India vs Pakistan: अनुच्‍छेद 370 पर इमरान खान का नया यू टर्न, भारत से वार्ता के लिए फ‍िर रखी ये शर्त

अनुच्‍छेद 370 पर इमरान खान का नया यू टर्न, भारत से वार्ता के लिए फ‍िर रखी ये शर्त। फाइल फोटो।

सऊदी अरब से लौटने के बाद मंगलवार को इमरान ने एक बार फ‍िर यू टर्न लेते हुए कहा कि भारत जब तक 5 अगस्त 2019 को कश्मीर में उठाए गए कदमों को वापस नहीं लेता तब तक उससे किसी तरह की बातचीत संभव नहीं है।

Ramesh MishraWed, 12 May 2021 03:24 PM (IST)

इस्‍लामाबाद, एजेंसी। एक बार फ‍िर पाकिस्‍तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने भारत के साथ किसी औपचारिक बातचीत की संभावना को खारिज कर दिया है। सऊदी अरब से लौटने के बाद मंगलवार को इमरान ने कहा कि भारत जब तक 5 अगस्त, 2019 को कश्मीर में उठाए गए कदमों को वापस नहीं लेता, तब तक उससे किसी तरह की बातचीत संभव नहीं है। इमरान ने पश्चिमी देशों पर मानवाधिकार मामलों को लेकर दोहरा रवैया अपनाने का भी आरोप लगाया। इमरान ने यह बात ऐसे समय कही है जब उनके विदेश मंत्री ने हाल में कहा था कि पाकिस्‍तान को कश्‍मीर में अनुच्‍छेद 370 से कोई मतलब नहीं है। यह भारत का आतंरिक मामला है। इमरान के इस बयान के साथ पाकिस्‍तान की कथनी और करनी में एक बार बार फ‍िर फर्क नजर आया है।

सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा इमरान का वीडियो

सोमवार को सऊदी अरब की तीन दिन के दौरे से लौटने के बाद इमरान खान का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। इस वीडियो में वह पाकिस्‍तानी आवाम को संबोधित कर रहे हैं। वीडियो में इमरान ने कहा कि हमें यह नहीं भूलना चाहिए कि सऊदी अरब ने हमें हाल ही में दिवालिया होने से बचाया था। अपने संबोधन में उन्‍होंने कश्‍मीर का मुद्दा भी उठाया है। पाकिस्‍तान के प्रधानमंत्री ने सऊदी दौरे पर पाकिस्तानी कम्युनिटी के प्रोग्राम के दौरान कहा था कि अर्थव्‍यवस्‍था के लिहाज से पाकिस्तान की हालत बेहद खराब थी। उन्‍होंने कहा कि हम इसे सुधारने की कोशिश कर रहे हैं। आपको याद रखना होगा कि कुछ महीने पहले हम दिवालिया यानी डिफॉल्टर होने की कगार पर थे। तब सऊदी अरब और संयुक्त अरब अमीरात ने हमारी मदद की थी।

पाकिस्‍तान के विदेश मंत्री ने दिया था बड़ा बयान

गत दिनों अनुच्‍छेद 370 पर पाकिस्‍तान के रुख में बड़ा बदलाव देखने को मिला था। पाकिस्‍तान के विदेश मंत्री महमूद कुरैशी ने अपने एक अहम बयान में कहा था कि अनुच्‍छेद 370 के हटने से कोई परेशानी नहीं है। उन्‍होंने कहा था कि पाक‍िस्‍तान को 370 हटने से कभी परेशानी नहीं हुई। पाकिस्‍तान विदेश मंत्री ने कहा था कि यह भारत का अंदरूनी मामला है।  उन्‍होंने कहा था कि पाक‍िस्‍तान को 35A हटाने पर पर आपत्ति है। इसे लेकर पाकिस्‍तान की चिंता है। कुरैशी ने कहा कि इस बारे में पाकिस्‍तान पहले भी अपना नजरिया साफ कर चुका है। खास बात यह है कि कुरैशी का यह बयान ऐसे समय आया था, जब वह सऊदी अरब की यात्रा पर रवाना हुए। इसके पूर्व अनुच्‍छेद 370 पर पाक‍िस्‍तान का स्‍टैंड भारत के खिलाफ था। पाकिस्‍तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने संयुक्‍त राष्‍ट्र समेत तमाम अंतरराष्‍ट्रीय मंचों पर भारत के इस फैसले का विरोध किया था। हालांकि, उस वक्‍त भारत का यह तर्क था कि अनुच्‍छेद 370 उसका आंतरिक मामला है। इसके बावजूद पाकिस्‍तान इस मामले को अंतरराष्‍ट्रीय मंचों पर जोरशोर से उठाता रहा है। कुरैशी का यह बयान अनुच्‍छेद 370 के मामले में यू टर्न कहा जा सकता था। पाकिस्तान में ऐसी खबरें हैं कि सऊदी अरब और यूएई कश्मीर मुद्दे का हल निकालने के लिए पाकिस्‍तान पर दबाव बढ़ा रहा है। अनुच्‍छेद 370 को लेकर पाकिस्‍तान के इस स्‍टैंड को सऊदी का दबाव माना जा रहा है।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.