करतारपुर साहिब में माडल के फोटो शूट पर भारत ने जताई आपत्ति, पाकिस्तानी राजनयिक तलब

भारत ने मंगलवार को पाकिस्तान उच्चायोग में चार्ज डी अफेयर्स को तलब किया और करतारपुर के गुरुद्वारा दरबार साहिब में एक पाकिस्तानी माडल के फोटोशूट पर गहरी चिंता व्यक्त की। साथ ही इसे पवित्र स्थान की पवित्रता का अपमान बताया।

TaniskTue, 30 Nov 2021 09:33 PM (IST)
करतारपुर साहिब में माडल के फोटो शूट पर भारत ने जताई आपत्ति। (फोटो- एएनआइ)

नई दिल्ली, पीटीआइ। भारत ने मंगलवार को पाकिस्तान उच्चायोग में चार्ज डी अफेयर्स को तलब किया और करतारपुर के गुरुद्वारा दरबार साहिब में एक पाकिस्तानी माडल के फोटोशूट पर गहरी चिंता व्यक्त की। साथ ही इसे पवित्र स्थान की पवित्रता का 'अपमान' बताया। भारत ने इसे 'निंदनीय' घटना बताते हुए कहा कि वह उम्मीद करता है कि पाकिस्तानी अधिकारी इस मामले की 'ईमानदारी से जांच' करेंगे और इसमें शामिल लोगों के खिलाफ कार्रवाई करेंगे। माडल सौलेहा की गुरुद्वारा दरबार साहिब में कपड़ों के ब्रांड के लिए बगैर सिर ढके फोटोशूट पर सोमवार को सोशल मीडिया पर हलचल मच गई। कई लोगों ने उन पर सिख समुदाय की धार्मिक भावनाओं को आहत करने का आरोप लगाया। माडल ने बाद में अपने इंस्टाग्राम पेज से अपनी तस्वीरें हटा दीं और माफी मांगी।

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अरिंदम बागची ने कहा कि पाकिस्तानी माडल और एक कपड़ों के ब्रांड द्वारा गुरुद्वारा दरबार साहिब, करतारपुर की पवित्रता के अपमान की घटना पर गहरी चिंता व्यक्त करने के लिए आज पाकिस्तानी चार्ज डी'अफेयर्स को बुलाया गया था। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने कहा कि यह पाकिस्तानी राजनयिक को बताया गया  कि इस निंदनीय घटना ने भारत और दुनियाभर में सिख समुदाय की भावनाओं को गहरा ठेस पहुंचाई है। पाकिस्तान में अल्पसंख्यक समुदायों की धार्मिक पूजा इन समुदायों की आस्था के प्रति सम्मान की कमी को उजागर करती है।

बागची ने आगे बताया कि हम उम्मीद करते हैं कि पाकिस्तानी अधिकारी इस मामले की ईमानदारी से जांच करेंगे और इसमें शामिल लोगों के खिलाफ कार्रवाई करेंगे। गुरुद्वारा दरबार साहिब पाकिस्तान के नरोवाल जिले में स्थित है, जो पंजाब के गुरदासपुर में डेरा बाबा नानक मंदिर से लगभग चार किलोमीटर दूर है। सिख धर्म के संस्थापक गुरु नानक देव ने अपने जीवन के अंतिम 18 वर्ष करतारपुर में बिताए थे। नवंबर 2019 में भारत और पाकिस्तान ने ऐतिहासिक पहल करते हुए गुरदासपुर में डेरा बाबा साहिब को करतारपुर के गुरुद्वारे से जोड़ने के करतारपुर कारिडोर शुरू किया था। 

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.