ब्रिटेन: 12-15 साल के बच्चों को लगेगी कोरोना वैक्सीन लेकिन नहीं होगी कोई बाध्यता

ब्रिटेन के मुख्य चिकित्सा अधिकारियों ने फैसला किया कि 12 से 15 साल के बच्चों को कोरोना रोधी टीका दिया जाना चाहिए। चिकित्सा अधिकारियों ने कहा कि सरकार ने स्कूलों में संक्रमण के प्रसार और शिक्षा पर प्रभाव पर विचार करने की उनकी सिफारिश के बाद यह फैसला लिया है।

Monika MinalTue, 14 Sep 2021 01:47 AM (IST)
ब्रिटेन में बच्चों को कोरोना के टीके लगाने को मंजूरी

 लंदन, प्रेट्र।  ब्रिटेन में मुख्य चिकित्सा अधिकारियों की ओर से सोमवार को सलाह दी गई है कि 12-15 साल की उम्र वाले बच्चों को कोविड-19 वैक्सीन की सुविधा दी जानी चाहिए लेकिन उन्हें डोज लगवाने के लिए बाध्य नहीं किया जाना चाहिए। कोरोना का प्रकोप झेलने वाले देशों में ब्रिटेन भी शामिल है जहां 1,34,000 से अधिक संक्रमितों की मौत हुई है।

सफल वैक्सीनेशन अभियान के बावजूद यहां डेल्टा वैरिएंट के कारण कोरोना संक्रमण के मामलों में बढ़ोतरी जारी है। इस बीच अब देशभर के स्कूलों को भी खोल दिया गया है जिसके कारण स्वास्थ्य अधिकारियों की बच्चों को लेकर चिंता बढ़ गई है।

ब्रिटेन के मुख्य चिकित्सा अधिकारियों ने फैसला किया  कि 12 से 15 साल के बच्चों को कोरोना रोधी टीका दिया जाना चाहिए। चिकित्सा अधिकारियों ने कहा कि सरकार ने स्कूलों में संक्रमण के प्रसार और शिक्षा पर प्रभाव पर विचार करने की उनकी सिफारिश के बाद यह फैसला लिया है। उन्होंने कहा, 'यह व्यवधान को कम करने के लिए एक उपयोगी तरीका है।' निर्णय के अनुसार, स्वस्थ बच्चों को फाइजर/बायोएनटेक वैक्सीन की एक खुराक दी जाएगी और जितनी जल्दी हो सके टीकाकरण शुरू किया जाएगा। इस फैसले के बाद लगभग 30 लाख पात्र बच्चों को टीका लगाया जा सकता है। इन्हें यह टीका स्कूलों में लगाए जाने की उम्मीद है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.