इमरान सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव ला सकता है विपक्ष, एनएबी को समाप्त करने की उठी मांग

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान की फाइल फोटो

पीडीएम ने इस सप्ताह ही दूसरे दौर में प्रभावी रैलियां करने का ऐलान किया है। अब तक विपक्षी दलों के गठबंधन ने देश भर में दस रैलियां कर दी हैं। दूसरे चरण में रैली 5 फरवरी को रावलपिंडी 9 फरवरी को हैदराबाद और 13 फरवरी को सियालकोट में होगी।

Publish Date:Sat, 23 Jan 2021 04:12 PM (IST) Author: Dhyanendra Singh Chauhan

लरकाना, एएनआइ। पाकिस्तान में इमरान सरकार को गिराने के लिए विपक्षी दल अब निर्णायक लड़ाई की तैयारी कर रहे हैं। पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी (PPP) के प्रमुख बिलावल भुट्टो जरदारी ने सभी विपक्षी दलों से सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाने की तैयारी करने के लिए कहा है। भुट्टो ने कहा यह सरकार अक्षम, अयोग्य और अवैध है। इधर पूर्व प्रधानमंत्री शाहिद अब्बासी ने कहा है सरकारी एजेंसी एनएबी को समाप्त कर देना चाहिए।

लरकाना में एक कार्यक्रम में संबोधित करते हुए बिलावल जरदारी भुट्टो ने कहा कि विपक्षी दलों के संगठन पाकिस्तान डेमोक्रेटिक मूवमेंट (PDM) के द्वारा की जा रही रैली से ज्यादा प्रभावकारी अविश्वास प्रस्ताव लाना होगा।

अब तक विपक्षी दलों के गठबंधन ने देशभर में की दस रैलियां

पीडीएम ने इस सप्ताह ही दूसरे दौर में प्रभावी रैलियां करने का ऐलान किया है। अब तक विपक्षी दलों के गठबंधन ने देशभर में दस रैलियां कर दी हैं। दूसरे चरण में रैली 5 फरवरी को रावलपिंडी, 9 फरवरी को हैदराबाद और 13 फरवरी को सियालकोट में होगी।

इधर पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री और पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज के नेता शाहिद खाकन अब्बासी ने कहा है कि नेशनल अकाउंटेबिलिटी ब्यूरो (NAB) की उपयोगिता अब समाप्त हो गई है। सरकार के इशारे पर काम करने वाली एजेंसी सिर्फ उत्पीड़न का जरिया बन गई है। अब इस एजेंसी को समाप्त कर देना चाहिए।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.