ओमिक्रोन पर सख्त दक्षिण कोरिया, राष्ट्रपति ने लोगों से बूस्टर शाट लेने का किया आग्रह

ओमिक्रोन के बढ़ते खतरे को देखते हुए दक्षिण कोरिया ने सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों में और ढील न देने के आदेश जारी किए है। नवंबर में सरकार ने लिविंग विद कोविड स्कीम की शुरुआत की थी जिससे दक्षिण कोरिया में कोरोना के मामले काफी तेजी से बढ़ने लगे।

Geetika SharmaTue, 30 Nov 2021 11:43 AM (IST)
दक्षिण कोरियाई राष्ट्रपति ने बूस्टर शाट लेने का किया आग्रह

सियोल, आईएएनएस| कोरोना वायरस के नए वैरिएंट ओमिक्रोन से पूरी दुनिया में अफरा-तफरी का माहौल है। कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों को देखते हुए दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति मून जे-इन ने सोमवार को शारीरिक दूरी के नियमों में और ढील न देने के आदेश जारी किए है। साथ ही प्रशासन को बूस्टर शाट्स में तेजी लाने को भी कहा है।

लिविंग विद कोविड स्कीम का क्या रहा असर

मून ने कहा कि कोरोना से संक्रमित मरीजों और गंभीर बीमारियों से पीड़ित मरीजों की संख्या बढ़ने के कारण अस्पतालों में अभी बेड की कमी है, जिन्हें अगले चार हफ्तों तक बढ़ा दिया जाएगा। बता दें कि राष्ट्रपति ने यह बात कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों को देखते हुए एक बैठक की अध्यक्षता करते हुए कही है। इससे जाहिर हो रहा है कि सरकार ओमिक्रोन की बढ़ती चिंताओं के बाबजूद सामान्य स्थिति में लौटने की कोशिश कर रही है, जिससे लोगों में डर का माहौल पैदा न हो। नवंबर में सरकार की ओर से लिविंग विद कोविड स्कीम के पहले चरण की शुरुआत की गई थी। इसके बाद दक्षिण कोरिया में कोरोना के मामले काफी तेजी से बढ़ गए। अक्टूबर अंत में सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों में ढील देने से पहले दक्षिण कोरिया में एक दिन में 2000 मामले सामने आ रहे थे। और पिछले हफ्ते से यह नंबर बढ़कर 4000 हो गया।

बूस्टर डोज लेने पर वैक्सीनेशन होगा पूरा

आपको बता दें कि दक्षिण कोरिया ने लिविंग विद कोविड स्कीम के चार हफ्ते पूरे होने तक दिसंबर में कोरोना के नियमों को और आसान बनाने की योजना बनाई थी। इसके बावजूद अभी सरकार ने नियमों में और ढील न देने का फैसला किया है, लेकिन सरकार अगले चार हफ्तों में कोरोना की रोकथाम के कुछ नए नियमों को लागू करेगी। इसमें प्रशासन की ओर से लोगों को तेजी से बूस्टर शाट्स देना और कोविड-19 मरीजों के अस्पतालों में बेड सुरक्षित करना शामिल होगा। राष्ट्रपति मून ने ज्यादा से ज्यादा लोगों से बूस्टर शाट्स डोज लेने का आग्रह किया। उन्होंने कहा कि बूस्टर शाट एक अतिरिक्त नहीं बल्कि बेसिक शाट है। उन्होंने कहा कि बूस्टर शाट लेने के बाद ही कोरोना का वैक्सीनेशन पूरा होता है। लोगों को वैक्सीनेशन को समझने के तरीके को बदलने की जरूरत है।

ओमिक्रोन को बताया चिंता का वैरिएंट

राष्ट्रपति मून ने स्वास्थ्य अधिकारियों से 12-17 साल तक के टीनएजर्स को भी तेजी से वैक्सीनेशन देने और इस साल के अंत तक कोविड के लिए ओरल एंटीवायरल उपचार शुरू करने का आग्रह किया। दक्षिण कोरिया ने अगले साल फरवरी 2022 में कोविड -19 के उपचार के लिए दवाई पेश करने की योजना बनाई है। रविवार से दक्षिण कोरिया ने कोरोना वायरस के नए वैरिएंट ओमिक्रोन के खतरे को रोकने के लिए दक्षिण अफ्रीका सहित 8 अफ्रीकी देशों को वीजा जारी करने और यहां से आने वाले लोगों पर प्रतिबंध लगा दिया है। उन्होंने स्वास्थ्य अधिकारियों को दक्षिण कोरिया में ओमिक्रोन वैरिएंट को फैलने से रोकने के लिए कड़े उपाय करने के निर्देश जारी किए हैं।

चिंता का वैरिएंट है ओमिक्रोन

विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने दक्षिण अफ्रीका में पाए गए कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रोन को एक चिंता के वैरिएंट का नाम दिया है। डब्ल्यूएचओ ने बताया कि ओमिक्रोन वैरिएंट से एक बार फिर संक्रमण फैलने का खतरा बढ़ गया है।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.