दिल्ली

उत्तर प्रदेश

पंजाब

बिहार

उत्तराखंड

हरियाणा

झारखण्ड

राजस्थान

जम्मू-कश्मीर

हिमाचल प्रदेश

पश्चिम बंगाल

ओडिशा

महाराष्ट्र

गुजरात

पाकिस्तान में आज चार घंटों के लिए बंद है सभी सोशल मीडिया प्लेटफार्म, सुरक्षा कारणों से मंत्रालय का आदेश

पाकिस्तान में आज बंद किए गए सोशल मीडिया प्लेटफार्म

पाकिस्तान गृहमंत्रालय की ओर से सुरक्षा का हवाला देते हुए पाकिस्तान टेलीकम्युनिकेशन ऑथोरिटी के चेयरमैन को यह आदेश दिया गया है कि 16 अप्रैल शुक्रवार को देश भर में चार घंटे के लिए सोशल मीडिया प्लेटफार्म को पूरी तरह से बंद किया जाए

Monika MinalFri, 16 Apr 2021 01:20 PM (IST)

इस्लामाबाद, एजेंसी। पाकिस्तान में शुक्रवार को तमाम सोशल मीडिया प्लेटफार्म को ब्लॉक कर दिया गया। देश के गृहमंत्रालय की ओर से सुरक्षा का हवाला देते हुए पाकिस्तान टेलीकम्युनिकेशन ऑथोरिटी (PTA) के चेयरमैन को यह आदेश दिया गया  कि 16 अप्रैल, शुक्रवार को देश भर में चार घंटे के लिए सोशल मीडिया प्लेटफार्म- ट्विटर, फेसबुक, व्हाट्सएप, यूट्यूब और टेलीग्राम  को पूरी तरह से बंद कर दिया जाए। पाकिस्तान सरकार ने यह कदम कट्टरपंथी समूह तहरीक-ए-लब्बैक पाकिस्तान (TLP) के हिंसक विरोध प्रदर्शनों के बाद उठाया गया। TLP फ्रांस में गत वर्ष प्रकाशित हुए एक कार्टून को लेकर इस देश के राजदूत को पाकिस्तान से निकालने की मांग कर रहा है।

टेलीकम्युनिकेशन डिपार्टमेंट को पत्र लिख दिया गया आदेश

मंत्रालय ने जियो न्यूज को बताया कि पाकिस्तान टेलीकम्युनिकेशन ऑथोरिटी ने उनके आदेश पर सोशल मीडिया प्लेटफार्मों पर रोक लगाई है। पाकिस्तान ने शुक्रवार को हिंसक इस्लामिक ग्रुप के कारण देश भर में शुक्रवार को सभी सोशल मीडिया एप्स पर रोक लगा दी है। रॉयटर्स के अनुसार, टेलीकम्युनिकेशंस ऑथोरिटी के एक अधिकारी ने बताया कि  देश में सुरक्षा व्यवस्था कायम रखने के लिए यह कदम उठाया गया है। यह कार्रवाई गृहमंत्रालय द्वारा PTA चेयरमैन को पत्र भेजे जाने के बाद की गई। मंत्रालय ने अपने पत्र में PTA से तुरंत कार्रवाई करने का आग्रह किया। मंत्रालय के सेक्शन ऑफिसर अब्दुल रज्जाक ने पत्र में लिखा, 'देश भर में 16 अप्रैल 2021 की सुबह 11 बजे से दोपहर 3 बजे तक सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर पूर्ण रूप से रोक लगा दी जाए।'

पाकिस्तान में हिंसक प्रदर्शनों का दौर जारी, ये है वजह

विभिन्न मीडिया रिपोर्टों के अनुसार, पाकिस्तान में फ्रांस विरोधी प्रदर्शनों को देखते हुए यह कदम उठाया गया है। TLP  अपने नेता साद हुसैन रिजवी की गिरफ्तारी को व फ्रांस के खिलाफ  कार्टून विवाद को लेकर प्रदर्शन कर रही है। पैगंबर मोहम्मद का कार्टून प्रकाशित करने के लिए फ्रांस के राजदूत को निष्कासित करने के लिए पाकिस्तान की इमरान खान सरकार को 20 अप्रैल तक का समय दिया था, लेकिन उससे पहले ही पुलिस ने सोमवार को पार्टी के प्रमुख साद हुसैन रिजवी को गिरफ्तार कर लिया, जिसके बाद TLP ने देशव्यापी विरोध प्रदर्शन शुरू कर दिया। इसमें सात लोगों की मौत हो गई और 300 से अधिक घायल हुए। सरकार ने TLP पर प्रतिबंध भी लगा दिया है। सरकार को यह अंदेशा था कि यह समूह शुक्रवार को भी विरोध प्रदर्शन कर सकता है। इसलिए गृह मंत्रालय के निर्देश पर पाकिस्तान दूरसंचार प्राधिकरण ने शुक्रवार सुबह 11 बजे से लेकर दोपहर तीन बजे तक इंटरनेट मीडिया पर रोक लगा दी। 

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.