Tipu Sultan: मुंबई में टीपू सुल्तान के नाम पर बने स्पो‌र्ट्स कांप्लेक्स के विरोध में दी गिरफ्तारी

Tipu Sultan मुंबई में बुधवार को भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) विश्व हिंदू परिषद विहिप व बजरंग दल ने मालवणी में टीपू सुल्तान के नाम पर बने स्पोर्ट्स कांप्लेक्स के उद्घाटन से पहले जमकर विरोध-प्रदर्शन किया और गिरफ्तारी दी।

Sachin Kumar MishraPublish: Wed, 26 Jan 2022 04:41 PM (IST)Updated: Wed, 26 Jan 2022 09:24 PM (IST)
Tipu Sultan: मुंबई में टीपू सुल्तान के नाम पर बने स्पो‌र्ट्स कांप्लेक्स के विरोध में दी गिरफ्तारी

मुंबई, राज्य ब्यूरो। महाराष्ट्र की राजधानी मुंबई में बुधवार को भारतीय जनता पार्टी (भाजपा), विश्व हिंदू परिषद विहिप व बजरंग दल ने मालवणी में टीपू सुल्तान के नाम पर बने स्पोर्ट्स कांप्लेक्स के उद्घाटन से पहले जमकर विरोध-प्रदर्शन किया और गिरफ्तारी दी। यह स्पोर्ट्स कांप्लेक्स महाविकास अघाड़ी सरकार में मंत्री व कांग्रेस विधायक असलम शेख ने अपनी विधायक निधि से बनवाया है। स्पोर्ट्स कांप्लेक्स को सदर वीर टीपू सुल्तान क्रीडा संकुल नाम दिए जाने को लेकर भाजपा व हिंदू संगठन कल से ही विरोध जता रहे थे। बुधवार शाम इस संकुल का उद्घाटन स्वयं असलम शेख को करना था। वह मुंबई के प्रभारी मंत्री भी हैं, लेकिन विश्व हिंदू परिषद, बजरंग दल व भाजपा के कार्यकर्ताओं ने उद्घाटन समारोह शुरू होने से पहले ही संकुल के बाहर जमकर विरोध प्रदर्शन व हंगामा किया। बजरंग दल के कार्यकर्ताओं का कहना था कि वह छत्रपति शिवाजी महाराज की धरती पर आतताई टीपू सुल्तान के नाम पर किसी परियोजना का नामकरण नहीं होने देंगे। पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने भी कहा है कि एक अत्याचारी के नाम पर इस तरह के नामकरण किए जाने का अर्थ है कि हम उस अत्याचार का महिमामंडलन कर रहे हैं।

यह क्रीडा संकुल बनवाने वाले मंत्री असलम शेख का कहना है कि टीपू सुल्तान अंग्रेजों के विरुद्ध लड़ते हुए मारा जाने वाला एकमात्र राजा था। इस तथ्य को स्वीकार करते हुए अब तक अनेक राज्यों में टीपू सुल्तान के नाम पर चौराहों, सड़कों व अन्य प्रतिष्ठानों का नामकरण किया जा चुका है। तो अब इस विरोध का कोई कारण नजर नहीं आता। कांग्रेस के ही प्रवक्ता सचिन सावंत कहते हैं कि दो दिन पहले प्रधानमंत्री जिन सुभाष चंद्र बोस की होलोग्राम प्रतिमा का उद्घाटन किया है, उन सुभाष चंद्र बोस ने भी टीपू सुल्तान को शहीद बताकर उनका सम्मान किया था। टीपू सुल्तान की सेना में दो सिंहों का जो प्रतीक चिह्न उपयोग किया जाता था, उस उपयोग अपनी आजाद हिंद फौज के झंडे व गणवेश पर सुभाषचंद्र बोस ने किया था। इसलिए भाजपा को चुनावी लाभ के लिए ऐतिहासिक तथ्यों से छेड़छाड़ नहीं करनी चाहिए।

जानें, क्या है मामला और क्यों हो रहा विरोध

मुंबई के मालवणी इलाके में महाविकास अघाड़ी सरकार के मंत्री असलम शेख के हाथों एक स्पो‌र्ट्स कांप्लेक्स का उद्घाटन गणतंत्र दिवस को हुआ। इसका नामकरण मैसूर के पूर्व शासक टीपू सुल्तान के नाम पर किया गया है। मालवणी असलम शेख का विधानसभा क्षेत्र है। वह राज्य सरकार में कांग्रेस कोटे से मंत्री हैं। महाविकास अघाड़ी सरकार के मंत्री असलम शेख ने अपनी विधायक निधि से इस स्पो‌र्ट्स कांप्लेक्स का निर्माण करवाकर इसका नाम 'सदर वीर टीपू सुल्तान क्रीड़ा संकुल' रखा है, जिस पर सवाल उठ रहे हैं। विश्व हिंदू परिषद के प्रवक्ता श्रीराज नायर ने कहा है कि निश्चित रूप से यह मुंबई की शांति को खत्म करने का प्रयास है। इसे रोका जाना चाहिए। हमारा महाराष्ट्र संतों की भूमि रहा है। यहां किसी बर्बर हिंदू विरोधी के नाम पर किसी परियोजना का नामकरण निंदनीय है। महाराष्ट्र भाजपा ने भी इस कांप्लेक्स की तस्वीर के साथ उद्धव ठाकरे द्वारा दो दिन पहले दिए गए बयान का उल्लेख करते हुए ट्वीट किया है। भाजपा ने लिखा, 'जिसके नाम पर आपने स्पो‌र्ट्स कांप्लेक्स का नामकरण किया है, उसने हजारों हिंदुओं की हत्या की थी और मंदिरों को तोड़ा था। क्या शिवसेना अब उसे पसंद करने लगी है? 

Edited By Sachin Kumar Mishra

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept