top menutop menutop menu

सीरिया में संघर्ष विराम करार टूटा, रूस ने फिर दागी मिसाइलें; 23 नागरिकों की हुई मौत

बाला (सीरिया), एफपी। उत्तर-पश्चिमी सीरिया में रूस के हवाई हमले में कम से कम 23 नागरिकों की मौत हो गई है। यह क्षेत्र विद्रोहियों के कब्जे वाला है। सरकारी समाचार एजेंसी सना ने बताया कि जवाबी कार्रवाई में विद्रोहियों और जिहादियों पर दागे गए रॉकेट हमलों ने पास के सरकारी शहर अलेप्पो में तीन और नागरिकों को मार डाला।

इदलिब में हिंसा कम करने का कूटनीतिक प्रयास अब तक नाकाम रहा है। इदलिब के बड़े हिस्से पर राष्ट्रपति बशर अल असद के विद्रोही गुटों का कब्जा है। इनमें एक समूह अल कायदा का सीरिया शाखा भी शामिल है।सीरिया में जारी खूनी संघर्ष रोकने के मकसद से पिछले हफ्ते रूस और तुर्की ने मिलकर इस संघर्ष विराम की घोषणा की थी, जो बीते कुछ दिनों से प्रभावी हुआ था।

वहीं, रूस द्वारा शनिवार को  विद्रोही गुट के कब्जे वाले सीरिया के इदलिब प्रांत में किए गए हवाई हमले में एक ही परिवार के चार सदस्‍यों समेत पांच नागरिकों की मौत हो गई थी। मरने वालों में तीन बच्‍चे भी शामिल थे। पांच दिनों के भीतर रूस ने आज फिर तीसरी बार एयर स्‍ट्राइक की है। 

बता दें कि उत्तर पश्चिमी सीरिया के दक्षिण इदलिब क्षेत्र में पिछले महीने भी भारी बमबारी हुई थी, जिसके बाद हजारों नागरिकों ने इलाके को छोड़ दिया था। ओसीएचए ने बताया था कि दक्षिणी इदलिब में 16 दिसंबर के बाद से एयर स्‍ट्राइक में तेजी आई जिसके बाद दक्षिण इदलिब के मारेत अल-नुमान इलाके से हजारों नागरिकों के उत्तरी प्रांत की पलायन किया। सीरियन ऑब्जर्वेटरी फॉर ह्यूमैन राइट्स की मानें तो इदलिब में सीरियाई सेना और सशस्त्र समूहों के बीच झड़पों में पिछले महीने महज एक दिन में 80 से अधिक लोग मारे गए थे।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.