पाकिस्तान में अगवा कर शादी की शिकार हुई हिंदू महिला की घर वापसी, न्याय दिलाने की उठी थी मांग

पाकिस्तान में फर्जी दस्तावेज के जरिये जबरन शादी की शिकार हुई हिंदू महिला वापस अपने परिवार में आ गई है। उसे स्थानीय अदालत के आदेश पर परिवार को सौंपा गया। उसे कागजों पर फर्जी तरीके से मुस्लिम बनाकर शादी की गई थी।

Pooja SinghTue, 27 Jul 2021 04:07 AM (IST)
पाकिस्तान में अगवा कर शादी की शिकार हुई हिंदू महिला की घर वापसी, न्याय दिलाने की उठी थी मांग

कराची, प्रेट्र। पाकिस्तान में फर्जी दस्तावेज के जरिये जबरन शादी की शिकार हुई हिंदू महिला वापस अपने परिवार में आ गई है। उसे स्थानीय अदालत के आदेश पर परिवार को सौंपा गया। उसे कागजों पर फर्जी तरीके से मुस्लिम बनाकर शादी की गई थी। उसे न्याय देने की मांग इंटरनेट मीडिया पर वायरल हो रही थी। इसी के बाद अदालत का आदेश उसके पक्ष में आया। रीना मेघवार नाम की युवती का अपहरण बीती 13 फरवरी को कासिम काशखेली नाम के आदमी ने कर लिया था।

रीना को सिंध प्रांत के बादिन जिले केरियोजर इलाके से अगवा किया गया था। इसके कुछ ही दिनों बाद रीना अपना वीडियो बनाकर इंटरनेट मीडिया पर लोड करने में सफल हो गई। वीडियो में वह अपनी मदद की गुहार लगाती दिखाई-सुनाई दे रही थी। कह रही थी कि माता-पिता और भाइयों की हत्या की धमकी देकर उसे अगवा किया गया। उसे किसी तरह माता-पिता के पास पहुंचाया जाए।

हालांकि, वीडियो में उसने खुद को अगवा करने वाले का नाम नहीं बताया था। बाद में रीना को न्याय दिलाने की मांग वाले अन्य वीडियो भी सामने आए। सिंध की प्रांतीय सरकार ने इन वीडियो का संज्ञान लेते हुए मामले की जांच का पुलिस को आदेश दिया। इसके बाद बादिन के एसएसपी शबीर अहमद सेथर ने पुलिसकर्मियों की टीम गठित कर शुरुआती जांच के बाद रीना को काशखेली के घर से बाहर निकाला।

सोमवार को पुलिस ने उसे स्थानीय अदालत में पेश किया। वहां पर रीना ने कहा कि उसने इस्लाम धर्म कुबूल नहीं किया है। उसके साथ जबरन शादी करने के लिए उसके धर्म परिवर्तन करने के फर्जी दस्तावेज तैयार किए गए हैं। युवती का बयान सुनने के बाद कोर्ट ने काशखेली के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने का आदेश पुलिस को दिया। साथ ही रीना को उसके माता-पिता को सौंपने का आदेश दिया। 

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.