पुणे में मनाया जा रहा 'पैदल यात्री दिवस', लक्ष्‍मी रोड से नही गुजर सकेंगे निजी वाहन

Pedestrian Day पुणे में आज पैदल यात्री दिवस मनाया जा रहा है इसके लिए यहां के लक्ष्‍मी रोड पर विभिन्‍न कार्यक्रमों का आयोज‍न किया जाएगा। इस दौरान निजी वाहनों को इस सड़क से गुजरने की अनुमति नहीं दी गई है।

Babita KashyapPublish: Sat, 11 Dec 2021 11:09 AM (IST)Updated: Sat, 11 Dec 2021 11:28 AM (IST)
पुणे में मनाया जा रहा 'पैदल यात्री दिवस', लक्ष्‍मी रोड से नही गुजर सकेंगे निजी वाहन

पुणे, एएनआइ। महाराष्ट्र के पुणे (Pune) शहर में आज 'पैदल यात्री दिवस' (Pedestrian Day) मनाया जा रहा है। इसके लिए सुबह 10 बजे से शाम 4 बजे तक यहां के लक्ष्‍मी रोड ( Laxmi Road) पर किसी भी निजी वाहन को गुजरने की अनुमति नही दी गई है। पुणे नगर निगम ( Pune Municipal Corporation) ने लक्ष्‍मी रोड पर आज विभिन्‍न कार्यक्रमों का आयोजन किया है।

पुणे के महापौर का कहना है कि नागरिकों को पैदल यात्री दिवस का महत्‍व समझना चाहिए। अत: इस निजी वाहनों का प्रयोग न करें। लंबी दूरी की यात्रा के लिए सार्वजनिक वाहनों का ही प्रयोग करें। अगर आप निजी वाहनों का उपयोग करना भी चाहते हैं तो उन्‍हें लक्ष्‍मी रोड पर न लाये आप वहां से कुछ दूरी पर इन्‍हें पार्क कर सकते हैं। नागरिकों से भी पैदल यात्री दिवस मनाने की अपील की गई है। 2011 की जनगणना के अनुसार सभी यात्राओं में से एक तिहाई यात्रा तो हम पैदल ही करते हैं। इन आंकड़ों के अनुसार महिलाएं पुरुषों की तुलन में अधिक चलती हैं।

एनएसओ (राष्ट्रीय सांख्यिकी संगठन) के अनुसार देश के लगभग 60 प्रतिशत बच्‍चे पैदल ही स्‍कूल जाते हैं, लेकिन इसके बावजूद भी पैदल चलने वालों के बुनियादी ढांचा अपर्याप्‍त है। हालांकि पैदल चलने वालों की संख्‍या लगातार बढ़ती जा रही है। सड़क परिवहन व राजमार्ग मंत्रालय की ओर से जारी की गई एक रिपोर्ट के अनुसार, भारत में सड़क दुर्घटना के आंकड़ों के अनुसार सड़क दुर्घटना में मरने वाले 17 प्रतिशत लोग पैदल चलने वाले होते हैं। 2019 में 25 हजार 858 यात्री इस तरह मारे गए थे। हालांकि पांच वर्षो में ये संख्‍या 85 प्रतिशत तक बढ़ चुकी है।

Edited By Babita Kashyap

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept