भारत का कोविड-19 वैक्सीनेशन कवरेज 158.88 करोड़ से अधिक, जानें देश में अब तक का कोरोना वैक्सीन का सफर

स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय ने बुधवार को जानकारी देते हुए बताया कि भारत का कुल कोविड वैक्सीनेशन कवरेज 158.88 करोड़ से अधिक हो गया है। पिछले 24 घंटों में 76 लाख 35 हजार 229 कोविड वैक्सीन डोज देने के साथ भारत ने यह मुकाम हासिल किया है।

Geetika SharmaPublish: Wed, 19 Jan 2022 03:34 PM (IST)Updated: Wed, 19 Jan 2022 03:36 PM (IST)
भारत का कोविड-19 वैक्सीनेशन कवरेज 158.88 करोड़ से अधिक, जानें देश में अब तक का कोरोना वैक्सीन का सफर

नई दिल्ली, एएनआइ। स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय ने बुधवार को जानकारी देते हुए बताया कि देश में पिछले 24 घंटों में 76 लाख से अधिक लोगों को वैक्सीन डोज देने के बाद बुधवार को भारत का कुल कोविड वैक्सीनेशन कवरेज 158.88 करोड़ से अधिक हो गया है। मंत्रालय ने एक बयान में कहा कि पिछले 24 घंटों में 76 लाख 35 हजार 229 कोविड वैक्सीन डोज देने के साथ आज सुबह 7 बजे तक की रिपोर्ट के अनुसार भारत का कुल कोविड वैक्सीनेशन कवरेज 158 करोड़ 88 लाख 47 हजार 554 तक पहुंच गया है। मंत्रालय ने आगे बताया कि यह मुकाम देश में 1 करोड़, 70 लाख, 80 हजार 295 सत्रों के माध्यम से हासिल किया गया है।

वैक्सीनेशन अभियान को देश में एक साल पूरा

इसके साथ ही स्वास्थ्य मंत्रालय ने आगे बताया कि देश में 56 लाख से अधिक कोविड वैक्सीन की एहतियाती डोज (बूस्टर डोज) भी दी जा चुकी है। मंत्रालय ने बताया कि अब तक लोगों को 56 लाख 66 हजार 263 ऐहतियाती डोज भी दी जा चुकी हैं। इनमें से 21 लाख 52 हजार 696 डोज स्वास्थ्य कर्मियों को 18 लाख 65 हजार 300 डोज फ्रंटलाइन वर्कर्स को और 16 लाख 48 हजार 267 डोज (60) साल से अधिक उम्र के गंभीर बीमारियों से पीड़ित लोगों को दी गई। वहीं, 15 से 18 साल की उम्र के बच्चों को 3 करोड़ 73 लाख 04 हजार 693 वैक्सीन की पहली डोज दी गई है। आपको बता दें कि भारत में कोविड वैक्सीनेशन अभियान को 16 जनवरी 2022 को एक साल पूरा हो गया है।

कब शुरू हुआ देश में वैक्सीनेशन का सफर

पिछले साल 2021 में स्वास्थ्य कर्मियों को कोविड वैक्सीन लगाकर वैक्सीनेशन अभियान की शुरुआत की गई थी। इसके बाद वैक्सीन को फ्रंटलाइन वर्कर्स तक बढ़ाया गया। इसके बाद पिछले साल 1 मार्च को 60 साल की उम्र के सभी लोगों और 45 साल से अधिक उम्र के गंभीर बीमारियों से पीड़ित लोगों को वैक्सीन की डोज दी गई थी। इसके बाद 1 अप्रैल 2021 को 45 साल से अधिक उम्र के सभी लोगों और फिर 1 मई 2021 को 18 साल से अधिक उम्र वालों के लिए भी बढ़ाया गया। साथ ही 15-18 साल की उम्र के बच्चों के लिए वैक्सीनेशन अभियान 3 जनवरी 2022 को शुरू किया गया था और स्वास्थ्य कर्मियों, फ्रंटलाइन वर्कर्स और साठ से अधिक उम्र के लोगों को एहतियाती डोज देने की शुरुआत इस साल 10 जनवरी को की गई थी।

Edited By Geetika Sharma

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept