हर दिन 300 पाकिस्तानी पकड़ कर भेजे जा रहे विदेश से, सबसे ज्यादा भेजे उसके मित्र देशों ने

बीते छह साल में जो पाकिस्तानी वापस भेजे गए उनमें से 72 प्रतिशत से ज्यादा पाकिस्तान के सात मित्र देशों ने भेजे। ये मित्र देश हैं- सऊदी अरब ओमान संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) कतर बहरीन ईरान और तुर्की। इनमें सबसे ज्यादा 321590 पाकिस्तानी सऊदी अरब से वापस भेजे गए।

Arun Kumar SinghThu, 24 Jun 2021 10:02 PM (IST)
काफी संख्या में वापस आए पाकिस्तानी नागरिकों को कठिनाई झेलनी पड़ी।

इस्लामाबाद, एएनआइ। दुनिया में अपने नागरिकों के गैरकानूनी आचरण के चलते पाकिस्तान को हर दिन बेइज्जती का सामना करना पड़ रहा है। आधिकारिक जानकारी बताती है कि पिछले छह साल में 138 देशों से कुल 6,18,877 पाकिस्तानी नागरिक वापस भेजे गए। औसतन करीब तीन सौ पाकिस्तानी नागरिक पकड़कर प्रतिदिन विदेश से पाकिस्तान भेजे गए।

पाकिस्तान की फेडरल इन्वेस्टिगेशन एजेंसी (एफआइए) के मुताबिक वापस भेजे गए इन नागरिकों को उस देश में स्थित पाकिस्तानी दूतावास या उच्चायोग से उचित सहयोग नहीं मिला। इसके चलते भी काफी संख्या में वापस आए पाकिस्तानी नागरिकों को कठिनाई झेलनी पड़ी। ऐसे बहुत से नागरिकों की वीजा अवधि समाप्त हो चुकी थी या उनके वर्क परमिट का समय खत्म हो चुका है। लेकिन इनमें उन पाकिस्तानी नागरिकों की बड़ी संख्या है जो अवैध रूप से विदेश गए थे और वहां पर उन्हें पकड़ लिया गया। इसके बाद उन्हें जबरन वापस भेजा गया है।

छह साल में सबसे ज्यादा 52 फीसद भेजे मित्र देश सऊदी अरब ने

बीते छह साल में जो पाकिस्तानी वापस भेजे गए उनमें से 72 प्रतिशत से ज्यादा पाकिस्तान के सात मित्र देशों ने भेजे। ये मित्र देश हैं- सऊदी अरब, ओमान, संयुक्त अरब अमीरात (यूएई), कतर, बहरीन, ईरान और तुर्की। इनमें सबसे ज्यादा 3,21,590 पाकिस्तानी सऊदी अरब से वापस भेजे गए। पिछले छह साल में प्रतिदिन 147 पाकिस्तानी सऊदी अरब से आए। जबकि 53,649 पाकिस्तानी यूएई ने वापस भेजे। जबकि ईरान की एजेंसियों ने 1,36,930 पाकिस्तानियों को वापस भेजा। इनमें अवैध घुसपैठियों की बड़ी संख्या है।

इन अवैध घुसपैठियों को सीमा पर लाकर पाकिस्तानी सुरक्षा एजेंसियों को सौंपा गया। बीते छह साल में 32,300 से ज्यादा पाकिस्तानी तुर्की से भेजे गए। जबकि ब्रिटेन ने आठ हजार से ज्यादा पाकिस्तानियों को वापस भेजा। इनमें से ज्यादातर बिना वैध दस्तावेजों के ब्रिटेन में रह रहे थे। जबकि 1,700 से ज्यादा अमेरिका से वापस भेजे गए। वहां पर भी पकड़े गए ज्यादातर पाकिस्तानी बिना वैध दस्तावेजों के रह रहे थे। जबकि रूस ने छह साल में 564 पाकिस्तानी नागरिकों को सीमा पर सुरक्षा अधिकारियों के हवाले किया। भारत ने इसी दौरान 243 पाकिस्तानियों को वापस उनके देश भेजा। यहां तक कि अफगानिस्तान ने भी 13 पाकिस्तानियों को पकड़कर वापस उनके देश भेजा है। वापस भेजे गए लोगों में उन लोगों की खासी संख्या है जिन्हें दलालों ने नकली दस्तावेजों के जरिये विदेश भेज दिया। वहां पर हुई जांच में पाकिस्तानी नागरिक पकड़े गए और वापस भेजे गए।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.