उत्तर कोरिया ने लान्च किया बैलिस्टिक मिसाइल, UNSC ने बुलाई आपात बैैठक

UNSC ने उत्तर कोरिया को लेकर आपात बैठक बुलाई है। राजनयिकों ने बताया कि बुधवार को उत्तर कोरिया ने नए बैलिस्टिक मिसाइलों का परीक्षण किया है। संयुक्त राष्ट्र के प्रवक्ता ने बताया कि उत्तर कोरिया द्वारा नवीनतम बैलिस्टिक मिसाइल लान्च को लेकर वे चिंतित हैं।

Monika MinalThu, 16 Sep 2021 01:58 AM (IST)
उत्तर कोरिया पर UNSC ने बुलाई आपात बैैठक

 जेनेवा, एएफपी। संयुक्त राष्ट्र महासभा (United Nations Security Council, UNSC) ने उत्तर कोरिया को लेकर आपात बैठक बुलाई है। राजनयिकों ने बताया कि बुधवार को उत्तर कोरिया ने नए बैलिस्टिक मिसाइलों का परीक्षण किया है। संयुक्त राष्ट्र के प्रवक्ता ने बताया कि उत्तर कोरिया द्वारा नवीनतम बैलिस्टिक मिसाइल लान्च को लेकर वे चिंतित हैं।

दक्षिण कोरिया की सेना की ओर से दी गई जानकारी के अनुसार उत्तर कोरिया ने अपने पूर्वी तट पर दो बैलिस्टिक मिसाइलें दागी। इससे दो दिन पहले उत्तर कोरिया ने छह महीनों में पहली बार एक नई मिसाइल का परीक्षण करने का दावा किया था। दक्षिण कोरिया के ‘ज्वाइंट चीफ्स ऑफ स्टाफ’ ने एक बयान में कहा कि मध्य उत्तर कोरिया में एक स्थान से दागी गई दो बैलिस्टिक मिसाइलें बुधवार दोपहर को कोरियाई प्रायद्वीप के पूर्वी तट पर समुद्र की ओर गई। 

बयान में कहा गया है कि दक्षिण कोरिया और अमेरिका के खुफिया प्राधिकारी उत्तर कोरिया के प्रक्षेपणों के बारे में और अधिक जानकारियां जुटा रहे हैं। इसमें कहा गया है कि दक्षिण कोरिया ने उत्तर कोरियाई विरोधी निगरानी व्यवस्था को मजबूत कर दिया है।

जापान के तटरक्षक बल ने पुष्टि की कि दोनों मिसाइलें जापान और कोरियाई प्रायद्वीप के बीच समुद्र में गिरीं। किसी भी जहाज या विमान को नुकसान पहुंचने की खबर नहीं है। उत्तर कोरिया द्वारा मिसाइलों का प्रक्षेपण फिर से शुरू करने का मकसद अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडन पर परमाणु वार्ता को लेकर दबाव बनाना हो सकता है।

दूसरी ओर उत्तर कोरिया के नेता की बहन ने दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति मून जे-इन की आलोचना की है और द्विपक्षीय संबंधों को पूरी तरह से खत्म करने की चेतावनी भी दी है। मून ने कहा था कि दक्षिण कोरिया की बढ़ती मिसाइल क्षमताएं उत्तर कोरिया को उकसावे की कार्रवाई करने से निश्चित रूप से रोकेगी। मून ने यह टिप्पणी दक्षिण कोरिया द्वारा पनडुब्बी से दागी जाने वाली बैलिस्टिक मिसाइल के पहले सफल परीक्षण के बाद की।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.