस, वीडियो वायरल

कोरबा कटघोरा वन मंडल के बांकीमोंगरा हल्दीबाड़ी क्षेत्र में अवैध कटाई किए जाने पर बीट गार्ड शेखर सिंह रात्रे ने रेंजर मृत्युंजय सिंह व डिप्टी रेंजर सहित 11 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज

Pooja SinghPublish: Sat, 18 Jul 2020 03:14 PM (IST)Updated: Sat, 18 Jul 2020 03:14 PM (IST)
वन रक्षक ने रेंजर सहित 11 के खिलाफ दर्ज किया केस, वीडियो वायरल

रायपुर, (नई दुनिया)। छत्तीसगढ़ के कोरबा कटघोरा वन मंडल के  बांकीमोंगरा हल्दीबाड़ी क्षेत्र में अवैध कटाई किए जाने पर बीट गार्ड  शेखर सिंह रात्रे ने रेंजर मृत्युंजय सिंह व डिप्टी रेंजर सहित 11 लोगों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है। शुक्रवार की घटना का वीडियो वायरल होने के बाद बिलासपुर के आइजी दिपांशु काबरा ने टि्वट किया है कि अगर मामला सही है तो ऐसे वन रक्षक को सलाम है।

इस बीच मुख्य वन संरक्षक बिलासपुर (सीसएफ) अनिल सोनी ने विभागीय जांच के आदेश दिए हैं तथा शनिवार शाम तक रिपोर्ट आने की उम्मीद है। उन्होंने् कहा कि सिर्फ वीडियो के आधार पर कार्रवाई नहीं की जा सकती इसलिए डीएफओ से रिपोर्ट मांगी गई है। दूसरी तरफ कटघोरा डीएफओ  शमा फारुकी ने शेखर के कार्यव्यवहार पर सवाल खड़ा करते हुए कहा है कि उन्हें सूचित किए बिना कोई कदम नहीं उठाया जाना चाहिए था। मीडिया के माध्यम से उन्हें पूरे मामले की शुरुआती जानकारी मिली।

शुक्रवार को वायरल वीडियो में अवैध कटाई किए जाने पर  बीट गार्ड  शेखर सिंह रात्रे अपने रेंजर मृत्युंजय सिंह को फटकार लगाते दिखते हैं। उन्होंने मौके पर ही रेंजर, डिप्टी रेंजर और 11 मजदूरों को रंगे हाथों पकड़ा और कटाई के लिए जारी लिखित आदेश की प्रति मांगी। अधिकारी अपने बचाव में विभागीय उद्देश्य के लिए ही बांस कटाई की बात करते रहे। वन अधिनियम के तहत 353 नग बांस जब्त कर मामला  दर्ज कर लिया है। बांस की  अवैध कटाई के वक्त बीट गार्ड शेखर रात्रे विभागीय आदेश पर मरवाही ट्री गार्ड लेने गए हुए थे। वापस अपने कार्य स्थल पर पहुंचे तो मौके पर बांस की कटाई हो रही थी। मजदूर बांस बाड़ी में पहुंचे हुए थे। बिना किसी वैधानिक आदेश के बांस की कटाई किए जाने को लेकर बीट गार्ड गुस्से में आ गया । मौके पर बीच बचाव करने पहुचे रेंजर मृत्युंजय सिंह के साथ भी जमकर बहस हुई। 

 बीट गार्ड शेखर रात्रे ने रेंजर से जब बांस कटाई करने की जानकारी चाही गई तो रेंजर ने  विभागीय कार्य के लिए बांस की कटाई किए जाने की जानकारी दी । लिखित आदेश मांगे जाने पर रेंजर मृत्युंजय सिंह बीट गार्ड को कुछ भी नहीं दिखा सके।  पंचनामा पर हस्ताक्षर करने को लेकर बीट गार्ड और रेंजर के बीच विवाद का वीडियो वायरल हुआ है। वन रक्षक शेखर बार बार हस्ताक्षर करने के लिए निर्देशित करते हुए कहते हैं कि -- आप रेंजर है और आपके आदेश पर ही मैं काम करता हूं परंतु मेरे क्षेत्र में आकर गलत काम करने के लिए आप अपराधी हो। जब्तीनामा में अगर आप दस्तखत नहीं करेंगे तो लिखना होगा कि आपने दस्तखत करने से मना किया। आप अपनी जगह पर अधिकारी होंगे परंतु यहां अपराधी  हैं और आपके खिलाफ अपराधी जैसी ही कार्रवाई होगी। -

सीसीएफ ने दिए जांच के आदेश

मुख्य वन संरक्षक बिलासपुर (सीसएफ) अनिल सोनी ने रिजर्व फॉरेस्ट में  बांस कटाई के मामले की जांच के आदेश दिए हैं । उन्होंने कहा कि शाम तक स्पष्ट हो जाएगा कि  मामला अवैध कटाई का है या फिर  कुछ और।  कटघोरा डीएफओ  शमा फारुकी  का कहना है कि बीट गार्ड को पहले  मुझे रिपोर्ट करना चाहिए था। पूरी घटना की जानकारी मुझे मीडिया के माध्यम से हुई । पाली एसडीओपी  को मौके पर जांच के लिए  भेजा गया है । दोषी पाए जाने वाले कर्मचारी अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई होगी ।

Edited By Pooja Singh

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept