ग्‍वालियर में दो छात्र मिले पॉजिटिव, नया वैरिएंट ओमीक्रोन तो नहीं; जांच के लिए दिल्‍ली भेजे जाएंगे सैंपल

मध्‍य प्रदेश के ग्‍वालियर में दो छात्रों के संक्रमित होने से प्रशासन व स्‍वास्‍थ्‍य विभाग के हाथ-पांव फूल गए हैं। छात्रों के नमूनों को जांच के लिए दिल्‍ली भेजा जा रहा है। बता दें कि ये नया वैरिएंट बहुत तेजी से फैलता है।

Babita KashyapPublish: Tue, 30 Nov 2021 11:48 AM (IST)Updated: Tue, 30 Nov 2021 12:08 PM (IST)
ग्‍वालियर में दो छात्र मिले पॉजिटिव, नया वैरिएंट ओमीक्रोन तो नहीं; जांच के लिए दिल्‍ली भेजे जाएंगे सैंपल

ग्‍वालियर, जेएनएन। कोरोना संक्रमण के मामलों कुछ कमी जरूर आयी थी लेकिन यह महामारी अभी खत्‍म नहीं हुई है, वहीं इसके नए वेरिएंट ओमीक्रोन के आने के बाद से चिंता और बढ़ गई है। टेकनपुर में दो छात्रों को कोरोना संक्रमित मिलने के बाद प्रशासन और स्‍वास्‍थ्‍य विभाग की चिंता बढ़ गई है। कहीं ये नए वैरिएंट ओमीक्रोन का मामला तो नहीं है इसे लेकर दोनों छात्रों के सैंपल जांच के लिए दिल्‍ली भेजे जाएंगे। बता दें के कोरोना की तीसरी लहर का खतरा अभी टला नहीं है क्‍योंकि कहा जा रहा है कि कोरोना का ये नया वैरिएंट बहुत तेजी से फैलता है। इसे लेकर पूरे देश में दहशत का माहौल है। शहर में बस स्‍टैंड और रेलवे स्‍टेशन पर भी जांच के लिए स्‍वास्‍थ्‍य विभाग की टीम को लगाया गया है। यहां आने वाले लोगों की जांच की जा रही है। इनमें दिल्‍ली, पंजाब, केरल, तमिलनाडु, आंध्र प्रदेश, बंगाल जैसे राज्‍य शामिल हैं।

गौरतलब है कि शहर में कोरोना की दूसरी लहर के आतंक को अभी तक लोग नहीं भुला पाये हैं । ऐसे में नए वैरिएंट ने चिंता और बढ़ा दी है। अप्रैल 2021 से सितंबर 2021 तक दूसरी लहर आई थी। उन हालातों को याद करो तो रोंगटे खड़े हो जाते हैं। अस्‍पतालों में बुरा हाल था, मरीजों को भर्ती करने के लिए भी जगह नहीं मिल रही थी। मरने वालों की संख्‍या इतनी अधिक थी की शमशान घाट में अर्थियों की कतारें लगी हुई थी। अंतिम संस्‍कार करवाने के लिए भी जान पहचान और सिफारिशों की जरूरत पड़ रही थी और लंबा इंतजार करना पड़ रहा था। परिजन अंतिम संस्‍कार के लिए जगह न मिलने पर रात को नदी में भी शवों को बहाने पर मजबूर थे। उस समय हालात बेहद खराब थे ऐसे में तीसरी लहर से दहशत होना लाजमी है ।

Omicron Variant: हो जाएं सावधान लगातार बढ़ रही है कोरोना मरीजों की संख्‍या, जाने क्‍या है इसकी वजह

Edited By Babita Kashyap

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept
ट्रेंडिंग न्यूज़

मौसम