This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.
OK

नक्सलियों को छत्तीसगढ़ से खदेड़ने का ब्लू प्रिंट तैयार, आपरेशन तेज करने की बनाई गई रणनीति

केंद्रीय गृह मंत्रालय के सुरक्षा सलाहकार विजय कुमार ने पुलिस महानिदेशक अशोक जुनेजा सहित सुरक्षा बलों के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बैठक कर छत्तीसगढ़ से नक्सलियों को खदेड़ने का प्लान तैयार किया गया। अगले चार महीने का प्लान तैयार किया गया है।

Arun Kumar SinghMon, 29 Nov 2021 09:35 PM (IST)
नक्सलियों को छत्तीसगढ़ से खदेड़ने का ब्लू प्रिंट तैयार, आपरेशन तेज करने की बनाई गई रणनीति

 रायपुर, राज्य ब्यूरो। केंद्रीय गृह मंत्रालय के सुरक्षा सलाहकार विजय कुमार ने पुलिस महानिदेशक अशोक जुनेजा सहित सुरक्षा बलों के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बैठक कर छत्तीसगढ़ से नक्सलियों को खदेड़ने का प्लान तैयार किया गया। छत्तीसगढ़ के पुराने पुलिस मुख्यालय में आयोजित बैठक में पुलिस महानिदेशक जुनेजा के अलावाएडीजी (नक्सल आपरेशन) विवेकानंद, अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक (नक्सल आपरेशन), केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ), सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ), भारत- तिब्बत सीमा पुलिस (आइटीबीपी) के महानिरीक्षक एवं अन्य अधिकारियों ने करीब दो घंटे तक मंथन किया। जुनेजा के डीजीपी का पदभार संभालने के बाद विजय कुमार पहली बार छत्तीसगढ़ पहुंचे।

अगले चार माह का प्‍लान तैयार

बैठक में पुलिस के आलाधिकारियों ने बताया कि अगले चार महीने का प्लान तैयार किया गया है। इसमें सुकमा, बीजापुर, नारायणपुर और दंतेवाड़ा के अंदरनी इलाकों में नक्सलियों के खिलाफ आपरेशन तेज करने की रणनीति बनाई गई। इससे पहले विजय कुमार ने नारायणपुर में सुरक्षा बलों केवरिष्ठ अधिकारियों से चर्चा की। इस समय नक्सली छत्तीसगढ़ के बीजापुर, नारायणपुर और दंतेवाड़ा में सक्रियहैं। तेलंगाना, ओडिशा और महाराष्ट्र सीमा पर नक्सली गतिविधियों पर सुरक्षा बलों की नजर है।

बैठक में अधिकारियों ने बताया कि कुछ नए जिलों में भी नक्सली गतिविधियों को लेकर खुफिया अलर्ट मिला है। इस पर भी विशेष रूप से चर्चा की गई है। बैठक के बाद मीडिया से चर्चा में विवेकानंद सिन्हा ने कहा कि नक्सल प्रभावित क्षेत्र में कैंप में रहने वाले जवानों और अधिकारियों से विस्तार से चर्चा हुई है। बैठक में नक्सलियों के खिलाफ अभियान चलाने पर मंथन किया गया। आगे किस तरह से छत्तीसगढ़ पुलिस और फोर्स के जवानों के बीच तालमेल के साथ अभियान चलाया जाएगा, इस पर भी चर्चा हुई है।

नक्सली हमले के बाद 15 दिसंबर तक किरंदुल के लिए यात्री ट्रेनें रद

किरंदुल रेलखंड में कुछ दिन पहले नक्सलियों द्वारा रेल की पटरी उखाड़ने की घटना को लेकर रेलवे ने यात्री सुरक्षा को लेकर सतर्कता बढ़ा दी है। रेल प्रशासन ने 15 दिसंबर तक किरंदुल से चलने वाली दोनों यात्री ट्रेनों जगदलपुर में रोकने का निर्णय लिया है। दोनों गाडि़यां इस अवधि में किरंदुल के बजाय जगदलपुर-विशाखापटनम के बीच संचालित की जाएंगी। गौरतलब है कि 26 नवंबर की रात किरंदुल रेलखंड केभांसी-कमलूर स्टेशन के बीच रेलपटरी उखाड़ दी थी। इसके कारण मालगाड़ी पटरी से उतर गई थी।

Edited By: Arun Kumar Singh