छत्तीसगढ़: सीएम बघेल का बड़ा तोहफा, अब हफ्ते में पांच ही दिन काम करेंगे सरकारी कर्मचारी

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने राज्य के सरकारी कर्मचारियों को बड़ी सौगात दी है। गणतंत्र दिवस के मौके पर सीएम बघेल ने कई घोषणाएं की हैं। छत्तीसगढ़ के सरकारी कर्मचारियों को अब हफ्ते में पांच ही दिन काम करना होगा।

Manish NegiPublish: Wed, 26 Jan 2022 12:52 PM (IST)Updated: Wed, 26 Jan 2022 12:52 PM (IST)
छत्तीसगढ़: सीएम बघेल का बड़ा तोहफा, अब हफ्ते में पांच ही दिन काम करेंगे सरकारी कर्मचारी

नई दिल्ली, जेएनएन। छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने गणतंत्र दिवस के मौके पर प्रदेशवासियों के लिए कई बड़े एलान किए हैं। साथ ही सीएम ने राज्य के सरकारी कर्मचारियों को बड़ी सौगात दी है। छत्तीसगढ़ में सरकारी कर्मचारियों को अब हफ्ते में पांच दिन ही काम करना होगा। बस्तर जिला मुख्यालय जगदलपुर में राष्ट्रीय ध्वज फहराने के बाद उन्होंने कई घोषणाएं की। आपको बताते हैं कि सीएम ने राज्य की जनता के लिए क्या-क्या एलान किए हैं।

  • खरीफ वर्ष 2022-23 से प्रदेश में दलहन फसल जैसे मूंग, उड़द, अरहर इत्यादि की खरीदी भी न्यूनतम समर्थन मूल्य पर की जाएगी।
  • श्रमिक परिवारों की बेटियों हेतु "मुख्यमंत्री नोनी सशक्तिकरण सहायता योजना" शुरू की जाएगी।
  • इस योजना के तहत हितग्राहियों की पहली दो बेटियों के बैंक खाते में 20-20 हजार रुपये की राशि का एकमुश्त भुगतान किया जाएगा।
  • लर्निंग लाइसेंस बनाने की प्रक्रिया का सरलीकरण एवं बड़ी संख्या में परिवहन सुविधा केंद्र, युवा रोजगार हेतु आरंभ किए जाएंगे।
  • रिहायशी क्षेत्रों में संचालित व्यवसायिक गतिविधियों के नियमितीकरण हेतु आवश्यक प्रावधान किए जाएंगे।
  • समस्त अनियमित भवन निर्माण के नियमितीकरण हेतु इसी वर्ष कानून लाया जाएगा।
  • नगर निगम के बाहर निवेश क्षेत्रों में 500 वर्ग मीटर के भूखंड हेतु बिना मानवीय हस्तक्षेप के भवन अनुज्ञा जारी की जाएगी।
  • वृक्ष कटाई अनुमति के नियमों का सरलीकरण करते हुए नागरिकों के हित में नियमों में आवश्यक संशोधन किए जाएंगे।
  • नल कनेक्शन प्रक्रिया का सरलीकरण करते हुए मानवीय हस्तक्षेप मुक्त किया जाएगा।
  • शहरी क्षेत्रों की तरह ग्रामीण क्षेत्रों में शासकीय पट्टे की भूमि फ्री होल्ड की जाएगी।
  • मुख्यमंत्री शहरी स्लम स्वास्थ्य योजना प्रदेश के सभी नगरीय निकायों में भी प्रारंभ की जाएगी।
  • औद्योगिक नीति में संशोधन कर अन्य पिछड़ा वर्ग में उद्यमिता विकास हेतु 10% भूखंड आरक्षित किए जाएंगे।
  • शासकीय कर्मचारियों के हित में "अंशदायी पेंशन योजना" के अंतर्गत राज्य सरकार का अंशदान 10% से बढ़ाकर 14% किया जाएगा।
  • प्रदेश में तीरंदाजी को प्रोत्साहित करने हेतु जगदलपुर में "शहीद गुण्डाधुर राज्य स्तरीय तीरंदाजी अकादमी" आरंभ की जाएगी।
  • महिला सुरक्षा हेतु प्रत्येक ज़िले में "महिला सुरक्षा प्रकोष्ठ" का गठन किया जाएगा।

सीएम ने ट्वीट कर कहा कि आज गणतंत्र दिवस के पावन अवसर पर प्रदेशवासियों के लिए की गई महत्वपूर्ण घोषणाएं आप अभी के साथ साझा कर रहा हूं।

Edited By Manish Negi

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept