पाकिस्तान के कराची में चीनी नागरिक की गोली मारकर हत्या, दो हफ्ते पहले मारे गए थे नौ चीनी श्रमिक

पुलिस उप महानिरीक्षक जावेद अकबर रियाज ने रायटर को बताया मोटरसाइकिल पर फेस मास्क पहने दो लोगों ने घटना को अंजाम दिया। उन्होंने कहा कि ये लोग बिना पुलिस एस्कॉर्ट के यात्रा कर रहे थे। वहीं किसी ने हमले की जिम्मेदारी नहीं ली है।

Nitin AroraWed, 28 Jul 2021 03:29 PM (IST)
पाकिस्तान के कराची में चीनी नागरिक की गोली मारकर हत्या, दो हफ्ते पहले मारे गए थे नौ चीनी श्रमिक

कराची, रायटर। पाकिस्तान के सबसे बड़े शहर कराची में बुधवार को हुए एक हमले में एक चीनी नागरिक की गोली मारकर हत्या कर दी गई। पुलिस ने इस बारे में जानकारी दी। बता दें कि नौ चीनी श्रमिकों की मौत के दो हफ्ते बाद यह फिर एक ऐसा हादसा हुआ, जिसमें चीनी नागरिक की जान गई हो। पुलिस उप महानिरीक्षक जावेद अकबर रियाज ने कहा कि हमला जिसपर होना था, उसके साथ एक अन्य चीनी नागरिक भी था, जो कि कराची के औद्योगिक क्षेत्र जा रहे थे, जहां उसी दौरान उन पर हमला किया गया।

रियाज ने रायटर को बताया, 'मोटरसाइकिल पर फेस मास्क पहने दो लोगों ने घटना को अंजाम दिया। उन्होंने कहा कि ये लोग बिना पुलिस एस्कॉर्ट के यात्रा कर रहे थे। वहीं, किसी ने हमले की जिम्मेदारी नहीं ली है।

बीजिंग में बोलते हुए, चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता झाओ लिजियन ने इस घटना को एक अलग मामला बताया। उन्होंने एक नियमित समाचार ब्रीफिंग में कहा, 'हमें पाकिस्तान की ओर से चीनी नागरिकों की सुरक्षा और पाकिस्तान में संपत्ति पर पूरा भरोसा है।'

बता दें कि चीन पाकिस्तान का एक करीबी सहयोगी और प्रमुख निवेशक है और पाकिस्तानी सरकार का विरोध करने वाले विभिन्न उग्रवादियों ने अतीत में चीनी परियोजनाओं और नागरिकों पर हमला किया है। 14 जुलाई को उत्तर पश्चिमी पाकिस्तान के कोशिस्तान में एक बस में हुए विस्फोट में नौ चीनी नागरिकों सहित कम से कम 13 लोगों की मौत हो गई थी। वे एक बांध परियोजना पर काम करने पाक गए थे।

पाकिस्तान के विदेश कार्यालय ने इसे बस में तकनीकी दिक्कतों की वजह से हुआ हादसा बताया था। इस बयान पर चीन ने तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त की थी और विस्फोट की जांच कराने की मांग की थी। पाकिस्तानी अधिकारियों को बाद में घटनास्थल पर विस्फोटकों के सुराग मिले थे। मामले की जांच के लिए 15 चीनी जांचकर्ताओं की टीम भी पाकिस्तान पहुंची थी।

वहीं, इसके बाद नाराज चीन ने 50 अरब डालर की चीन-पाकिस्तान आर्थिक गलियारा (सीपीईसी) परियोजना का कामकाज संभालने वाले उच्चस्तरीय निकाय संयुक्त समन्वय समिति की 10वीं बैठक स्थगित कर दी है। इसके अलावा उसने वहां अरबों डालर की दासू जलविद्युत परियोजना भी रोक दी है।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.