एके मेहता बनाए गए जम्मू-कश्मीर के मुख्य सचिव, बीवीआर सुब्रमण्यम को वाणिज्य मंत्रालय में OSD की जिम्‍मेदारी

आईएएस अधिकारी एके मेहता को जम्मू-कश्मीर के मुख्य सचिव का पदभार ग्रहण करने को कहा गया। वह जम्मू-कश्मीर काडर के आईएएस अधिकारी हैं। वहीं दूसरी ओर मौजूदा मुख्य सचिव बीवीआर सुब्रमण्यम का केंद्र में वाणिजय मंत्रालय में नियुक्‍त किया गया है।

Krishna Bihari SinghPublish: Thu, 27 May 2021 10:26 PM (IST)Updated: Thu, 27 May 2021 10:43 PM (IST)
एके मेहता बनाए गए जम्मू-कश्मीर के मुख्य सचिव, बीवीआर सुब्रमण्यम को वाणिज्य मंत्रालय में OSD की जिम्‍मेदारी

नई दिल्‍ली, एजेंसियां। आईएएस अधिकारी एके मेहता को जम्मू-कश्मीर के मुख्य सचिव का पदभार ग्रहण करने को कहा गया। वह जम्मू-कश्मीर काडर के आईएएस अधिकारी हैं। वहीं दूसरी ओर मौजूदा मुख्य सचिव बीवीआर सुब्रमण्यम का केंद्र में वाणिजय मंत्रालय में नियुक्‍त किया गया है। अधिकारियों के अनुसार उपराज्यपाल मनोज सिन्हा को केंद्रीय गृह सचिव अजय भल्ला ने इस फैसले के बारे में जानकारी दी।

समाचार एजेंसी पीटीआइ के मुताबिक इस फैसले पर नियुक्ति से संबंधित मंत्रिमंडलीय समिति अपनी मुहर लगा चुकी है। सुब्रमण्यम को वाणिज्य मंत्रालय में विशेष कार्याधिकारी की जिम्‍मेदारी दी गई है। उन्हें 30 जून को वाणिज्य सचिव नियुक्त किया जाएगा। उस समय मौजूदा वाणिज्य सचिव अनूप वाधवन सेवानिवृत होंगे। सुब्रमण्यम छत्तीसगढ़ से 1987 बैच के आईएएस अधिकारी हैं।

केंद्रीय कार्मिक, लोक शिकायत और पेंशन मंत्रालय की ओर से जारी आदेश में कहा गया है कैबिनेट की नियुक्ति समिति (एसीसी) ने बीवीआर सुब्रह्मण्यम को वाणिज्य विभाग में स्पेशल ड्यूटी अधिकारी के रूप में नियुक्त करने को मंजूरी दी है। एके मेहता को सचिव के पद पर भी पदोन्नत किया गया है। वह जम्मू-कश्मीर में वित्तीय आयुक्त (वित्त विभाग) के रूप में तैनात हैं। सूत्र बताते हैं कि मेहता शीर्ष पद के लिए पसंदीदा अधिकारी हैं। उनकी ईमानदारी और प्रशासनिक समझ बेजोड़ है। 

सूत्रों का कहना है कि एके मेहता की विशेषता है कि वह बोलते कम और काम ज्‍यादा करते हैं। इस बीच केंद्र सरकार ने गुरुवार को रिसर्च एंड एनालिसिस विंग (रॉ) के प्रमुख सामंत कुमार गोयल और आईबी यानी इंटेलिजेंस ब्यूरो के निदेशक अरविंद कुमार के कार्यकाल को एक साल के लिए और बढ़ा दिया है। गोयल पंजाब कैडर से 1984 बैच के आईपीएस अधिकारी हैं। उनका कार्यकाल 30 जून को समाप्त हो रहा था। 

Edited By Krishna Bihari Singh

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept