Sundar Pichai: मुंबई में गूगल के सीईओ सुंदर पिचाई के खिलाफ एफआइआर दर्ज, जानें-क्या है मामला

Sundar Pichai अदालत के निर्देश पर मुंबई पुलिस ने कापीराइट अधिनियम के उल्लंघन के लिए गूगल के सीईओ सुंदर पिचाई और उनकी कंपनी के पांच अन्य अधिकारियों के खिलाफ एफआइआर दर्ज की है। फिल्म निर्देशक सुनील दर्शन ने अपनी शिकायत पर यह कार्रवाई हुई है।

Sachin Kumar MishraPublish: Wed, 26 Jan 2022 05:03 PM (IST)Updated: Thu, 27 Jan 2022 02:01 AM (IST)
Sundar Pichai: मुंबई में गूगल के सीईओ सुंदर पिचाई के खिलाफ एफआइआर दर्ज, जानें-क्या है मामला

मुंबई, एएनआइ। महाराष्ट्र की एक अदालत के निर्देश पर मुंबई पुलिस ने बुधवार को कापीराइट अधिनियम के उल्लंघन के लिए गूगल के सीईओ सुंदर पिचाई और उनकी कंपनी के पांच अन्य अधिकारियों के खिलाफ एफआइआर दर्ज की है। फिल्म निर्देशक सुनील दर्शन ने अपनी शिकायत में कहा कि गूगल ने अनधिकृत व्यक्तियों को उनकी फिल्म 'एक हसीना थी एक दीवाना था' को यूट्यूब पर अपलोड करने की अनुमति दी थी।वहीं, इस संबंध में एफआइआर दर्ज होने के बाद पुलिस इस मामले के हर पहलू की जांच कर रही है। गौरतलब है कि साल 2014 के अगस्त में सुंदर पिचाई गूगल के हेड बने थे। इसके बाद साल 2019 में सुंदर पिचाई को गूगल के साथ ही एल्फाबेट का सीईओ बना दिया गया। उन्होंने आइआइटी खड़गपुर से पढ़ाई की है।

एल्फाबेट और गूगल के सीईओ सुंदर पिचाई ने चेतावनी दी थी कि दुनियाभर में स्वतंत्र व मुक्त इंटरनेट पर हमले हो रहे हैं और कई देश सूचनाओं के प्रवाह को बाधित कर रहे हैं।एक साक्षात्कार में पिचाई ने सीधे चीन का नाम लिए बगैर कहा कि कई देश सूचनाओं के प्रवाह को बाधित कर रहे हैं और माडल को हल्के में लिया जाता है। उन्होंने कहा था कोई भी हमारा प्रमुख उत्पाद या सेवाएं चीन में उपलब्ध नहीं हैं। उन्होंने साफ किया कि इंटरनेट के भविष्य का निर्धारण करने की जिम्मेदारी किसी व्यक्ति की नहीं बल्कि सामूहिक थिंक टैंक पर होनी चाहिए जो स्वतंत्र इंटरनेट के बुनियादी स्तंभों को ध्यान में रखते हुए भविष्य निर्धारित करे। पिचाई ने कहा कि आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस (एआइ) आग, बिजली या इंटरनेट से ज्यादा गहन है। उन्होंने कहा कि मैं इसे सबसे गहन तकनीक के रूप में देखता हूं जिसे मानवता कभी विकसित करेगी और जिस पर काम करेगी। उनकी जड़ों के बारे में पूछे जाने पर 49 वर्षीय पिचाई ने कहा कि मैं अमेरिकी नागरिक हूं, लेकिन भारत मुझमें गहरे तक है। इसलिए मैं जो हूं उसका यह बड़ा हिस्सा है।

Edited By Sachin Kumar Mishra

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept