पाकिस्‍तान में बलूचों का हो रहा सुनियोजित नरसंहार, जी-7 सम्मेलन में यूएन का दल भेजने की मांग

Genocide in Pakistan पाकिस्तान (Pakistan) में बलूचों का सुनियोजित तरीके से नरसंहार किया जा रहा है। बलूच मानवाधिकार परिषद ने जी-7 देशों के नेताओं से इस मामले में कड़ी कार्रवाई करने की मांग की है। पढ़ें यह रिपोर्ट...

Krishna Bihari SinghSun, 13 Jun 2021 07:24 PM (IST)
पाकिस्तान में बलूचों का सुनियोजित तरीके से नरसंहार किया जा रहा है।

लंदन, एएनआइ। पाकिस्तान में बलूचों का सुनियोजित तरीके से नरसंहार किया जा रहा है। बलूच मानवाधिकार परिषद ने जी-7 देशों के नेताओं से इस मामले में कड़ी कार्रवाई करने की मांग की है। इधर नीदरलैंड के हेग में ईसाइयों ने पाक में अपने ऊपर हो रहे अत्याचारों के विरोध में संसद के सामने प्रदर्शन किया।

संयुक्त राष्ट्र की टीम भेजने की मांग

जी-7 नेताओं को संबोधित ज्ञापन में सामाजिक कार्यकर्ताओं की निरंतर हो रही हत्या और गायब होने की घटनाओं पर चिंता जताई है। साथ ही मांग की गई है कि इन सभी मामलों की जांच के लिए संयुक्त राष्ट्र की एक टीम भेजी जाए। अंतरराष्ट्रीय न्यायालय में पाकिस्तान के खिलाफ मामला चलाने की भी मांग की गई।

पाक में ईसाइयों के उत्‍पीड़न का मुद्दा भी उठा

पाकिस्तानी ईसाई गठबंधन ने ग्लोबल राइट डिफेंस के साथ मिलकर नीदरलैंड की संसद के सामने विरोध प्रदर्शन किया। इनकी मांग थी कि पाक में ईसाइयों के जबरन धर्म परिवर्तन, अपहरण कर जबरन शादी करने और ईसाई लड़कियों के साथ होने वाली घटनाओं पर रोक लगाई जाए। इस प्रदर्शन में बेल्जियम के पाकिस्तानी ईसाइयों ने भी भाग लिया।

चीन ने छीनी पाक मछुआरों की रोजी-रोटी

बलूचिस्तान में ग्वादर बंदरगाह के पास चीन के मछली पकड़ने वाले बड़े ट्रालर इकट्ठा हो गये हैं। यहां मछली पकड़ने से लेकर उसको प्रसंस्करित करने तक का कार्य किया जा रहा है। चीन की इस कारगुजारी से परंपरागत मछुआरों के सामने रोजी-रोटी का संकट आ गया है।

इमरान सरकार गरीबों के लिए गूंगी, बहरी और अंधी

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान 2021-22 के प्रस्तावित बजट को लेकर विरोधियों के निशाने पर हैं। पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी (पीपीपी) के अध्यक्ष बिलावल भुट्टो जरदारी ने बजट पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि इमरान सरकार आम आदमी के लिए गूंगी, बहरी और अंधी हो गई है। इधर पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज ने इमरान खान सरकार पर आरोप लगाया है कि वह ईवीएम के जरिए चुनाव कराके बेईमानी से सरकार बनाना चाहते हैं।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.