इमरान खान ने चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग से फोन पर की बात, पाकिस्तान आने का दिया निमंत्रण

इस दौरान दोनों देशों के बीच अफगानिस्तान को लेकर भी चर्चा हुई। दोनों नेताओं ने अंतर्राष्ट्रीय समुदाय से तत्काल मानवीय और आर्थिक सहायता प्रदान करने के साथ-साथ युद्धग्रस्त राष्ट्र के पुनर्निर्माण के लिए आवश्यक मदद प्रदान करने का आह्वान किया।

Manish PandeyTue, 26 Oct 2021 03:17 PM (IST)
इमरान खान ने चीनी राष्ट्रपति को पाकिस्तान आने का निमंत्रण दिया है।

इस्लामाबाद, पीटीआइ। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान और चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने मंगलवार को अपने द्विपक्षीय संबंधों को और मजबूत करने पर सहमति जताई। इसके साथ ही आर्थिक बाधाओं को दूर करने के लिए मुक्त व्यापार समझौते के दूसरे चरण द्वारा पेश की गई क्षमता का पूरा एहसास भी शामिल है। इमरान खान ने शी चिनफिंग को जल्द से जल्द अपनी सुविधानुसार पाकिस्तान आने का निमंत्रण दिया है।

प्रधानमंत्री कार्यालय ने एक बयान में कहा कि दोनों नेताओं ने टेलीफोन पर बातचीत के दौरान द्विपक्षीय संबंधों और सहयोग की समीक्षा की। इसमें कहा गया है कि इमरान खान ने कोरोना महामारी पर चीन के सफल नियंत्रण के साथ-साथ विकासशील देशों को मदद पहुंचाने री सराहना की, जिसमें पाकिस्तान के साथ वैक्सीन सहयोग भी शामिल है।                                                                                              

बयान में कहा गया है कि वैश्विक अर्थव्यवस्था पर कोरोना के नकारात्मक प्रभाव पर बात करते हुए दोनों नेताओं ने द्विपक्षीय आर्थिक और वाणिज्यिक संबंधों को और मजबूत करने पर सहमति व्यक्त की। प्रधानमंत्री ने चीन-पाकिस्तान आर्थिक गलियारे (सीपीईसी) परियोजनाओं के सफल और उच्च गुणवत्ता वाले कार्यान्वयन की सराहना की और सीपीईसी विशेष आर्थिक क्षेत्रों में चीनी निवेश का स्वागत किया।

महत्वाकांक्षी सीपीईसी 2015 में लान्च किया गया था, जब चीनी राष्ट्रपति शी ने पाकिस्तान का दौरा किया था। इसका उद्देश्य पश्चिमी चीन को सड़कों, रेलवे और बुनियादी ढांचे और विकास की अन्य परियोजनाओं के नेटवर्क के माध्यम से दक्षिण-पश्चिमी पाकिस्तान में ग्वादर बंदरगाह से जोड़ना है।

जलवायु परिवर्तन का मुकाबला करने में चीन की प्रमुख भूमिका को स्वीकार करते हुए इमरान खान ने शी चिनफिंग को पाकिस्तान के जलवायु परिवर्तन शमन और अनुकूलन के लिए किए गए व्यापक उपायों पर भी जानकारी दी।

इस दौरान दोनों देशों के बीच अफगानिस्तान को लेकर भी चर्चा हुई। दोनों नेताओं ने अंतर्राष्ट्रीय समुदाय से तत्काल मानवीय और आर्थिक सहायता प्रदान करने के साथ-साथ युद्धग्रस्त राष्ट्र के पुनर्निर्माण के लिए आवश्यक मदद प्रदान करने का आह्वान किया। बातचीत के दौरान, पाकिसतानी प्रधानमंत्री ने चीनी कम्युनिस्ट पार्टी की शताब्दी पर राष्ट्रपति शी को बधाई दी।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.